--Advertisement--

माकपा नेताओं पर कार्रवाई का विरोध, तीन को सुभाषिनी आएंगी

वामपंथी व जनवादी व सामाजिक संगठनों के लोगों के खिलाफ तहसील कोर्ट में पुलिस ने इस्तगासे किए हैं पेश भास्कर...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:20 AM IST
वामपंथी व जनवादी व सामाजिक संगठनों के लोगों के खिलाफ तहसील कोर्ट में पुलिस ने इस्तगासे किए हैं पेश

भास्कर संवाददाता | मुरैना

दो अप्रैल के भारत बंद को लेकर कैलारस पुलिस ने वामपंथी, जनवादी व सामाजिक संगठनों के दर्जनभर नेताओं व पदाधिकारियों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई के इस्तगासों का विरोध शुरू हो गया है। तीन मई को माकपा सांसद सुभाषिनी अली मुरैना आकर इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों से चर्चा करेंगी।

कैलारस पुलिस ने मध्यप्रदेश किसान सभा के प्रांतीय महासचिव व पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष अशोक तिवारी, व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष राजेश गुप्ता, माकपा के नगर सचिव महेश प्रजापति, किसान नेता ओमप्रकाश श्रीवास,बसपा नेता नंदलाल खरे, कांग्रेस नेता भगरीलाल जाटव को शांतिभंग में आरोपित कर उनके खिलाफ धारा 107-116 दप्रसं के इस्तगासे तहसीलदार कोर्ट में पेश किए हैं।

पुलिस की इस कार्रवाई पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए माकपा के जिला सचिव गय राम सिंह धाकड़ ने कहा है कि यह तो भाजपा सरकार व उसके प्रशासन का फांसीवादी चेहरा है। जिन राजनीतिक लोगों का उपद्रव से कोई लेना-देना नहीं रहा पुलिस उन्हें बाउंड ओवर कराने की प्रक्रिया चला रही है। इसका कड़ा विरोध किया जाएगा।

इस तारतम्य में माकपा सांसद सुभाषिनी अली दो व तीन मई को ग्वालियर-चंबल संभाग के दौरे पर आ रही हैं। मुरैना में तीन मई को सांसद अली, प्रशासनिक अधिकारियों से चर्चा करेंगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..