• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Kannod News
  • बस अधिग्रहण : नहीं चली बसें, परेशान हुए ग्रामीण, लोडिंग में करना पड़ी यात्रा
--Advertisement--

बस अधिग्रहण : नहीं चली बसें, परेशान हुए ग्रामीण, लोडिंग में करना पड़ी यात्रा

कुसमानिया | स्थानीय बस स्टैंड से प्रतिदिन करीब 20 बसें कन्नौद-आष्टा मार्ग पर संचालित हैं। जो कि हरदा, भोपाल, देवास...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:40 AM IST
कुसमानिया | स्थानीय बस स्टैंड से प्रतिदिन करीब 20 बसें कन्नौद-आष्टा मार्ग पर संचालित हैं। जो कि हरदा, भोपाल, देवास शुजालपुर, खंडवा आदि स्थानों को जोड़ती है। सोमवार को शाजापुर किसान सम्मेलन में अधिग्रहण करने से इस मार्ग पर चलने वाली बसों में से करीब 10 बसें ही चलीं। इससे शादी-विवाह के सीजन के चलते सवारियां दिनभर परेशान होती रही। सवारियों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में अन्य साधनों का सहारा लेकर यात्रा करनी पड़ी। मनमाना किराया देना पड़ा। ग्रामीण क्षेत्रों में चलने वाली बसें भी इक्का-दुक्का ही चली।

बागली से 32 से अधिक बसें की गई अधिग्रहित, यात्री हुए परेशान : बागली। शाजापुर में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के कार्यक्रम के लिए 32 से अधिक बसें अधिग्रहित की गई। जिस कारण इंदौर व देवास रूट की कई बसें उपलब्ध नहीं थी। जिस कारण विवाह समारोह की अधिकता के चलते मुसाफिरों को समस्याओं का सामना करना पड़ा। बागली निवासी शिव शर्मा ने बताया कि सुबह जल्दी इंदौर जाना था। लेकिन बस ही नहीं थी। बाद में किसी तरह चापड़ा होकर इंदौर की बस पकड़ी। खड़े-खड़े जाना पड़ा। शक्तिराजसिंह ने बताया कि परिवार को एक विवाह समारोह में देवास जाना था। लेकिन बस नहीं मिली बाद में निजी टैक्सी से जाना पड़ा।

कुसमानिया से विक्रमपुर तक लोडिंग वाहन में जाना पड़ा ग्रामीणों को।