मांगलिक कार्य बंद, अब 19 नवंबर से होगी शादियां

Jhabua News - आषाढ़ शुल्क एकादशी (देवशयनी एकादशी) से हरि (देव) शयन (चातुर्मास) काल शुक्रवार से शुरू हो गया। जो कार्तिक शुक्ल...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:00 AM IST
Jhabua News - mp news manglik work stopped now will be marriages from november 19
आषाढ़ शुल्क एकादशी (देवशयनी एकादशी) से हरि (देव) शयन (चातुर्मास) काल शुक्रवार से शुरू हो गया। जो कार्तिक शुक्ल देवप्रबोधिनी एकादशी 8 नंवबर तक रहेगा। ज्योतिषाें, विद्वानों व मान्यताओं के अनुसार देवशयन काल में शुभ कार्य नहीं हो सकेंगे। देवशयन काल में संतों का चातुर्मास चलेगा।

पं. विश्वनाथ शुक्ल ने बताया अब चार माह की अवधि में भगवान विष्णु शयन करेंगे और भगवान शिव संसार का संचालन करेंगे। चातुर्मास के दौरान महत्वपूर्ण पर्व-त्योहार आएंगे। इनमें राखी, जन्माष्टमी, गणेश उत्सव, शारदीय नवरात्रि, दशहरा, दीपावली शामिल हैं। देवशयन काल समाप्त होने के बाद 8 नवंबर को देवउठनी एकादशी पर विवाह, मांगलिक कार्य के लिए अबूझ मुहूर्त के अलावा कोई मुहूर्त नहीं है। इसके बाद 19 नवंबर से शादी-ब्याह का सिलसिला शुरू होगा जो 11 मार्च तक चलेगा। सबसे ज्यादा मुहूर्त जनवरी-2020 में आएंगे और मार्च में सबसे कम 5 मुहूर्त हैं। दिसंबर-जनवरी में धनु और मार्च-अप्रैल में मीन संक्रांति के कारण 1-1 महीने विवाह नहीं होंगे।

चातुर्मास में प्रमुख तीज-त्योहार : 16 जुलाई को खग्रास चंद्रग्रहण के साथ गुरु पूर्णिमा, 17 से सावन माह, 1 अगस्त को हरियाली अमावस्या, 5 को नागपंचमी, 15 अगस्त को राखी, 23-24 अगस्त को कृष्ण जन्माष्टमी, 25 को गोगा नवमी, 27 को बज बारस, 1 सितंबर को हर तालिका तीज, 2 को गणेश चतुर्थी, 3 को ऋषि पंचमी, 4 को हल छठ, 9 डोल ग्यारस, 14 को श्राद्ध पक्ष, 29 सितंबर से शारदीय नवरात्रि, 8 अक्टूबर दशहरा, 22 को पुष्य नक्षत्र, 25 को धन तेरस, 27 अक्टूबर दीपावली, 28 को गोवर्धन पूजन, 29 को भाईदूज, 5 नवंबर को अक्षय नवमी और 8 नवंबर को देवउठनी एकादशी व चातुर्मास का समापन हाेगा।

कब-कब विवाह के मुहूर्त


नवंबर :19, 20, 21, 22, 23, 27,28, 29, 30।

दिसंबर :1,5,6,7, 11, 12,13।

मलमास : 4 दिसंबर-2019 से 14 जनवरी-2020 तक धनु संक्रांति के कारण विवाह नहीं होंगे। इस मलमास भी कहते हैं।

मीन की संक्रांति : 14 मार्च-2020 फाल्गुन शुक्ल नवमी से 14 अप्रैल-2020 चैत्र शुक्ल नवमी तक मीन संक्रांति के कारण विवाह नहीं हो सकेंगे।


जनवरी : 15, 16, 17, 18, 19, 20, 21, 29, 30, 31।

फरवरी : 4, 9, 10, 11, 12, 13, 14, 16, 17, 18, 19, 21, 25, 26, 27।

मार्च : 2, 3 ,7 ,8, 11।

X
Jhabua News - mp news manglik work stopped now will be marriages from november 19
COMMENT