बाल विवाह रोकना सबकी जवाबदारी

Jhabua News - बाल विवाह रोकने के लिए युनिसेफ द्वारा कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें युनिसेफ के मध्यप्रदेश प्रभारी माइकल...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 03:11 AM IST
Jhabua News - mp news all the responsibility of preventing child marriage
बाल विवाह रोकने के लिए युनिसेफ द्वारा कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें युनिसेफ के मध्यप्रदेश प्रभारी माइकल जुमा ने कहा, बाल विवाह रोकना हम सबकी जवाबदारी है। आज यहां वो सब लोग हैं, जो इस काम को कर सकते हैं। जुमा ने अपना भाषण अंग्रेजी में दिया। उनके अलावा अन्य वक्ताओं ने भी भगोरिया और अन्य त्योहारों के दौरान लोगों में जनजागृति लाने को कहा।

माइकल जुमा ने कहा, बाल विवाह करने पर लड़के-लड़की दोनों के स्वास्थ्य व विकास पर असर पड़ता है। अगर लड़कियां खुद ही ये जवाबदारी लें कि वे अपने परिवारजनों के लगातार कहने पर भी कम उम्र में विवाह नहीं करेंगी तो बाल विवाह पूरी तरह से रुक सकता है। उनके भाषण को विशेष अतिथि के रूप में मौजूद युनिसेफ की चाइल्ड प्रोटेक्शन ऑफिसर अद्विता मराठे ने किया। गैस अथॉरिटी के महाप्रबंधक रामराय टूडू ने कहा, हम यह संकल्प लें कि बाल विवाह नहीं होने देंगे। कार्यक्रम को सकल व्यापारी संघ के अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने भी संबोधित किया। इतिहासकार डॉ. केके त्रिवेदी ने कहा, बाल विवाह में दहेज-दापा प्रथा के नाम पर बच्चों का क्रय-विक्रय हो रहा है। हमें इस प्रचलित बुराई को खत्म करना होगा। मंच पर यूनिसेफ मप्र के चाइल्ड प्रोटेक्शन स्पेशलिस्ट लोलीचेन पीजे, पीएमई ऑफिसर सुजान सरकार भी उपसिथत थे।

महिला ने बताए अनुभव : आयोजन में बालिका गरिमा सोनी ंमहिला दीतू सिंगाडि़़या ने अपने अनुभव साझा किए। उनके माता-पिता द्वारा विवाह कम उम्र में करवाया जा रहा था। लेकिन उन्होंने विरोध किया तो परिवार वाले माने। 21 वर्ष से अधिक उम्र की हो गई तब विवाह किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते त्रिवेदी व बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक पहुंचे।

X
Jhabua News - mp news all the responsibility of preventing child marriage
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना