• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Kannod News
  • Kannod - लोक अदालत : प्रकरणों का हुआ निराकरण, परिवारों की दूरियां मिटीं
--Advertisement--

लोक अदालत : प्रकरणों का हुआ निराकरण, परिवारों की दूरियां मिटीं

देवास सहित अंचल में नेशनल लाेक अदालत लगी। जिला मुख्यालय पर शुभारंभ जिला न्यायाधीश डी.के. पालीवाल ने किया। विशेष...

Danik Bhaskar | Sep 09, 2018, 02:55 AM IST
देवास सहित अंचल में नेशनल लाेक अदालत लगी। जिला मुख्यालय पर शुभारंभ जिला न्यायाधीश डी.के. पालीवाल ने किया। विशेष न्यायाधीश योगेशचंद्र गुप्त, प्रधान न्यायाधीश फेमिली कोर्ट एमएसए अन्सारी, सचिव सेवा प्राधिकरण शमरोज खान, अपर जिला न्यायाधीश प्रिवेन्द्र कुमार सेन, गंगाचरण दुबे, विकास भटेले, जगदीश अग्रवाल, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कंचन सक्सेना एवं न्यायाधीश हेमराज सनोडिया, कविता इवनाती, पद्मा राजौरे तिवारी, एके खेरिया, मनीष कुमार सिंह, संजोगसिंह वाघेला, अनुष्का शर्मा, नदीम जावेद खान, एडवाेकेट दीपक नाईक, डीडीपी अजयसिंह भंवर अादि उपस्थित थे।

देवास एवं तहसील स्तर पर सोनकच्छ, कन्नौद, खातेगांव, टोंकखुर्द एवं बागली में 30 न्यायिक खंडपीठों का गठन किया गया था जिसमें लंबित प्रकरणों में से 4721 प्रकरण एवं 6267 प्रीलिटिगेशन प्रकरण निराकरण के लिए रखे गए। आपसी सुलह समझौते और राजीनामा द्वारा लंबित प्रकरणों में से 4 कराेड़ 93 लाख 24 हजार 370 रु. के 1474 लंबित प्रकरण एवं 2 कराेड़ 11 लाख 1682 रू. के 3314 प्री-लिटिगेशन प्रकरण निराकृत किए गए।

निगम ने 1.10 करोड़ रु. से अधिक वसूले

नेशनल लोक अदालत अंतर्गत नगर निगम देवास को शहर के भवन, भूस्वामियों द्वारा अपने बकाया संपत्तिकर, जलकर की राशि के रूप में 1 करोड़ 10 लाख से अधिक के राजस्व वसूला। संपत्तिकर शाखा के अनुसार संपत्तिकर के रूप में 80 लाख की राशि प्राप्त हुई एवं जलकर के रूप में 30 लाख जलकर दाताओं द्वारा जमा कराए गए। दुकान किराया 2 लाख आदि के प्राप्त हुए हैं।