--Advertisement--

गर्मी के महीनों में पूूरे घर के लिए मिलता है सिर्फ एक बाल्टी पानी

तीन किलोमीटर दूर से पानी ढो कर गांव जाते ग्रामीण। जब अनुमति ही नहीं मिली तो कैसे कराएं पानी का परिवहन

Dainik Bhaskar

May 09, 2018, 03:05 AM IST
गर्मी के महीनों में पूूरे घर के लिए मिलता है सिर्फ एक बाल्टी पानी
तीन किलोमीटर दूर से पानी ढो कर गांव जाते ग्रामीण।

जब अनुमति ही नहीं मिली तो कैसे कराएं पानी का परिवहन


20 दिन पहले सीईओ को बताया था, नहीं हुआ पानी का इंतजाम


चेटीखेरा-देवखोरी हो या तालपुरा, रोजी-रोटी की जुगाड़ से पहले पीने के पानी के लिए करना पड़ता है संघर्ष

इन गांव में भी पानी का संकट

पनिहारी पंचायत के भीतन बाबा, चेंटीखेरा, तालपुरा, काछीपुरा, निवासी पुरा में रहने वाले ग्रामीण भी गर्मी के मौसम में पानी का संकट झेल रहे हैं। इसके अलावा कैलारस जनपद क्षेत्र के डमेजर, ठाठीपुरा, किसरौली, गोल्हारी, मामचौन, डुंगरावली, गट्‌टोली आदि गांव में पानी का संकट होने के कारण पंचायत के स्तर पर परिवहन के जरिए पानी उपलब्ध कराने के प्रस्ताव जनपद सीईओ को भेजे गए, लेकिन यहां भी पानी का इंतजाम नहीं किया गया है।

यह है पानी संकट की वजह

परनिहारी पंचायत के अलावा आसपास ग्रामीण क्षेत्र में हर साल गर्मियां शुरू होते ही लोगों को पेयजल संकट से जूझना होता है। क्योंकि इस क्षेत्र का जल स्तर गिरने के कारण कुओं व हैंडपंप का पानी सूख जाता है। पहाड़ी इलाका होने के कारण यह जमीन में 400 फीट की गहराई के बाद भी पानी नहीं मिलता।

जहां संकट है, वहां हर हाल में पानी का परिवहन कराएंगे


X
गर्मी के महीनों में पूूरे घर के लिए मिलता है सिर्फ एक बाल्टी पानी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..