• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Jhabua
  • Jobat News mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action

विधायकों की खरी-खरी... यह आरटीओ कार्रवाई नहीं करते, फोन भी नहीं उठाते, प्रभारी मंत्री बोले: संभल जाओ, नहीं तो कार्रवाई करूंगा

Jhabua News - भास्कर संवाददाता | आलीराजपुर। सरकार बनने के बाद पहली बार बुधवार को जिला योजना समिति की बैठक में अलग अलग रंग...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:05 AM IST
Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
भास्कर संवाददाता | आलीराजपुर।

सरकार बनने के बाद पहली बार बुधवार को जिला योजना समिति की बैठक में अलग अलग रंग दिखाई दिए। शुरुआत में जोबट एसडीएम प्रभारी मंत्री सुरेंद्रसिंह बघेल की नाराजगी का शिकार हुए। इसके बाद जोबट के पूर्व विधायक माधौसिंह डावर को बैठक से लौटना पड़ा। वहीं आरटीओ निर्मल कुमरावत की कार्यप्रणाली पर विधायक कलावती भूरिया और मुकेश पटेल ने भी जमकर भड़ास निकाली। जिले में ग्रामीण क्षेत्राे में पेयजल की बदहाल स्थिति को लेकर दोनों विधायक आक्रामक दिखाई दिए तो पूर्व विधायक व सांसद प्रतिनिधि नागरसिंह चौहान ने भी कई ज्वलंत मुद्दों उठाकर कई आरोप लगाए।

आरटीओ, एसपी, टीआई, एसडीएम कोई नहीं सुनता

बैठक में विधायक कलावती भूरिया ने कहा कि क्षेत्र में अवैध यात्री बसों में 150 से 200 सवारियां बैठाकर धड़ल्ले से हर दिन गुजरात की और जा रही है। छोटे वाहनों में भी ओवरलोड सवारियों का परिवहन किया जा रहा है। आरटीओ, एसपी, टीआई, एसडीएम को कई बार इस मामले से अवगत करवाया लेकिन कोई नहीं सुनता। इस पर विधायक पटेल ने भी आलीराजपुर क्षेत्र में ऐसी स्थिति होने की बात कही। दोनों विधायकोें ने कहा कि अवैध यात्री वाहनों पर प्रशासन क्या कर रहा है। विधायकों ने कहा कि आरटीओ फोन तक नहीं उठाते हैं। जिस पर मंत्री भड़क गए और आरटीओ को फटकार लगाते हुए फोन नहीं उठाने पर कहा कि अब यदि आरटीओ फोन नहीं उठाए तो तुरंत मुझे सूचना दें। मैं तत्काल कलेक्टर, एसपी व अन्य अधिकारियों से उसी समय फोन लगावाऊंगा। फिर भी फोन नहीं उठा तो कार्रवाई के लिए लिखूंगा।

जोबट एसडीएम राठौर पर भड़के मंत्री बघेल

बैठक शुरू होने से पहले ही प्रभारी मंत्री सुरेंद्रसिंह बघेल ने बंदूक लाइसेंस के एक मामले को लेकर जोबट एसडीएम पर जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने तुरंत ही एसडीएम को जोबट जाकर लाइसेंस की फाइल लाने के निर्देश दिए। मंत्री का कहना था कि मुकामसिंह निवासी खारी की बंदूक के लाइसेंस के संबंध में मैंने चार बार कहा- लेकिन फाइल आगे नहीं बढ़ी। मंत्री के तेवर देख एसडीएम राठौर जोबट जाने के लिए खड़े हो गए और अपनी सफाई देने लगे। जिसके बाद मंत्री ने शाम तक फाइल कलेक्टर के पास भेजने के निर्देश दिए।

कुछ सरपंच पर कार्रवाई को लेकर विधायकों ने जताई नाराजी

बैठक में सबसे पहले 22 सितंबर 2018 को पिछले सरकार में हुई बैठक के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा हुई। जिसमें बताया गया कि तत्कालीन आमखुट के सरपंच पर पीएम आवास में अनियमितता के मामले में धारा 40 की कार्रवाई की है। जिस पर विधायक भूरिया ने कहा कि सिर्फ कुछ सरपंचों पर ही कार्रवाई ही क्याें। ऐसे अन्य पंचायतों के मामले भी सामने आए हैं। जिसकी शिकायत मैंने की है लेकिन उस पर कार्रवाई नहीं की गई। जिस पर जिपं सीईओ ने जांच की बात कही।

गणवेश वितरण में धांधली का मुद्दा उछला: वहीं बैठक में विधायकों ने गणवेश वितरण में हुई धांधली का मुद्दा उठाया। जिस पर मंत्री ने हर स्कूल से गणवेश का सैंपल बुलवाकर उसकी गुणवत्ता और साइज की जांच करवाने के निर्देश दिए।

संबल योजना के लाभ नहीं मिलने पर हुई नोकझोंक

बैठक में सांसद प्रतिनिधि व पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान ने संबल योजना के तहत जिले में अंत्येष्टि के 5 हजार रुपए की सहायता राशि, 2 व 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता नहीं मिलने का मुद्दा उठाया कि सरकार खाते में राशि डाल रही है या नहीं। जिस पर प्रभारी मंत्री ने उनसे ऐसे मामले लिखित में देने और अगली बैठक में इसकी समीक्षा करने की बात कही। चौहान ने संबल योजना के कार्डधारियों के बिजली बिल 1 से डेढ़ हजार रुपए तक आने का आरोप लगाया। जिस पर मंत्री ने कहा कि संबल योजना को और बेहतर किया जा रहा है।

सड़कों की बदहाल स्थिति पर हुआ बवाल, नतीजा कुछ नहीं

आलीराजपुर से मथवाड़ व छकतला और जोबट नानपुर मार्ग की बदहाली पर जनप्रतिनिधियों ने जमकर भड़ास निकाली। उमराली छकतला के बीच जर्जर पुलिया को लेकर चौहान ने कहा कि उमराली का पुलिया बारिश में कभी भी गिर सकता है। इस मार्ग फायर ब्रिगेड भी नहीं जा सकता है।विधायक पटेल ने कहा कि उमराली में बायपास बनाने की जरूरत है। जिस पर अधिकारियों ने बताया कि टेंडर प्रक्रिया चल रही है और आवंटन नहीं आ रहा है।

नलजल व पेयजल योजना पर अधिकारी नहीं दे पाए जवाब

बैठक में जनप्रतिनिधियों ने गांवों में नलजल योजना और पेयजल की बदहाल स्थिति पर जमकर भड़ास निकाली। ईई पीएचई संतोष सालवे सभी नलजल योजनाओं के चालू होने का दावा करने लगे तो विधायक पटेल, भूरिया व पूर्व विधायक चौहान ने विभिन्न गांवों की योजनाओं सहित फ्लोराइड प्रभावित 34 गांवों की बदहाल स्थिति बया कर पानी वितरण में भेदभाव के आरोपी भी लगा दिए। जिस पर ईई सालवे जवाब नहीं दे पाए। जिस पर मंत्री बघेल ने योजनाओं का विधायकों की उपस्थिति में फिजीकल वेरिफिकेशन करवाने के निर्देश दिए।

आलीराजपुर. जिला योजना समिति की बैठक लेते प्रभारी मंत्री बघेल। बैठक में आरटीओ निर्मल कुमरावत की क्लास ली प्रभारी मंत्री ने, नहीं दे पाएं जवाब।

भास्कर संवाददाता | आलीराजपुर।

सरकार बनने के बाद पहली बार बुधवार को जिला योजना समिति की बैठक में अलग अलग रंग दिखाई दिए। शुरुआत में जोबट एसडीएम प्रभारी मंत्री सुरेंद्रसिंह बघेल की नाराजगी का शिकार हुए। इसके बाद जोबट के पूर्व विधायक माधौसिंह डावर को बैठक से लौटना पड़ा। वहीं आरटीओ निर्मल कुमरावत की कार्यप्रणाली पर विधायक कलावती भूरिया और मुकेश पटेल ने भी जमकर भड़ास निकाली। जिले में ग्रामीण क्षेत्राे में पेयजल की बदहाल स्थिति को लेकर दोनों विधायक आक्रामक दिखाई दिए तो पूर्व विधायक व सांसद प्रतिनिधि नागरसिंह चौहान ने भी कई ज्वलंत मुद्दों उठाकर कई आरोप लगाए।

आरटीओ, एसपी, टीआई, एसडीएम कोई नहीं सुनता

बैठक में विधायक कलावती भूरिया ने कहा कि क्षेत्र में अवैध यात्री बसों में 150 से 200 सवारियां बैठाकर धड़ल्ले से हर दिन गुजरात की और जा रही है। छोटे वाहनों में भी ओवरलोड सवारियों का परिवहन किया जा रहा है। आरटीओ, एसपी, टीआई, एसडीएम को कई बार इस मामले से अवगत करवाया लेकिन कोई नहीं सुनता। इस पर विधायक पटेल ने भी आलीराजपुर क्षेत्र में ऐसी स्थिति होने की बात कही। दोनों विधायकोें ने कहा कि अवैध यात्री वाहनों पर प्रशासन क्या कर रहा है। विधायकों ने कहा कि आरटीओ फोन तक नहीं उठाते हैं। जिस पर मंत्री भड़क गए और आरटीओ को फटकार लगाते हुए फोन नहीं उठाने पर कहा कि अब यदि आरटीओ फोन नहीं उठाए तो तुरंत मुझे सूचना दें। मैं तत्काल कलेक्टर, एसपी व अन्य अधिकारियों से उसी समय फोन लगावाऊंगा। फिर भी फोन नहीं उठा तो कार्रवाई के लिए लिखूंगा।

जोबट एसडीएम राठौर पर भड़के मंत्री बघेल

बैठक शुरू होने से पहले ही प्रभारी मंत्री सुरेंद्रसिंह बघेल ने बंदूक लाइसेंस के एक मामले को लेकर जोबट एसडीएम पर जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने तुरंत ही एसडीएम को जोबट जाकर लाइसेंस की फाइल लाने के निर्देश दिए। मंत्री का कहना था कि मुकामसिंह निवासी खारी की बंदूक के लाइसेंस के संबंध में मैंने चार बार कहा- लेकिन फाइल आगे नहीं बढ़ी। मंत्री के तेवर देख एसडीएम राठौर जोबट जाने के लिए खड़े हो गए और अपनी सफाई देने लगे। जिसके बाद मंत्री ने शाम तक फाइल कलेक्टर के पास भेजने के निर्देश दिए।

कुछ सरपंच पर कार्रवाई को लेकर विधायकों ने जताई नाराजी

बैठक में सबसे पहले 22 सितंबर 2018 को पिछले सरकार में हुई बैठक के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा हुई। जिसमें बताया गया कि तत्कालीन आमखुट के सरपंच पर पीएम आवास में अनियमितता के मामले में धारा 40 की कार्रवाई की है। जिस पर विधायक भूरिया ने कहा कि सिर्फ कुछ सरपंचों पर ही कार्रवाई ही क्याें। ऐसे अन्य पंचायतों के मामले भी सामने आए हैं। जिसकी शिकायत मैंने की है लेकिन उस पर कार्रवाई नहीं की गई। जिस पर जिपं सीईओ ने जांच की बात कही।

गणवेश वितरण में धांधली का मुद्दा उछला: वहीं बैठक में विधायकों ने गणवेश वितरण में हुई धांधली का मुद्दा उठाया। जिस पर मंत्री ने हर स्कूल से गणवेश का सैंपल बुलवाकर उसकी गुणवत्ता और साइज की जांच करवाने के निर्देश दिए।

संबल योजना के लाभ नहीं मिलने पर हुई नोकझोंक

बैठक में सांसद प्रतिनिधि व पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान ने संबल योजना के तहत जिले में अंत्येष्टि के 5 हजार रुपए की सहायता राशि, 2 व 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता नहीं मिलने का मुद्दा उठाया कि सरकार खाते में राशि डाल रही है या नहीं। जिस पर प्रभारी मंत्री ने उनसे ऐसे मामले लिखित में देने और अगली बैठक में इसकी समीक्षा करने की बात कही। चौहान ने संबल योजना के कार्डधारियों के बिजली बिल 1 से डेढ़ हजार रुपए तक आने का आरोप लगाया। जिस पर मंत्री ने कहा कि संबल योजना को और बेहतर किया जा रहा है।

सड़कों की बदहाल स्थिति पर हुआ बवाल, नतीजा कुछ नहीं

आलीराजपुर से मथवाड़ व छकतला और जोबट नानपुर मार्ग की बदहाली पर जनप्रतिनिधियों ने जमकर भड़ास निकाली। उमराली छकतला के बीच जर्जर पुलिया को लेकर चौहान ने कहा कि उमराली का पुलिया बारिश में कभी भी गिर सकता है। इस मार्ग फायर ब्रिगेड भी नहीं जा सकता है।विधायक पटेल ने कहा कि उमराली में बायपास बनाने की जरूरत है। जिस पर अधिकारियों ने बताया कि टेंडर प्रक्रिया चल रही है और आवंटन नहीं आ रहा है।

नलजल व पेयजल योजना पर अधिकारी नहीं दे पाए जवाब

बैठक में जनप्रतिनिधियों ने गांवों में नलजल योजना और पेयजल की बदहाल स्थिति पर जमकर भड़ास निकाली। ईई पीएचई संतोष सालवे सभी नलजल योजनाओं के चालू होने का दावा करने लगे तो विधायक पटेल, भूरिया व पूर्व विधायक चौहान ने विभिन्न गांवों की योजनाओं सहित फ्लोराइड प्रभावित 34 गांवों की बदहाल स्थिति बया कर पानी वितरण में भेदभाव के आरोपी भी लगा दिए। जिस पर ईई सालवे जवाब नहीं दे पाए। जिस पर मंत्री बघेल ने योजनाओं का विधायकों की उपस्थिति में फिजीकल वेरिफिकेशन करवाने के निर्देश दिए।

और इधर... मंत्री बघेल के दौरे की सूचना नहीं देने पर भड़के जिकां अध्यक्ष पटेल, मंत्री ने बंद करवाए मीडिया के कैमरे

आलीराजपुर | कांग्रेस संगठन को मंत्री के दौरे की सूचना प्रशासन द्वारा नहीं दिए जाने की बात को लेकर प्रभारी मंत्री सुरेंद्रसिंह बघेल के समक्ष जिला कांग्रेस अध्यक्ष नाराज होने लगे। मामले की गंभीरता को देखते हुए मंत्री बघेल सर्किट हाउस पर मौजूद मीडिया को कैमरे बंद करने का इशारा करते हुए कहने लगे ये क्या कर रहे हो। दरअसल मंत्री बघेल सुबह साढ़े 11 बजे जैसे ही सर्किट हाउस पहुंचे वहां मौजूद जिला कांग्रेस अध्यक्ष पटेल ने मंत्री के समक्ष नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि प्रशासन ने संगठन को न तो आपके दौरे की सूचना दी और न ही कोई महत्व दिया जा रहा है। इस दौरान वहां मौजूद मीडिया इस घटनाक्रम को कैद कर रहा था ये देखते ही मंत्री सकपका गए और मीडिया के कैमरे बंद करवाने लगे लेकिन मीडियाकर्मियों ने कैमरे बंद नहीं किए तो वे जिकां अध्यक्ष पटेल को लेकर एक कमरे में चले गए। जहां बाद में विधायक मुकेश पटेल भी पहुंचे। यहां करीब 15 मिनट तक बंद कमरे में चर्चा होती रही।

पूर्व विधायक डावर को लौटना पड़ा : वहीं दूसरी और जियोस की बैठक में पहुंचे जोबट के पूर्व विधायक माधौसिंह डावर को उस समय असहज स्थिति का सामना करना पड़ा। जब उन्हें प्रभारी मंत्री ने कहा कि आप बैठक में कैसे। जिस पर उन्होंने कहा कि मैं बतौर सांसद प्रतिनिधि बैठक में आया हूं तो प्रभारी मंत्री ने कहा बैठक में पूर्व से ही सांसद प्रतिनिधि के तौर पर पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान बैठे हैं। बैठक में सांसद के दो प्रतिनिधि कैसे बैठ सकते हैं। मंत्री ने कहा कि आप दोनों तय कर लें कि बैठक में कौन बैठेगा। जिस पर माधौसिंह डावर ने कहा कि नागरसिंह चौहान जिले का प्रतिनिधित्व करते हैं और वे ही बैठक में बैठेंगे। इसके बाद डावर बैठक में से बाहर चले गए।

व्यापारियों ने की एसडीएम से मुक्ति दिलवाने की मांग

सर्किट हाउस पर नागरिकों ने मंत्री बघेल को समस्या संबंधित आवेदन दिए। इस दौरान कट्‌ठीवाड़ा सहित अन्य क्षेत्र के व्यापारियों ने एसडीएम सैयद अशफाक अली की कार्यप्रणाली को लेकर शिकायत की कि वे कट्‌ठीवाडा में एसडीएम द्वारा व्यापारियों को जबरन प्रताड़ित किया जा रहा है। व्यापारियों ने बताया कि दिसंबर 17 में कलेक्टर के आदेश के बाद कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा फर्जी व्यापारियों एवं किसान के नाम से एक साथ फाॅर्म भरकर झूठी शिकायत की गई। जिसमें जोबट, भाबरा व आलीराजपुर के व्यापारियों की शिकायत की गई थी। सभी जगह बिना अर्थदंड के शिकायत का निराकरण किया गया है। जबकि कट्‌ठीवाडा में एसडीएम की हठधर्मिता के कारण व्यापारियों पर शिकायत 5 हजार रुपए प्रति प्रकरण का दंड लगाया जा रहा है। यहां कुल 1200 शिकायतें हैं। ऐसे में व्यापारी अर्थदंड भरने में असमर्थ हैं। इसमें अधिकतर केस गुजरात के हैं जो कि फर्जी हैं। उन पर भी दंड भरवाया जा रहा है। कट्‌ठीवाडा़ के व्यापारियों ने एसडीएम से मुक्ति दिलवाने की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि तहसील का स्टाफ हर छोटी बात पर 1500 रु. तक की रिश्वत लेता है।

अब विधायक नेे गाड़ी पकड़ी तो आरटीओ पर कार्रवाई करूंगा

मंत्री ने आरटीओ से अवैध यात्री वाहनों पर कार्रवाई के संबंध में पूछा तो उन्होंने कहा कि दो दिन पहले विधायक भूरिया से बात हुई है। इस पर मंत्री ने कहा आपने क्या कार्रवाई की। चैकिंग शुरू की क्या तो वे बोले अब कार्रवाई शुरू करूंगा। मंत्री ने कहा कि विधायक क्षेत्र में चलने वाले अवैध वाहनों को रोकें और यदि ऐसा कोई वाहन विधायक ने रुकवाया तो आरटीओ के खिलाफ कार्रवाई के लिए लिखूंगा।

Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
X
Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
Jobat News - mp news true to the legislators this rto does not take action the phone does not even lift the minister in charge said go safe otherwise i will take action
COMMENT