• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Kailaras
  • यहां होली पर 16 श्रृंगार कर गांव की परिक्रमा लगाती हैं महिलाएं
--Advertisement--

यहां होली पर 16 श्रृंगार कर गांव की परिक्रमा लगाती हैं महिलाएं

Kailaras News - कैलारस की शेखपुर पंचायत में 400 वर्ष पुरानी है परम्परा भास्कर संवाददाता | कैलारस होली के त्यौहार पर कई सामाजिक व...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 03:40 AM IST
यहां होली पर 16 श्रृंगार कर गांव की परिक्रमा लगाती हैं महिलाएं
कैलारस की शेखपुर पंचायत में 400 वर्ष पुरानी है परम्परा

भास्कर संवाददाता | कैलारस

होली के त्यौहार पर कई सामाजिक व धार्मिक परंपराएं हैं। होली के दिन रंग, अबीर, गुलाल से सने हुए पुयश व नारी दिखाई देना आम बात है। लेकिन जनपद पंचायत कैलारस की पंचायत शेखपुर जो कैलारस से मात्र 9 किलोमीटर दूर है। वहां की महिलाएं होली के दिन रंग, अबीर से सराबोर तो होती ही हैं।

साथ ही सुबह स्नान कर आए हुए रिश्तेदारों, परिवार को भोजन कराकर स्वयं सोलह श्रृंगार बिलकुल शादी जैसा करती है। दोपहर बाद इसी श्रृंगार से पूरे गांव की परिक्रमा करती हैं। यह परिक्रमा गांव व परिवार की खुशहाली के लिए की जाती है। जो विशेष आकर्षण बनती है। परिक्रमा में पुरुष आगे चलकर मजीरा व ढपली बजाते हुए कन्हैया गीत गाते हैं तो महिलाएं भजनों का गायन करती हैं। सबसे बडी बात यह है कि गांव का किसी भी समुदाय का परिवार इस कार्यक्रम से वंचित नहीं होता। कार्यक्रम के अंत में हंसली उठाना, नाल उठाने का कार्यक्रम भी होता है।

ग्रामीणों की मान्यता-इससे खुशहाल रहेगा गांव

गांव की परिक्रमा की परम्परा को संत विजयानंद ने सैकडों वर्ष पहले चालू किया था। उन्होंने गांव वालों को अपने स्वप्न के बारे में बताया कि महिलाएं अगर होली पर गांव की परिक्रमा करें तो परिवार एवं गांव खुशहाल रहेगा।

X
यहां होली पर 16 श्रृंगार कर गांव की परिक्रमा लगाती हैं महिलाएं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..