Hindi News »Madhya Pradesh »Khandwa »News» चार महीने के बाद जागा राजस्व विभाग माकड़खेड़ा में रोका मुक्तिधाम का काम

चार महीने के बाद जागा राजस्व विभाग माकड़खेड़ा में रोका मुक्तिधाम का काम

माकड़खेड़ा नर्मदा पुल के नीचे 4 माह से जारी मुक्तिधाम निर्माण का काम 20 दिन से बंद है। राजस्व विभाग ने बिना अनुमति...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:25 PM IST

माकड़खेड़ा नर्मदा पुल के नीचे 4 माह से जारी मुक्तिधाम निर्माण का काम 20 दिन से बंद है। राजस्व विभाग ने बिना अनुमति निर्माण का हवाला देते हुए काम पर रोक लगाई है। अब आरईएस विभाग स्वीकृति लेने की तैयारी में जुटा है। इसको लेकर कलेक्टर को फाइल भेजी है। अनुमति के बाद काम शुरू होने की उम्मीद है। लंबे समय से नर्मदा तट पर मुक्तिधाम निर्माण की मांग हो रही थी।

पूर्व राज्यसभा सांसद स्व. अनिल माधव दवे के प्रयासों के बाद 20 लाख की लागत से आरईएस विभाग की देखरेख में काम शुरू हुआ। राजस्व विभाग की रिक्त पड़ी जमीन पर काम लगभग पूरा होने को है। वर्तमान में लकड़ी-कंडा भंडार गृह का काम पूरा होने के साथ शांतिधाम का काम छत स्तर पहुंच चुका है। शवदाहगृह की कुर्सी हाइट हो चुकी है। यह क्रमशः 15 बाय 40, 30 बाय 40 व 50 बाय 32 वर्गफीट में बनना है। सितंबर माह से शुरू हुए काम को जनवरी 18 तक पूरा करना था। लेकिन अब राजस्व विभाग ने यहां काम पर रोक लगा दी है। इस रोक से काम की अवधि बढ़ेगी। जानकारी के अनुसार एसडीएम अवि प्रसाद के निर्देश पर तहसीलदार सतीश वर्मा ने अनुमति नहीं लेने की बात कहते हुए मुक्तिधाम का काम रुकवाया। इसके बाद यहां काम करने वाले मजदूरों को थाने तक पहुंचना पड़ा। विभागीय जानकारी के अनुसार आरईएस विभाग के सीईओ अतुल कानूनगो ने अनुमति के लिए कलेक्टर को फाइल भेजी है।

राजस्व विभाग ने शवदाहगृह का काम रोक दिया।

अंतिम संस्कार के लिए लाते हैं शव

नर्मदा तट पर लगभग रोजाना शवों को अंतिम संस्कार के लिए परिजन लाते हैं। व्यवस्थाएं नहीं होने से परिजनों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों के अनुसार मुक्तिधाम स्थल पर पत्थर व उबड़-खाबड़ जमीन के बीच शवों का अंतिम संस्कार करना पड़ता है। लकड़ी-कंडे की व्यवस्था नहीं होने से गांव में भटकना पड़ता है। निर्माण के बाद यह सुविधा मिलेगी। इसलिए काम जल्द शुरू किया जाना चाहिए।

जल्द अनुमति मिलने की उम्मीद

राजस्व विभाग से अनुमति नहीं लेने पर काम रोका गया है। विभाग ने निर्माण कार्य से जुड़े दस्तावेज कलेक्टर को पेश किए है। जल्द ही अनुमति मिलने व काम शुरू होने की उम्मीद है। - महेश सोलंकी, सब इंजीनियर आरईएस

आज बनाएंगे पंचनामा

गुरुवार को पंचायत के प्रतिनिधियों के साथ पटवारी द्वारा माकड़खेड़ा की शासकीय जमीन के सर्वे व पटवारी हल्का नंबर की जानकारी लेकर पंचनामा तैयार किया जाएगा। इस स्थान पर निर्माण का प्रस्ताव तैयार किया था। पंचायत में ठहराव-प्रस्ताव पर जमीन के आवंटन प्रक्रिया को अपनाया गया। इसके बाद भी आरईएस विभाग अनुमति लेना भूल गया।

लकड़ी-कंडा भंडारगृह बनकर तैयार हो गया।

3 माह में भी नहीं मिली जमीन

नर्मदा तट के नावड़ातौड़ी क्षेत्र में शवदाहगृह निर्माण के लिए पिछले 3 माह से आरईएस विभाग जमीन तलाश रहा है। अभी तक जमीन का चयन नहीं हो सका। शासन के निर्देश पर यहां शवदाहगृह का निर्माण होना है। सब इंजीनियर मनोज सांवले ने बताया जनप्रतिनिधियों व पंचायत के सहयोग से जल्द ही जमीन की तलाश की जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×