Hindi News »Madhya Pradesh »Kailaras» दुकानें खुलते ही अतिक्रमण की चपेट में बाजार, आवागमन मुश्किल

दुकानें खुलते ही अतिक्रमण की चपेट में बाजार, आवागमन मुश्किल

नगर की सभी मुख्य सड़कों पर बाजार खुलते ही अस्थायी अतिक्रमण की चपेट में आ जाती हैं। बाजार खुलने के बाद दुकानदार अपना...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 06, 2018, 03:05 AM IST

दुकानें खुलते ही अतिक्रमण की चपेट में बाजार, आवागमन मुश्किल
नगर की सभी मुख्य सड़कों पर बाजार खुलते ही अस्थायी अतिक्रमण की चपेट में आ जाती हैं। बाजार खुलने के बाद दुकानदार अपना सामान दुकानों के बाहर सड़क पर सजा लेते हैं। वहीं मेन रोड पर व बाजार में हाथठेला व गुमटी वाले भी रोड पर खड़े होकर व्यवसाय करने लगते हैं। इससे बाजारों की सड़क की चौड़ाई 50 फीट 30 फीट से महज 10 या 12 व 4 से 6 फीट रह जाती है। ऐसे में लोगों का पैदल निकलना भी मुश्किल हो जाता है। दुकानदारों को कार्रवाई को लेकर कोई भय नहीं हैं। वहीं दूसरी ओर राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बता दें कि नगर की पुरानी सब्जी रोड, सुभाष मार्ग, एमएस रोड, पहाडग़ढ़ रोड सहित अन्य मार्गों पर रोजाना अस्थायी अतिक्रमण कर लिया जाता है। जिससे बाजार में खरीददारी करने आने वाले लोगों का निकलना मुश्किल हो जाता है। जबकि अस्थायी अतिक्रमण हटाने के लिए कई बार नगरीय प्रशासन व प्रशासन को अवगत कराया गया है। इसके बाद भी अतिक्रमण हटाने के लिए नप द्वारा मुहिम नहीं चलाई जा रही है। यदि माह में एक दो बार कार्रवाई की जाए, तो अस्थायी अतिक्रमण पर काबू पाया जा सकता है। खासबात यह कि नगरीय प्रशासन ने करीब एक साल से अतिक्रमण हटाने के लिए कोई मुहिम नहीं चलाई है। जिससे दुकानदारों व हाथठेला संचालकों के हौंसले बुलंद हैं। कार्रवाई के नाम से कोई भी भय नहीं हैं।

नगरीय प्रशासन अस्थायी अतिक्रमण हटाने के लिए नहीं चलाता मुहिम, हर रोज बाजार में आने वाले लोग होते हैं परेशान

दुकानदारों ने सड़कों पर सामान रखकर किया अतिक्रमण, राहगीर हो रहे परेशान।

आवागमन होता है बाधित

पुरानी सब्जी मंडी रोड व एमएस रोड पर अतिक्रमण के कारण व अस्थायी वाहन खड़े रहने से आवागमन बाधिक होता है। साथ ही में जाम के हालात भी बनते हैं। अतिक्रमण को लेकर कई बार नप में अधिकारियों से शिकायत भी की गई है। लेकिन ध्यान नहीं दिया जा रहा है। राजेंद्र प्रसाद शुक्ला, पूर्व पार्षद नप कैलारस

कार्रवाई न होने से बन रहे जाम के हालात

गांधी मार्ग के अलावा अन्य रोड पर अतिक्रमण व बैंक की शाखा होने से पैदल निकलना भी मुश्किल होता है। नप द्वारा स्थाई कार्रवाई न करने से यह स्थिति बनती है, रोड को खाली रखने के लिए स्थाई रूप से कार्रवाई होनी चाहिए। राजू गुप्ता, विधायक प्रतिनिधि कैलारस

हमने किया प्रयास, प्रशासन का नहीं मिला सहयोग

यह बात सही है कि नगर के अतिक्रमण की वजह से हालात खराब है। हमारे द्वारा नगर के में अतिक्रमण हटाने का प्रयास किया गया था, लेकिन राजनैतिक व प्रशासन के द्वारा सहयोग नहीं मिला। जिसकी वजह से अतिक्रमण को हटाने के लिए प्रयास पूरे नहीं हो पा रहे हैं। अशोक तिवारी, पूर्व अध्यक्ष नगर परिषद कैलारस

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kailaras

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×