Hindi News »Madhya Pradesh »Kailaras» 10 लाख रुपए क्रीड़ा शुल्क वसूल रहे छात्रों से, खेल खिलाने के लिए मात्र 15 पीटीआई

10 लाख रुपए क्रीड़ा शुल्क वसूल रहे छात्रों से, खेल खिलाने के लिए मात्र 15 पीटीआई

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 04:00 AM IST

विभाग ने डेढ़ दशक से खेल अफसरों के पद पर नहीं की भर्ती

इसके चलते जिले के 121 स्कूलों में पीटीआई नहीं हैं।

भास्कर संवाददाता | मुरैना

हायर सेकंडरी व हाईस्कूल में पढ़ रहे छात्रों से प्रति वर्ष 10 से 12 लाख रुपए क्रीड़ा शुल्क वसूला जाता है। बावजूद इसके स्कूलों में खेल विषय की गतिविधियों के लिए पीटीआई पदस्थ नही हैं। यही कारण है कि जिले से खेल क्षेत्र में नई प्रतिभाएं निकलकर प्रदेश स्तर पर नहीं पहुंच पा रही हैं।

मुरैना जिले में 68 हायर सेकंडरी व 68 हाईस्कूल संचालित हैं। 136 स्कूलों के लिए कायदे से इतनी ही संख्या में फिजीकल ट्रेनिंग इंस्ट्रक्टर पदस्थ होने चाहिए लेकिन मात्र 15 स्कूलों में ही पीटीआई पदस्थ हैं। इस हाल में 121 स्कूलों में खेल विषय नहींं पढ़ाया जा रहा है। यह स्थिति आज-कल की नहीं बल्कि बीते 15 बरसों से चल रही है। 100 से अधिक स्कूलों से किसी भी खेल विधा के खिलाड़ी बच्चे जिला स्तर पर खेलने के गुर नहीं सीख पाए हैं।

स्कूलों में नहीं खेल का सामान :

100 से अधिक हायर सेकंडरी व हाईस्कूलों में छात्रों से क्रीड़ा शुल्क तो वसूला जा रहा है लेकिन उसके एवज में छात्र-छात्राओं के खेल के लिए क्रिकेट किट, हॉकी, वॉलीबॉल व फुटबॉल तथा बास्केट बॉल आदि सामान उपलब्ध नही है। यहां तक कि छात्रों को कबड्डी ,खो-खो, लोंग जंप व हाई जंप की प्रेक्टिस भी नहीं करायी जाती है।

18 स्कूलों में हैं पीटीआई

अंबाह : एक्सीलेंस स्कूल, जग्गापुरा।

पोरसा : रजौदा।

मुरैना : एक्सीलेंस, नंबर दो स्कूल, मिरघान व नायक पुरा।

जौरा : एक्सीलेंस, सुमावली, मॉडल स्कूल।

कैलारस : गर्ल्स हायर सेकंडरी, मॉडल स्कूल, कुटरावली, सुजरमा।

सबलगढ़ : रामपुर व गुरैमा ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kailaras

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×