Hindi News »Madhya Pradesh »Khachrodh» 10.30 बजे शुरू होना था प्रशिक्षण, चार सेंटरों पर लगे रहे ताले, वॉट्सएप के भरोसे रहे, सूचना ही नहीं दी

10.30 बजे शुरू होना था प्रशिक्षण, चार सेंटरों पर लगे रहे ताले, वॉट्सएप के भरोसे रहे, सूचना ही नहीं दी

ताले लगे हाेने से बाहर बैठी प्रशिक्षु शिक्षिकाएं। भास्कर संवाददाता | खाचरौद राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 05:25 AM IST

10.30 बजे शुरू होना था प्रशिक्षण, चार सेंटरों पर लगे रहे ताले, वॉट्सएप के भरोसे रहे, सूचना ही नहीं दी
ताले लगे हाेने से बाहर बैठी प्रशिक्षु शिक्षिकाएं।

भास्कर संवाददाता | खाचरौद

राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्था (एनआईओएस) द्वारा आरटीई अधिनियम के तहत अशासकीय विद्यालयों के अप्रशिक्षित शिक्षकों का डीएलएड प्रशिक्षण शनिवार को समाप्त हो गया। वहीं अप्रशिक्षित शिक्षकों को प्रशिक्षण के बाद विभिन्न जानकारियां उपलब्ध कराने के लिए 1 अप्रैल से कार्यशाला का आयोजन किया जाना था, लेकिन विभाग के जवाबदारों की लापरवाही से रविवार को खाचरौद के 5, ग्राम घिनोदा व ग्राम आक्याजागीर केंद्र पर सुबह 11 बजे तक ताले लटके रहे। भास्कर द्वारा जब मामले की पड़ताल की तो पता चला कि जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्था (डाइट) के प्रशिक्षण प्रभारी ने कार्यशाला को गंभीरता से नहीं लिया और इसकी समय पर किसी को भी सूचना नहीं दी गई।

शाम 5 बजे मिली थी सूचना

सुबह 10.35 बजे भास्कर टीम शासकीय उत्कृष्ट उमावि पहुंची तो यहां स्कूल के दोनों चैनल गेट पर ताले लगे थे। प्राचार्य व बीईओ अर्जुनसिंह सोलंकी से बात कि गई तो उन्होंने बताया कार्यशाला की सूचना शनिवार शाम 5 बजे मिली थी, इसलिए अब सूचना देकर प्रशिक्षुओं को बुला रहे हैं। करीब 10.40 बजे पांच प्रशिक्षु शिक्षिकाएं आईं लेकिन ताला देखकर विद्यालय परिसर में ही पेड़ की छांव में बैठ गई। इसके बाद 10.50 बजे शिक्षक सुरेश नागर आए और गेट पर ताला देखकर पेड़ की छांव में खड़े हो गए। 10.55 बजे के समय विद्यालय की महिला कर्मचारी आई और चैनल गेट का ताला खोल दिया। जिसके बाद प्रशिक्षु शिक्षिकाएं कक्षा में चली गईं। 11.10 बजे बाद प्रशिक्षु शिक्षकों तथा प्रशिक्षण देने वाले शिक्षक ईश्वरलाल सोलंकी, विक्रम मकवाना भी विद्यालय पहुंच गए। करीब 11.30 बजे बाद कार्यशाला प्रारंभ हुई, परंतु कार्यशाला में भी नाममात्र के ही प्रशिक्षु पहुंच पाए। वहीं दूसरी ओर प्राचार्य सोलंकी के अनुसार सुबह 10.30 बजे से स्कूल के ताले खुल चुके थे और कार्यशाला भी समय पर ही शुरू हो गई थी।

सुबह 11.30 शुरू हुई कार्यशाला में उपस्थित अप्रशिक्षित शिक्षक- शिक्षिकाएं।

सरस्वती शिशु मंदिर केंद्र पर दोपहर 12.30 बजे तक लगा ताला।

सूचना नहीं मिली तो नहीं हुई कार्यशाला

शासकीय आदर्श कन्या उमावि में सुबह 10.30 से दोपहर 12.30 बजे तक स्कूल के दोनों गेट पर ताले लगे थेे। प्राचार्य आनसिंह बघेल बताया सोशल मीडिया पर कार्यशाला को लेकर प्रशिक्षण प्रभारी प्रकाश लोहाणी से मार्गदर्शन मांगा था, उन्होंने कोई मार्गदर्शन नहीं दिया तो प्रशिक्षुओं को कार्यशाला की कोई जानकारी भी नहीं दी गई। खाचरौद के सरस्वती शिशु मंदिर विद्यालय, आक्याजागीर के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में रविवार को दिनभर ताले लगे मिले। प्रभारी प्राचार्य अनिल परमार के मुताबिक उन्हें कार्यशाला के संबंध में डाइट से कोई स्पष्ट निर्देश नहीं मिले हैं। गांव घिनोदा के शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल में भी 11.30 बजे तक ताले लगे थे। खाचरौद के मोती कस्तूरी हायर सेकंडरी स्कूल में भी कार्यशाला दोपहर में ही शुरू हो पाई। जबकि शनिवार शाम 4 बजे बाद से ही अप्रशिक्षित शिक्षकों को विभिन्न जानकारियां उपलब्ध कराने के लिए होने वाली कार्यशाला के दिनांक और समय की विवरणिका सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी थी, परंतु जवाबदारों ने इसे गंभीरता से नहीं लिया और प्रशिक्षण की तरह औपचारिकता पूरी की गई।

शनिवार का प्रशिक्षण हुआ रविवार को

अशासकीय विद्यालयों के अप्रशिक्षित शिक्षकों का डीएलएड प्रशिक्षण नगर व जिलाभर के लगभग सभी केंद्रों पर शनिवार को समाप्त हो गया हैं। लेकिन इंपीरियल इंटरनेशनल स्कूल में शनिवार को प्रशिक्षण नहीं दिया गया, औपचारिक रूप से यह प्रशिक्षण रविवार सुबह 11 से दोपहर 1 बजे के बीच देकर समाप्त कर दिया गया। जबकि प्रशिक्षण समाप्त होने के बाद रविवार से 12 दिवसीय कार्यशाला प्रारंभ करना था। जिसके बारे में प्राचार्या शिल्पिका मैसी का कहना हैं कि कार्यशाला 2 अप्रेल से 13 अप्रेल तक लगाई जाएगी।

इंपीरियल स्कूल में दोपहर 1.24 बजे के समय खाली पड़ी डीएलएड कक्षा।

शा. कन्या उमावि के गेट पर लगा ताला।

वॉट्सएप से दी थी सूचना

कल संदेश मिला था तो व्हाट्सएप ग्रुप में सूचना दे दी गई थी। हमारे प्राचार्य त्रिपाठी जी नोडल अधिकारी हैं उनसे चर्चा कर लीजिए। प्रभारी मैं नहीं हूं, व्यवस्था करने और जानकारी देने का काम है। प्राचार्य जैसा निर्देश देते हैं वह काम हम करते हैं। प्रकाश लोहाणी, डाइट प्रशिक्षण प्रभारी, उज्जैन

कार्यशाला की सूचना शनिवार शाम को 5 बजे मिली थी। इस वजह से प्रशिक्षु शिक्षकों को अब जानकारी दे रहे हैं। सुबह 10.30 बजे से गेट खुल गए है और कार्यशाला भी चल ही रही है। अर्जुनसिंह सोलंकी, बीईओ एवं प्राचार्य शासकीय उत्कृष्ट उमावि, खाचरौद

वाट्सएप पर कार्यशाला की जानकारी आई थी। इसके बारे में सहायक समन्वयक आशीष जोशी ने प्रशिक्षण प्रभारी प्रकाश लोहाणी से मार्गदर्शन चाहा था, लेकिन उनके द्वारा कोई मार्गदर्शन नहीं दिया गया तो प्रशिक्षुओं को कार्यशाला की सूचना नहीं दी गई। अनसिंह बघेल, प्राचार्य, शासकीय कन्या उमावि खाचरौद

15 क्लास तो पूरी हो गई है। कार्यशाला के संबंध में कोई स्पष्ट निर्देश नहीं मिले हैं। अनिल परमार, प्रभारी प्राचार्य शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल, ग्राम आक्याजागीर

Get the latest IPL 2018 News, check IPL 2018 Schedule, IPL Live Score & IPL Points Table. Like us on Facebook or follow us on Twitter for more IPL updates.
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Khachrodh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 10.30 बजे शुरू होना था प्रशिक्षण, चार सेंटरों पर लगे रहे ताले, वॉट्सएप के भरोसे रहे, सूचना ही नहीं दी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Khachrodh

    Trending

    Live Hindi News

    0
    ×