--Advertisement--

भवन पर नहीं लिखा स्कूल का नाम

धूलकोट | क्षेत्र के अधिकतर स्कूल भवन में लंबे समय से रंग-रोगन नहीं किया गया है। देखरेख के अभाव में भवन बदहाल होते जा...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:50 AM IST
धूलकोट | क्षेत्र के अधिकतर स्कूल भवन में लंबे समय से रंग-रोगन नहीं किया गया है। देखरेख के अभाव में भवन बदहाल होते जा रहे हैं। कई स्कूलों पर स्थापना के समय से ही उनके नाम नहीं लिखे गए हैं। जहां लिखे थे वो रंग-रोगन नहीं होने से मिट गए। गांव की शासकीय कन्या हाईस्कूल के भवन पर लिखा गया नाम मिट गया है। हाल ही में इसे 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा का केंद्र बनाया गया है। आसपास के गांवों से आने वाले विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र ढूंढने में परेशानी हो रही है। विद्यार्थी स्कूल के सामने से गुजर जाते हैं लेकिन उन्हें ये पता नहीं चलता कि यही सेंटर है। गांव में भटकने के बाद लोगों से पूछते हुए यहां वापस आते हैं। स्कूल भवन की देखरेख, रंगरोगन के लिए विभाग द्वारा प्रबंधन के खाते में रुपए डाले जाते हैं। बावजूद इसके जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं।