• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Kailaras
  • सबलगढ़ जौरा विस के बीच झूल रहा कैलारस नगर, विकास के नाम पर मिले सिर्फ वादे

सबलगढ़-जौरा विस के बीच झूल रहा कैलारस नगर, विकास के नाम पर मिले सिर्फ वादे / सबलगढ़-जौरा विस के बीच झूल रहा कैलारस नगर, विकास के नाम पर मिले सिर्फ वादे

Bhaskar News Network

Jun 23, 2018, 04:25 AM IST

Kailaras News - वर्ष 1967 से 2008 तक शक्कर कारखाने की वजह से मशहूर कैलारस नगर राजनैतिक उदासीनता की वजह से विकास की दृष्टि से पिछड़ रहा है।...

सबलगढ़-जौरा विस के बीच झूल रहा कैलारस नगर, विकास के नाम पर मिले सिर्फ वादे
वर्ष 1967 से 2008 तक शक्कर कारखाने की वजह से मशहूर कैलारस नगर राजनैतिक उदासीनता की वजह से विकास की दृष्टि से पिछड़ रहा है। विगत आठ साल से शक्कर कारखाना बंद रहने से क्षेत्रीय किसानों को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है, वहीं नगर में सिविल न्यायालय, ट्रेजरी, गर्ल्स कॉलेज सहित अस्पताल में ब्लड बैंक जैसी सुविधाएं नहीं है। यहां रहने वाले सामाजिक विश्लेषकों का मानना है कि कैलारस नगर पूर्व में सबलगढ़ विधानसभा क्षेत्र में आता था, वहीं नए परसीमन के बाद इसे जौरा विधानसभा में शामिल कर दिया गया। इन विधान सभाओं में कांग्रेस व भाजपा जैसी बड़ी पार्टियों के विधायक चुनकर आए, लेकिन कैलारस का विकास करने किसी ने भी ठोस कदम नहीं उठाए।

नगर सहित 32 पंचायत शामिल हैं जौरा विधानसभा क्षेत्र में: कैलारस जनपद क्षेत्र में 65 ग्राम पंचायतें शामिल हैं। जिसमें 32 ग्राम पंचायतें जौरा विधानसभा क्षेत्र में शामिल हैं तथा 33 ग्राम पंचायतें सबलगढ़ विधान सभा क्षेत्र में आती हैं। वर्तमान में कैलारस नगर में मतदाताओं की संख्या 20 हजार से अधिक हो चुकी है, वहीं 32 ग्राम पंचायतों में 40 हजार मतदाता निवासरत हैं। इस लिहाज से कैलारस तहसील में 60 जौरा विधान सभा क्षेत्र के 60 हजार से अधिक मतदाता निवास करते हैं। बावजूद इसके विकास की दृष्टि से कैलारस पिछड़ हुआ है।

60 हजार मतदाता होने के बाद भी विकास से अछूता कैलारस

कैलारस में आठ साल से बंद पड़ा कैलारस शक्कर कारखाना।

25 साल सबलगढ़ विधानसभा में रहा कैलारस

बता दें कि वर्ष 1972 से 2007 तक कैलारस नगर सबलगढ़ विधान सभा क्षेत्र में शामिल रहा। इसके बाद हुए परसीमन (वर्ष 2008 से) में इसे जौरा विधान सभा क्षेत्र में शामिल कर दिया गया। इसके पीछे एक वजह यह भी रही कि सबलगढ़ से कैलारस की दूरी 22 किलोमीटर है, वहीं जौरा से कैलारस की दूरी 18 किलोमीटर रह जाती है।

इन सुविधाओं के बगैर परेशानी झेल रही नगर की जनता




ब्लड बैंक की सुविधा नहीं: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ब्लड बैंक की सुविधा नहीं होने से दुर्घटना में घायल एवं गंभीर मरीजों को जिला अस्पताल रैफर करना पड़ रहा है।

घोषणाओं तक सीमित हैं मुख्यमंत्री के वादे


अब मतदाता अपना निर्णय देंगे


नगर को सुविधाएं नहीं मिलीं


X
सबलगढ़-जौरा विस के बीच झूल रहा कैलारस नगर, विकास के नाम पर मिले सिर्फ वादे
COMMENT