--Advertisement--

राठौर समाज की बैठक आज

राठौर समाज की बैठक आज मुरैना | राठौर समाज की बैठक रविवार को आयोजित की जा रही है।दुर्गादास राठौर जयंती समारोह...

Danik Bhaskar | Jul 15, 2018, 03:50 AM IST
राठौर समाज की बैठक आज

मुरैना | राठौर समाज की बैठक रविवार को आयोजित की जा रही है।दुर्गादास राठौर जयंती समारोह आयोजित किए जाने के लिए बैठक में समाजबंधुओं से चर्चा की जाएगी। यह बैठक रविवार को शाम 5 बजे राठौर कालोनी राठौर धर्मशाला में होगी। समाजबंधुओं का कहना है कि इस बार जयंती के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय कार्यक्रम आयोजित होंगे। जयंती 13 अगस्त को है। कार्यक्रम की शुरूआत 10 अगस्त से होगी। पहले दिन नशा मुक्त मिनी मैराथन दौड़ का आयोजन कराया जाएगा। दूसरे दिन महिला समागम एवं 12 अगस्त को जयंती के उपलक्ष्य में चल समारोह निकाला जाएगा। कार्यक्रम को भव्य बनाने के लिए समाजबंधुओं से बैठक में विचार-विमर्श किया जाएगा। सभी समाजबंधुओं से बैठक में शामिल होने की अपील की गई है।

पेयजल समस्या का हो समाधान

मुरैना | वनखंडी रोड की ठाकुर गली में पेयजल समस्या का निराकरण किए जाने की मांग अनुसूचित जाति जनजाति प्रकोष्ठ ने की है। इस संबंध में मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन भी भेजा गया है। जिसमें कहा गया है कि ठाकुर गली में छह महीने पहले पाइप लाइन डाल दी गई लेकिन पानी नहीं मिल रहा। इसके अलावा शासकीय हैंडपंपों के लिए इलाके में बोर बराए गए लेकिन इनमें दबंगों ने मोटर डाल ली हैं। इस कारण अनुसूचित जाति जनजाति वर्ग के परिवारों को पानी के लिए तरसना पड़ रहा है। लोगों का कहना है कि नगरनिगम को इस समस्या से कई बार वाकिफ कराया गया लेकिन समस्या का समाधान नहीं कराया जा रहा।

सद््भावना दिवस के रूप में मनाएंगे हर्षाना का जन्मदिन, बांटेंगे फल

मुरैना | रचनात्मक लोक विस्तार समिति के सदस्य वीरेंद्र सिहं हर्षाना रान्सू का जन्मदिन सद्भावना दिवस के रूप में मनाया जाएगा। कार्यक्रम संयोजक बाजीद खान ने बताया कि 15 जुलाई को जन्मदिन के मौके पर सुबह 9 बजे स्थानीय वृद्ध आश्रम एवं दृष्टिहीन विद्यालय पहुंचकर फल वितरण किया जाएगा। दोपहर एक बजे मित्तल धर्मशाला में कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। जहां सामाजिक एकता का प्रतीक के रूप में जन्मदिन को सद्भावना दिवस के रूप में मनाया जाएगा। जिसमें शहर के बुद्धिजीवी, वरिष्ठ समाज सेवी शामिल रहेंगे।

मंडल संयोजक किए गए घोषित

मुरैना | प्रधानमंत्री जन कल्याण प्रकोष्ठ के जिला संयोजक आशीष कुलश्रेष्ठ ने मंडल संयोजकों की घोषणा की है। जिसके अनुसार वेदप्रकाश सिहं तोमर को अंबाह का मंडल संयोजक बनाया गया है। जबकि विपिन पांडेय को कैलारस, अशवेन्द्र सिंह सिकरवार को नैपरी व साहब सिंह यादव को पहाडग़ढ़ का मंडल संयोजक नियुक्त किया गया है। वहीं कैलारस के मंडल संयोजक गौरव सिंह चौहान को जिला कार्य समिति सदस्य एवं जिला प्रभारी उज्जवला योजना के पद पर नियुक्त किया गया हे। नियुक्तियों पर संगठन के पदाधिकारी व सदस्यों ने हर्ष व्यक्त किया है। नवनियुक्त पदाधिकारियों ने कहा है कि वह पूरी निष्ठा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे।

गणेशपुरा में हो रहा जलभराव

मुरैना | गणेशपुरा इलाके में जलभराव होने के कारण लोगों को आवागमन मे परेशानी हो रही है। यह समस्या लंबे समय से बनी हुई है। एक्सीलेंस स्कूल के पीछे के इलाके में नालियां चौक होने के कारण गंदा पानी उफनकर सड़कर पर आ रहा है। जिससे आवागमन बाधित हो रहा है। दो पहिया वाहन यहां से निकलते समय स्लिप हो जाते हैं और लोग चोटिल होते हैं। समस्या को लेकर नगरनिगम अधिकारियों से कई बार शिकायत की गई। अधिकारियों द्वारा समस्या का निराकरण किए जाने का आश्वासन तो दिया जाता है लेकिन समाधान करने के कोई प्रयास नहीं किए जा रहे।

अघोषित बिजली कटौती से लोग परेशान

मुरैना | शहर में अघोषित बिजली कटौती के कारण लोग परेशान है। व्यापारियों में खासा आक्रोश है और वह न्यायालय की शरण में जाने का मन बना रहे हैं। क्योंकि इंडस्ट्रीयल क्षेत्र में बिजली कंपनी द्वारा की जाने वाली कटौती से व्यापारियों को करोड़ों रुपए का नुकसान हो रहा है। उन्होंने इस संबंध में अधिकारियों से कई बार शिकायत भी की है लेकिन वह रवैये में सुधार नहीं कर रहे। वहीं आम जनमानस को भी अघोषित बिजली कटौती के कारण परेशानी हो रही है।

गलतियों से डगमगाता आत्मविश्वास और कम होती है ऊर्जा: साध्वी देवादिति

अंबाह (मुरैना) | युवा मन चंचल और चहुंओर चलायमान होता है। सही-गलत का निर्णय करने में उलझ जाता है। उलझन में हम गलत रास्ते की ओर अधिक मुड जाते हैं और गलत मार्ग पर चलकर अपने अंदर की अच्छी ऊर्जा का क्षय करने लगते हैं। जब अच्छी ऊर्जा क्षय होती जाती है और बुरी ऊर्जा में वृद्धि हो जाती है बुरी ऊर्जा के कारण ही चिंता, अवसाद, विस्मृति और शारीरिक अक्षमताओं में तेजी से विकास होने लगता है। गलतियां आत्मविश्वास को डगमगा देती हैं और आत्मविश्वास डिगते ही हम सफल कम असफल ज्यादा होते हैं। यह बात शनिवार को युवा प्रेरक उदबोधन के दौरान साध्वी देवादिति ने कही।