Hindi News »Madhya Pradesh »Jhabua» बिना लाइसेंस गाड़ी चलाते मिला ड्राइवर तो परमिट निरस्त

बिना लाइसेंस गाड़ी चलाते मिला ड्राइवर तो परमिट निरस्त

नशे में वाहन चलाने वाले चालकों के लाइसेंस निरस्त करने के साथ ही अब बिना ड्राइविंग लाइसेंस के वाहन चलाने वाले...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 04:30 AM IST

नशे में वाहन चलाने वाले चालकों के लाइसेंस निरस्त करने के साथ ही अब बिना ड्राइविंग लाइसेंस के वाहन चलाने वाले ड्राइवरों के वाहन का परमिट भी निरस्त किया जाएगा। यह फैसला सड़क हादसों को रोकने के लिए लिया गया है। परिवहन आयुक्त डॉ. शेलेंद्र श्रीवास्तव ने शुक्रवार को इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिए। केंद्रीय परिवहन मंत्रालय के आदेश पर माल वाहनों की भार क्षमता 3 से 6 टन बढ़ा दिए जाने के बाद नए रजिस्ट्रेशन कार्ड(आरसी) व परमिट जारी किए जाने की प्रक्रिया भी प्रदेश भर में जारी कर गई है, इससे माल वाहनों पर 1450 से 1950 रुपए तक की फीस बढ़ जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर हादसों को नियंत्रित करने के लिए प्रदेश सरकार ने समिति बनाई है। यह समिति प्रदेश में परिवहन विभाग, ट्रैफिक पुलिस व जिला पुलिस द्वारा की जा रही कार्रवाई की निगरानी कर रही है। परिवहन आयुक्त ने अप्रशिक्षित ड्राइवरों पर नियंत्रण के लिए नए आदेश जारी किए हैं। इस आदेश के अनुसार बिना लाइसेंस व्यवसायिक व माल वाहन चलाते पकड़े जाने वाले ड्राइवरों के उन वाहनों के परमिट भी निरस्त करने के निर्देश दिए हैं। इस निर्देश पर तत्काल अमल शुरू करने व कार्रवाई की रिपोर्ट मुख्यालय भेजने को भी कहा गया है। परिवहन मंत्रालय द्वारा 16 जुलाई को माल वाहनों की भार क्षमता बढ़ा दिए जाने के बाद परिवहन आयुक्त डॉ. शैलेंद्र श्रीवास्तव ने सभी परिवहन अधिकारियों को माल वाहनों को पूर्व में जारी किए गए रजिस्ट्रेशन कार्ड व परमिट जमा करा कर नए रजिस्ट्रेशन पर परमिट जारी करने के निर्देश जारी किए हैं। इसके लिए माल वाहन से अतिरिक्त फीस भी विभाग लेगा। मंत्रालय ने 6 चक्कों से लेकर 22 चक्कों तक के सभी माल वाहनों की भार क्षमता 3 से 6 टन की वृद्वि की है।

गलत दिशा एवं सड़कों पर लापरवाही एवं तेज गति से वाहन चलाने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध भी वैधानिक कार्यवाही करने का निर्णय लिया गया। माल- वाहन यानों में यात्रियों का परिवहन करने वाले चालक ओवरलोड कर वाहन चलाते हैं। यह सड़क दुर्घटना एवं उनकी मृत्यु के प्रमुख कारण बनते हैं। इनके विरुद्ध अभियान चलाकर कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

तैयारी

मंत्रालय ने माल वाहनों की भार क्षमता बढ़ाई, नए परमिट, अारसी जारी करने के निर्देश

ट्रैक्टर चालकों पर रहेगी विशेष नजर

प्रदेश में बिना लाइसेंस ट्रैक्टर चलाने वालों के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। अक्सर ट्रैक्टर चालकों की लापरवाही से वाहन दुर्घटनाएं होती रहती है और चालकों के पास लाइसेंस नहीं हैं। ऐसे लोगों चिह्नित कर बिना लाइसेंस ट्रैक्टर चलाने वालों के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। यह निर्देश प्रदेश सरकार ने जारी किए हैं। आमतौर शादी-ब्याह या फिर किसी भी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के लोग ट्रैक्टर-ट्रॉली का इस्तेमाल करते है। जबकि ड्राइवर भी सवारियों को ट्रॉली में बैठाने के बाद रफ्तार से भागते है। ऐसे में सबसे ज्यादा हादसे होते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhabua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×