--Advertisement--

अनुभवी शिक्षकों को प्राथमिकता दी जाए: शिक्षक संघर्ष समिति

अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति के सदस्य अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन देते हुए। अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति के सदस्यों ने...

Dainik Bhaskar

Jun 29, 2018, 03:05 AM IST
अनुभवी शिक्षकों को प्राथमिकता दी जाए: शिक्षक संघर्ष समिति
अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति के सदस्य अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन देते हुए।

अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति के सदस्यों ने नायब तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

भास्कर संवाददाता | कैलारस

ऑनलाइन भर्ती प्रक्रिया में अनुभव शिक्षकों को प्राथमिकता दिए जानें एवं वर्तमान में जो अतिथि शिक्षक जहां कार्यरत हैं उनको वहीं नियुक्ति दिए जाने सहित अन्य मांगों को लेकर अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति के सदस्यों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम नायब तहसीलदार को ज्ञापन सौँपा।

अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति जिला मुरैना के जिला मुरैना के सदस्यों ने ज्ञापन में बताया कि अतिथि शिक्षक पिछले 12 साल से कार्य कर रहे हैं। लेकिन हमें वेतन के नाम पर हर दिन 200 रुपए दिए जा रहे हैं और वह भी समय पर नहीं मिलते हैं। वर्तमान में अतिथि शिक्षकों की जो ऑनलाइन प्रक्रिया चल रही है उसमें शिक्षकों का चयन परसेंटेज के हिसाब से किया जा रहा है। इस वजह से जो अतिथि पिछले 12 साल से अपनी सेवाएं दे रहे हैं। उनका अनुभव बेकार हो जाएगा। साथ ही हमारा वेतन में वृद्धि की जाए। इसके साथ ही विभागीय परीक्षा नियमित की जाए एवं जो अतिथि शिक्षक अप्रशिक्षित हैं उनको ऑपरेशन क्वालिटी के तहत शिक्षित किया जाए। इस मौके पर जिला अध्यक्ष अर्जुन सिंह सिकरवार, दीपेंद्र सिंह जादौन मीडिया प्रभारी, रामसेवक गौड़, भगवान सिंह, गणेश मीणा, लोकेंद्र धाकड़, राधेश्याम हरदेनिया, राजवीर सिंह, सुरेंद्र सिंह, महेश कुमार धाकड़, रघुवीर जाटव, शिखा राजपूत, शानू शर्मा सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

X
अनुभवी शिक्षकों को प्राथमिकता दी जाए: शिक्षक संघर्ष समिति
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..