कैलारस

--Advertisement--

गांव के रास्ते में भरा पानी ट्रैक्टर से ले जाते हैं अस्पताल

सिंगरौली गांव में कच्चे रास्ते से अर्थी ले जाते ग्रामीण। पहाड़गढ़ क्षेत्र के सिंगरौली गांव में नहीं है पक्का...

Dainik Bhaskar

Aug 01, 2018, 04:01 AM IST
गांव के रास्ते में भरा पानी ट्रैक्टर से ले जाते हैं अस्पताल
सिंगरौली गांव में कच्चे रास्ते से अर्थी ले जाते ग्रामीण।

पहाड़गढ़ क्षेत्र के सिंगरौली गांव में नहीं है पक्का रास्ता

भास्कर संवाददाता | मुरैना

पहाड़गढ़ क्षेत्र के सिंगरौली गांव में पक्का रास्ता न होने से इन दिनों पानी भरा हुआ है। जिसकी वजह से मरीजों को चारपाई और ग्रामीण ट्रैक्टर-ट्रॉली से अस्पताल ला रहे है।

ताजा मामला मंगलवार का है। गांव में रहने वाली चांदनी परमार नामक महिला को सुबह के वक्त प्रसव पीड़ा होने लगी। लेकिन गांव के रास्ते पर पानी व कीचड़ भरा था, जिसकी वजह से ग्रामीण आनन-फानन में महिला को चारपाई और फिर ट्रैक्टर-ट्रॉली में खटिया पर लेटाकर कैलारस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर आए, तब उसकी डिलीवरी हो सकी। गांव की इस ज्वलंत समस्या को लेकर मंगलवार की दोपहर ही ग्रामीणजन ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से मुरैना जनसुनवाई में आए और जिला पंचायत सीईओ सोनिया मीणा को आवेदन देकर गांव में पक्का रास्ता बनवाने की मांग की।

कीचड़ से होकर शवयात्रा मुक्तिधाम ले जाते लोग

यहां बता दें कि सिंगरौली गांव में ही 3 दिन पहले प्रशांत पुत्र वीरसिंह सिकरवार की बीमारी से मौत हो गई थी। गांव के रास्ते पर कीचड़ व पानी भरा था। लेकिन ग्रामीणजन मजबूरी में इसी गंदे पानी के बीच से शव का अंतिम संस्कार करने मुक्तिधाम तक पहुंचे।

X
गांव के रास्ते में भरा पानी ट्रैक्टर से ले जाते हैं अस्पताल
Click to listen..