• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Jhabua News
  • Jhabua - पहले 50 मिनिट में रतलाम पहुंचते थे अब लग रहा सवा घंटे का समय
--Advertisement--

पहले 50 मिनिट में रतलाम पहुंचते थे अब लग रहा सवा घंटे का समय

बारिश के बाद अब वाहन चालकों के लिए परेशानी खड़ी हो गई है, इसके पीछे वजह सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे होना है। बारिश तीन माह...

Danik Bhaskar | Sep 10, 2018, 04:01 AM IST
बारिश के बाद अब वाहन चालकों के लिए परेशानी खड़ी हो गई है, इसके पीछे वजह सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे होना है। बारिश तीन माह गुजरने के बाद भी अब तक इन्हें नहीं भरा गया है। पिछले दिनों हुई बारिश के बाद करवड़-रतलाम रोड का डामर उखड़ने के बाद अब ये गड्‌ढों का रूप ले चुके हैं।

जिस सड़क पर सरपट वाहन दौड़ते थे वह अब खस्ताहाल हो चुकी है। जगह-जगह गड्ढे होने से वाहन चलाना मुश्किल हो रहा है। करीब चार साल पहले फुलमाल से रतलाम तक सड़क निर्माण पूरा हुआ था। इसके कुछ समय बाद से ही गड्‌ढे शुरू हो गए थे। वर्तमान में भी सड़क की हालत खराब हो रही है। सबसे ज्यादा खराब स्थिति करवड़-रतलाम के बीच की है। 36 किमी के इस मार्ग में 100 से ज्यादा गड्ढे हो चुके हैं, लिहाजा इस सड़क पर सफर करना मुश्किल हो गया है। पहले जहां 50 मिनिट में करवड़ से रतलाम पहुंच जाते थे वहीं अब गड्ढों के कारण सवा घंटा लग रहा है। वाहनों में भी टूट फूट हो रही है। स्थिति से वाहन चालकों को सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है। इस मार्ग का इस्तेमाल गुजरात, राजस्थान जाने के लिए किया जाता है। लिहाजा रोजाना बड़ी संख्या में ग्रामीण गुजरते हैं। इतना ही नहीं इन दिनों क्षेत्र के किसान टमाटर और मिर्च की उपज लेक रतलाम, मंदसौर, जावरा व नीमच की मंडी में अपनी उपज बेचने के लिए इसी रास्ते का इस्तेमाल करते हैं।

रतलाम रोड पर इससे पहले भी बड़े-बड़े गड्ढे हो गए थे। पिछले साल इन्हें भरने के लिए पैचवर्क किया था। लेकिन समय के साथ एक बार फिर गड्‌ढे हो गए हैं, पिछले दिनों हुई बारिश की वजह से भी गड्ढे निकल आए हैं। बारिश का सीजन सितंबर तक माना जाता है, ऐसे में आगे भी बारिश हुई तो रोड ज्यादा खराब होगा।


झाबुआ-रतलाम मार्ग : वाहनों में हो रही है टूट-फूट

झाबुआ-रतलाम के बीच बस चलाने वाले ड्रायवर नरेंद्र राठौर ने बताया गड्‌ढों की वजह से रतलाम पहुंचने में समय अधिक लग रहा है। यात्रियों को भी दचके खाने पड़ रहे हैं। रायपुरिया से रतलाम के बीच बस चलाने वाले समरथ गुर्जर ने बताया समय पर स्टैंड नहीं पहुंच पा रहे हैं, इस वजह से बस अन्य बस वालों से विवाद की स्थिति बनती है। बस चालक मांगीलाल सीनम ने बताया गड्ढों की वजह से वाहन में टूट-फूट हो रही है। दुर्घटना का अंदेशा भी बना रहता है। उन्होंने शीघ्र पैचवर्क करने की मांग की।