Hindi News »Madhya Pradesh News »Khandwa News »News» बजट में खंडवा की उम्मीदें जस की तस

बजट में खंडवा की उम्मीदें जस की तस

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 06:05 AM IST

गुरुवार को संसद में पेश आम बजट में खंडवा-इंदौर रेलखंड पर सनावद से अतर के बीच गेज कन्वर्जन के लिए सरकार ने 18 करोड़...
गुरुवार को संसद में पेश आम बजट में खंडवा-इंदौर रेलखंड पर सनावद से अतर के बीच गेज कन्वर्जन के लिए सरकार ने 18 करोड़ रुपए दिए। इन रुपयों से रतलाम मंडल के तहत आने वाले सनावद-अतर रेलखंड पर 25 किमी तक ब्रॉडगेज का काम होगा। हालांकि यह राशि रतलाम मंडल को जारी बजट 4061 करोड़ रुपए में ही शामिल है।

गौरतलब है रेलवे ने 2011-12 में खंडवा-इंदौर सेक्शन के कन्वर्जन के लिए 1370 करोड का बजट बनाया था, जो 2018-19 में बढ़कर 1600 करोड़ रुपए पर पहुंच गया था। रेलवे ने पिछले तीन बजट में गेज कन्वर्जन के लिए अब तक कुल 850 करोड़ रुपए ही जारी किए।

क्योंकि.... चार साल में एक भी ट्रेन नहीं मिली। ब्रॉडगेज के लिए भी उम्मीद के मुताबिक नहीं मिला बजट।

रेलवे | चार साल पहले यूपीए सरकार ने दी थी भुसावल-नागपुर और अमृतसर-नांदेड ट्रेन को हरी झंडी

सिर्फ सनावद से अतर के बीच 25 किमी ट्रैक के गेज कन्वर्जन के लिए मिले 18 करोड़ रुपए

एस्कलेटर, ट्रेनों में कैमरे लगाने का प्रावधान पिछले बजट में शामिल था पर घोषणा नहीं की

पिछले साल प्रस्ताव मांगा था पर वित्त मंत्री ने घोषणा नहीं की

पिछले चार साल से खंडवा को एनडीए सरकार के कार्यकाल में एक भी नई ट्रेन की सौगात नहीं मिली। जबकि यूपीए सरकार ने भुसावल-नागपुर और अमृतसर- हजूर साहिब नांदेड ट्रेन की खंडवा में स्टापेज की हरी झंडी दी थी। चार रेलवे जोन वाले मप्र और महाराष्ट्र बार्डर के खंडवा स्टेशन को लेकर बजट में वित्तमंत्री ने कोई उल्लेखनीय घोषणा नहीं की। स्टेशन पर एस्कलेटर, ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे का प्रावधान पिछले बजट में भी था। जनमंच के चंद्रकुमार सांड ने कहा बजट में खंडवा को लेकर वित्तमंत्री ने अलग से कोई घोषणा नहीं की। जबकि पिछले साल अप्रैल में रेल बोर्ड भुसावल मंडल के अफसरों ने ट्रेनों को चलाने को लेकर प्रस्ताव मांगा था।

हाईटेक :खंडवा स्टेशन के शामिल होने की संभावना

देश के 600 हाइटेक स्टेशन में खंडवा शामिल है। ए ग्रेड खंडवा स्टेशन की सालाना कमाई 6 करोड़ रुपए से ज्यादा है। वहीं तीन-चार महीने पहले अपग्रेडेशन को लेकर प्रस्ताव भी रेलवे को भेजा जा चुका है।

93ट्रेनें जंक्शन से गुजरती हैं

38ट्रेनें रोज गुजरती हैं जंक्शन से

17हजार यात्री रोज करते हैं सफर

10हजार टिकट रोज बिकते हैं

15लाख रुपए रोज की आय

45 फीसदी हुआ खंडवा-सनावद ब्रॉडगेज का काम

ब्रॉडगेज का काम महू से इंदौर तक पूरा हो चुका है। जबकि खरगोन के सेल्दा पावर प्लांट से खंडवा व मथेला को जोड़ने के लिए अर्थवर्क का काम चल रहा है। अर्थवर्क का 45% काम पूरा हो चुका है। जबकि सनावद से महू के बीच काम 2019 में शुरू होने की संभावना है।

वाईफाई :अप्रैल से शुरू होगी यह पुरानी घोषणा

खंडवा रेलवे स्टेशन पर अप्रैल से फ्री वाईफाई होगा। केंद्र सरकार ने ए और ए प्लस के सभी स्टेशनों को वाईफाई करने की घोषणा की है। कुछ दिन पहले डीआरएम ने भी जानकारी दी थी।

यार्ड रिमोल्डिंग :स्टेशन पर 60 करोड़ से होगा

सेंट्रल रेलवे भुसावल मंडल मीटरगेज प्लेटफार्म को ब्रॉडगेज में कन्वर्ट करेगा। हाईलेवल प्लेटफार्म बनाए जाएंगे। मीटरगेज से स्टेशन पर यार्ड रिमोल्डिंग के तहत 60 करोड़ रुपए की लागत से निर्माण होंगे।

खंडवा-अकोला :10 साल और लगेंगे

खंडवा से अकोला मीटरगेज से ब्रॉडगेज का काम धीमा चल रहा है इसमें 10 साल का वक्त और लगेगा। सरकार का पूरा ध्यान इंदौर-मुंबई रूट को वाया खंडवा से जोड़ने पर है।

खंडवा-महू, खंडवा-अकोला सेक्शन पर होगा तेजी से काम

बजट में रेलवे का बजट भी सम्मिलित था। इसमें देश भर के मीटरगेज ट्रैक को ब्रॉडगेज में कन्वर्जन का प्रावधान किया है। इसके लिए बजट भी स्वीकृत कर दिया है। इसमें खंडवा-महू और खंडवा-अकोला सेक्शन के लिए भी राशि शामिल है। अब यहां तेजी से काम होगा। हालांकि हमारे यहां ब्रॉडगेज का काम पहले ही शुरू हो चुका है। -एनके दवे, पूर्व स्टेशन प्रबंधक मीटरगेज खंडवा

2011-12 में कन्वर्जन के लिए 1370 करोड का बजट था, 2018-19 में 1600 करोड़ रुपए हो गया

रेलवे ने पिछले तीन बजट में गेज कन्वर्जन के लिए कुल 850 करोड़ रुपए ही जारी किए हैं

अौर इधर, बुकिंग ऑफिस वेटिंग हॉल का काम शुरू

रेलवे स्टेशन पर पार्सल और बुकिंग ऑफिस के बीच छह महीने के भीतर सेकेंड क्लास वेटिंग हॉल बनेगा। मंडल ने वेटिंग हॉल बनाने के लिए 50 लाख की राशि स्वीकृत की है। गुरुवार को ठेकेदार ने वेटिंग हाल का ले आउट डाला।

स्टॉपेज की मांग :खंडवा में 11 नॉन स्टॉप ट्रेनों की

आसपास के जिलों के लिए गुजरने वाली 11 नॉन स्टॉप ट्रेनों के स्टॉपेज की मांग लंबे समय से हो रही है। भोपाल से भुसावल के बीच मेमू या डेमू ट्रेन, हैदराबाद-जयपुर और सूरत को जोड़ने के लिए नई ट्रेन की जरूरत है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Khandwa News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: बजट में खंडवा की उम्मीदें जस की तस
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×