पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Jhabua News Mp News The Body Of An Elderly Man In Larki Was Found After 4 Hours Near Kachanariya 4 Km Away

लाड़की में बहे वृद्ध का शव 48 घंटे बाद 4 किमी दूर कचनारिया के पास मिला

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सोमवार सुबह से नदी में चल रही थी तलाश, आपदा प्रबंधन की टीम को भी किया था तैनात

भास्कर संवाददाता | करड़ावद

सोमवार सुबह लाड़की नदी में बहे भेरू पिता रूपा गामड़ (60) निवासी रामगढ़ का शव 48 घंटे बाद बुधवार सुबह घटना स्थल से चार किमी दूर ग्राम कचनारिया के पास नदी में मिला। शव खोजने के लिए दो दिन से परिजन और गोताखाेर लगे हुए थे।

रविवार रात हुई तेज बारिश से सोमवार सुबह लाड़की नदी उफान पर थी। भेरू बा गांव के ही दिनेश डामर के साथ नदी के पत्थर पर बैठे थे। तभी अचानक पानी बढ़ जाने से दोनों फंस गए थे। दिनेश ने तैरकर अपनी जान बचा ली थी, लेकिन भेरू बा तेज बहाव में बह गए। उसके बाद से ही उनका पता नहीं था। आपदा प्रबंधन झाबुआ की टीम के भीमसिंह गरवाल, प्रेमसिंह देवड़ा, नाथूसिंह भाबर, लक्ष्मण कटारा, मडिया देवड़ा, लालू डोडिया, तेरसिंह गामड़, मनजीत सिंह राठौर उन्हें खोज रहे थे। लेकिन दो दिन तक सफलता नहीं मिली। बुधवार सुबह ग्राम पंचायत केसरपुरा के अंतर्गत आने वाले मेलपाड़ा फलिया के चौकीदार सुखलाल खराड़ी सुबह नदी की तरफ गए तो उन्हें भेरू बा का शव नदी में तैरता नजर आया। उसने परिजन व पटवारी काे सूचना दी। मौके पर बामनिया चौकी प्रभारी नरपत जमरा पुलिस बल के साथ पहुंचे और पंचनामा बनाया। शव को पीएम के लिए पेटलावद ले जाया गया।

खेती व मजदूरी पर निर्भर है भेरू बा का परिवार

भेरू के पास परिवार के पालन पोषण के लिए थोड़ी बहुत जमीन है। जिस पर खेती कर व परिवार का पेट पालता था। मृतक अपने पीछे तीन लड़की अनिता, सीता तथा पायल व लड़के दीपक को छोड़ गया। उधर, बुधवार सुबह शव मिलने के बाद हल्का पटवारी नायक, टेमरिया हल्का पटवारी अनिता खराड़ी, करड़ावद पटवारी खेमराज भाभर पहुंचे।

खबरें और भी हैं...