Hindi News »Madhya Pradesh News »Khandwa News »News» कुपोषण को दूर करने के लिए पटवारी स्वास्थ्य कार्यकर्ता व सचिव भी करेंगे काम

कुपोषण को दूर करने के लिए पटवारी स्वास्थ्य कार्यकर्ता व सचिव भी करेंगे काम

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:30 PM IST

बच्चों में कुपोषण दूर करने के लिए अब पटवारी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, स्वस्थ्य कार्यकर्ता मिलकर काम करेंगे। इसके...
बच्चों में कुपोषण दूर करने के लिए अब पटवारी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, स्वस्थ्य कार्यकर्ता मिलकर काम करेंगे। इसके लिए बुधवार को गौरीकुंज में कार्यशाला हुई। इसमें आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, सचिव व पटवारी शामिल हुए। इन्हें कलेक्टर ने मिलकर काम करने और कुपोषण को दूर करने के लिए अधिकतम प्रयास करने को कहा। कलेक्टर अभिषेक सिंह ने आंगनवाड़ी एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को मंच पर बुलाकर उनके अनुभव सुने। कुपोषण का स्तर सुधारने के लिए उनसे जरूरी सुझाव मांगे। कलेक्टर इस कार्यशाला में पूरे समय मौजूद रहे।

कलेक्टर ने कहा कि बच्चों में कुपोषण का स्तर सुधारे जाने की जरूरत है। इस कार्य के लिए महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग के मैदानी कार्यकर्ता अपना अधिकतम प्रयास करें, उन्हें इस कार्य के लिए हर संभव मदद दिलाई जाएगी। आशा कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ठान ले तो जिले से कुपोषण की समस्या खत्म हो सकती है। सभी के मिलेजुले प्रयासों की जरूरत है। पोषण आहार के साथ साथ शुद्ध पेयजल व भोजन में स्वच्छता जरूरी है, क्योंकि दूषित पानी व भोजन से बच्चे को दस्त व डायरिया की समस्या हो सकती है। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी केंद्रों के नियमित निरीक्षण किए जाएंगे।

कुपोषित बच्चों को शुद्ध पेयजल व पौष्टिक आहार समय पर देने की जरूरत भी बताई

कुपोषण दूर करने को लेकर कार्यशाला को संबोधित करते कलेक्टर अभिषेक सिंह।

कार्यशाला में शामिल आंगनवाड़ी व स्वास्थ्य कार्यकर्ता।

ऑनलाइन ट्रैकिंग सिस्टम बनेगा

कलेक्टर ने बताया गर्भवती महिलाओं व बच्चों के टीकाकरण के लिए ऑनलाइन ट्रेकिंग सिस्टम बनाया जा रहा है, सभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व स्वास्थ्य कार्यकर्ता हर माह की 3 तारीख तक बच्चों के वजन व टीकाकरण की जानकारी जमा कराएं। उन्होंने सभी एएनएम को इस तरह की जानकारी आरसीएच के पोर्टल पर दर्ज कराने के निर्देश दिए।

सचिव व पटवारी भी जाएं आंगनवाड़ी केंद्रों पर

जिला पंचायत सीईओ डॉ. वरदमूर्ति मिश्र ने कहा कि सभी पंचायत सचिवों व पटवारियों को भी कुपोषण से जंग में बराबरी से साथ देना है। पंचायत सचिव व पटवारी भी गांव में आंगनवाड़ी केंद्रों में जाकर बच्चों के पोषण स्तर पर नजर रखे। कुपोषित बच्चों के परिजन को आवष्यकता अनुसार मदद उपलब्ध करायें। पोषण स्तर सुधारने में योगदान करना एक पुण्य कार्य है, इस कार्य में तन-मन-धन से हरसंभव योगदान दें।

महिलाओं का विवाह पंजीयन कराएं

जिला कार्यक्रम अधिकारी संजय भारद्वाज ने बताया कि आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों को पोषण आहार समय पर दिया जा रहा है। पैकेट बंद टेक होम राषन भी दिया जा रहा है। उन्होंने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं से कहा कि वे अपने क्षेत्र की महिलाओं के विवाह पंजीयन, गर्भवती महिलाओं के पंजीयन तथा नवजात शिशुओं के पंजीयन समय पर करें तथा उन्हें आवष्यकता अनुसार टीकाकरण व पोषण आहार उपलब्ध कराने में मदद करें। कार्यशाला में सहायक कलेक्टर आईएएस दिलीप यादव, जिला कार्यक्रम मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रतन खंडेलवाल व एसडीएम शाष्वत शर्मा मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Khandwa News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: कुपोषण को दूर करने के लिए पटवारी स्वास्थ्य कार्यकर्ता व सचिव भी करेंगे काम
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×