शिक्षण में रोचकता नहीं, रोचकता में शिक्षण होना चाहिए

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:05 AM IST

Jhabua News - गणित के शिक्षण के लिए अभ्यास आवश्यक होता है। अध्यापन के समय विद्यार्थियों द्वारा प्रश्न किया जाना सफल शिक्षण है।...

Jobat News - mp news education should not be interesting
गणित के शिक्षण के लिए अभ्यास आवश्यक होता है। अध्यापन के समय विद्यार्थियों द्वारा प्रश्न किया जाना सफल शिक्षण है। शिक्षण में रोचकता नहीं, रोचकता में शिक्षण होना चाहिए।

ये बात गायत्री शक्तिपीठ उमावि द्वारा आयोजित शिक्षण प्रशिक्षण कार्यशाला में आलीराजपुर के बीआरसी अविनाश वाघेला ने कही। शाला प्रबंधन और गणित विषय के शिक्षण प्रशिक्षण के दौरान वाघेला ने गणित में भाषा, चिह्नों का उपयोग, लेखन कौशल के विषय में अपने विचार व्यक्त करते हुए खेल-खेल में गणित के अध्यापन की विभिन्न विधाओं से शिक्षक-शिक्षिकाओं को अवगत कराया। विद्यालय की शिक्षा समिति अध्यक्ष डॉ. शिवनारायण सक्सेना ने कहा कि गायत्री शक्तिपीठ विद्यालय का उद्देश्य समाज सेवा के उच्च आदर्शों को स्थापित करने का प्रयास करना है। यह विद्यालय ग्रामीण क्षेत्र में विगत 38 वर्षों से शिक्षा के विकास में निरंतर अग्रिम भूमिका का निर्वाह करते हुए अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा है। यहां भारतीय संस्कृति, सादा जीवन और चरित्र निर्माण पर विशेष ध्यान दिया जाता है। सामान्य ज्ञान अभिवर्धन और श्रेष्ठ संस्कारों की शिक्षा दी जाती है।

भास्कर संवाददाता | जोबट

गणित के शिक्षण के लिए अभ्यास आवश्यक होता है। अध्यापन के समय विद्यार्थियों द्वारा प्रश्न किया जाना सफल शिक्षण है। शिक्षण में रोचकता नहीं, रोचकता में शिक्षण होना चाहिए।

ये बात गायत्री शक्तिपीठ उमावि द्वारा आयोजित शिक्षण प्रशिक्षण कार्यशाला में आलीराजपुर के बीआरसी अविनाश वाघेला ने कही। शाला प्रबंधन और गणित विषय के शिक्षण प्रशिक्षण के दौरान वाघेला ने गणित में भाषा, चिह्नों का उपयोग, लेखन कौशल के विषय में अपने विचार व्यक्त करते हुए खेल-खेल में गणित के अध्यापन की विभिन्न विधाओं से शिक्षक-शिक्षिकाओं को अवगत कराया। विद्यालय की शिक्षा समिति अध्यक्ष डॉ. शिवनारायण सक्सेना ने कहा कि गायत्री शक्तिपीठ विद्यालय का उद्देश्य समाज सेवा के उच्च आदर्शों को स्थापित करने का प्रयास करना है। यह विद्यालय ग्रामीण क्षेत्र में विगत 38 वर्षों से शिक्षा के विकास में निरंतर अग्रिम भूमिका का निर्वाह करते हुए अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा है। यहां भारतीय संस्कृति, सादा जीवन और चरित्र निर्माण पर विशेष ध्यान दिया जाता है। सामान्य ज्ञान अभिवर्धन और श्रेष्ठ संस्कारों की शिक्षा दी जाती है।

जोबट में कार्यशला में मौजूद शिक्षक शिक्षिकाए व अन्य।

उत्कृष्ट अध्यापन के लिए हर साल होती है प्रशिक्षण कार्यशाला

शिक्षा समिति सदस्य जयप्रकाश शर्मा ने बताया कि प्रति वर्ष नवीन शिक्षण सत्र के प्रारंभ में उत्कृष्ट अध्यापन के उद्देश्य से शिक्षक प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित की जाती है। जिसमें अंग्रेजी, गणित, विज्ञान जैसे विषयों के अध्यापन के लिए विशेष ‌प्रशिक्षण और शाला प्रबंधन के विषय में शिक्षकों को जानकारी प्रदान की जाती है। इस वर्ष वाघेला के अतिरिक्त किरण श्रीवास्तव, सरोज राठौर और दिलिप कनेश द्वारा शिक्षक शिक्षिकाओं को प्रशिक्षण दिया गया। कुशल प्रशिक्षकों का स्वागत हिंदी माध्यम की प्राचार्य रविकांता वर्मा और ऋषभ गोस्वामी ने किया। इस अवसर पर वरिष्ठ अध्यापक मधुबाला शर्मा, उपप्राचार्य संजय परसाई, प्राथमिक विद्यालय प्रभारी आशा श्रीवास्तव सहित शिक्षक, शिक्षिकाएं और कर्मचारी मौजूद थे।

X
Jobat News - mp news education should not be interesting
COMMENT