--Advertisement--

16 वाचमैन से करोड़ों रुपए के शक्कर कारखाना की सुरक्षा

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:40 AM IST


भास्कर संवाददाता | कैलारस

करोड़ों रुपए कीमत के सहकारी शक्कर कारखाना की सुरक्षा के प्रति प्रबंधन गंभीर नही हैं। कारखाना की सुरक्षा मेें तैनात कर्मचारियों को प्रबंधन समय पर वेतन भी नहीं दे रहा है। इस हाल में फैक्टरी के अंदर से मशीनरी के कल-पुर्जे चोरी हो रहे हैं। बिजली न होने के कारण रात के समय सुरक्षा गार्डों को गश्त करने में कठिनाई होती है।

कैलारस शक्कर कारखाना की सुरक्षा के लिए वर्तमान में 16 कर्मचारी अपनी सेवाएं दे रहे हैं। 16 में से पांच कर्मचारी रेग्युलर हैं और 10 मस्टर कर्मचारी। सुरक्षा अधिकारी का एक पद रेग्युलर है। दो साल पहले तक कारखाना की सुरक्षा में 22 कर्मचारी तैनात थे लेकिन उनके रिटायर होने के बाद से सुरक्षा कर्मचारियों की संख्या घटती गई।

सुरक्षा की तीन शिफ्टों में पांच-पांच कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जा रही है। ये पांच कर्मचारी, बड़े कैम्पस की सुरक्षा के लिए अपर्याप्त हैं। इसका लाभ उठाकर चोर अपने मंसूबों में सफल होने के कारण सुरक्षा कर्मचारियों की मारपीट तक कर देते हैं।

चार हजार रुपए की पगार पर काम कर रहे कर्मचारी

शक्कर कारखाना के सुरक्षा कर्मचारियों को प्रबंधन चार-चार हजार रुपए की पगार दे रहा है। कर्मचारी इस आस में नौकरी कर रहे हैं कि कारखाना जब चालू होगा तो उनकी सेवाएं नियमित बनी रहेंगी लेकिन कारखाना प्रबंधन यह नहीं देख रहा है कि कर्मचारियों को कलेक्टर रेट से भी कम वेतन पर कैसे व क्यों काम लिया जा रहा है। वेतन भी नियमित रूप से नहीं दिया जा रहा है।