झाबुआ

--Advertisement--

केवल्य ज्ञान के लिए बांधी आंखों पर पट्‌टी

बावन जिनालय में हुआ सीमंधर स्वामी की भाव यात्रा का आयोजन भास्कर संवाददाता | झाबुआ स्थानीय बावन जिनालय में...

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 04:30 AM IST
केवल्य ज्ञान के लिए बांधी आंखों पर पट्‌टी
बावन जिनालय में हुआ सीमंधर स्वामी की भाव यात्रा का आयोजन

भास्कर संवाददाता | झाबुआ

स्थानीय बावन जिनालय में रविवार को श्री सीमंधर स्वामी की भाव यात्रा का आयोजन किया गया। संघपति राजेंद्र कुमार कोठारी के निवास स्थान रामकृष्ण नगर से ढोल-ढमाकों के साथ संयम उपकरण लेकर शोभायात्रा निकाली। जिसमें सीमंधर स्वामीजी के जयकारे लगाए गए। यात्रा रामकृष्ण नगर, डीआरपी लाइन, नेहरू मार्ग, राजवाड़ा चौक होते हुए बावन जिनालय पहुंची। जहां सीमंधर स्वामीजी की भावयात्रा साध्वी मंडल के सान्निध्य में प्रारंभ हुई। साध्वीश्री पुनीतप्रज्ञाश्रीजी के मंगलाचरण से भावरूज्ञत्रा शुरू हुआ। इस बीच सभी श्रावक-श्राविकाओं ने आंखों पर पट्‌टी बांधी और भावनात्मक रूप से श्री सीमंधर धाम महाविदेह क्षेत्र में पहुंच। जहां सीमंधर स्वामी के समक्ष संयम अंगीकार किया और केवल्य ज्ञान प्राप्त हो ऐसी कामना की। इस बीच बच्चों में हिया भंडारी, चीनी रुनवाल, पर्व रुनवाल, आरणा छाजेड़, स्पर्श रुनवाल विधि सेठिया, नमन कोठारी ने आठ प्रातिहार्य बनकर प्रस्तुति दी। स्तवन गाते हुए सभी ने प्रभु की परिक्रमा की। संचालन श्री संघ अध्यक्ष संजय मेहता ने किया। आभार चातुर्मास समिति के अध्यक्ष तेजप्रकाश कोठारी ने माना।

महाविदेह क्षेत्र की यात्रा का महत्व बताया -धर्मसभा में साध्वी पुनीतप्रज्ञाश्रीजीने कहा जो व्यक्ति भावपूर्वक प्रभु सीमंधर स्वामी महाविदेह क्षेत्र की यात्रा करता है उसके कर्म कटते हैं और मानव जीवन सफल होता है। उन्होंने बताया महाविदेह क्षेत्र में साक्षात श्री सीमंधर स्वामी अभी विचरण कर रहे हैं जो उनके भावपूर्वक दर्शन करता है उसके जीवन में संसार त्याग की भावना जागृत होती है व मोक्ष मार्ग की और अग्रसर होते हैं।

X
केवल्य ज्ञान के लिए बांधी आंखों पर पट्‌टी
Click to listen..