--Advertisement--

इस साल सबसे ज्यादा 42 दिन तक बैठे रहे संविदाकर्मी

हड़ताल :सीएम के आश्वासन बाद संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी आज से करेंगे काम भास्कर संवाददाता | खरगोन जिले में 19...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:50 AM IST
हड़ताल :सीएम के आश्वासन बाद संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी आज से करेंगे काम

भास्कर संवाददाता | खरगोन

जिले में 19 फरवरी से चल रही संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल रविवार को सीएम शिवराजसिंह चौहान से मिले आश्वासन के बाद स्थगित हो गई है। चार साल तक की हड़तालों में इस बार सबसे ज्यादा 42 दिन तक कर्मचारियों को आश्वासन का इंतजार करना पड़ा। सीएम ने कहा मैं किसी कर्मचारी के साथ बुरा नहीं होने दूंगा। एक सप्ताह में महापंचायत बुलाकर कर्मचारियों की मांगों पर फैसला करेंगे। उधर, लगातार हड़ताल से स्वास्थ्य सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित हुई है।

रविवार को संविदा कर्मचारियों के प्रतिनिधिमंडल ने सीएम से मुलाकात की। सीएम के सामने नियमितीकरण, स्थायीकरण, अप्रेजल समाप्त व निकाले 4500 कर्मचारियों को पुन: नौकरी देने पर चर्चा हुई। इसमें सीएम ने कहा कि किसी भी कर्मचारी के साथ बुरा नहीं होगा। एक सप्ताह का समय दीजिए। महापंचायत बुलाकर घोषणा करेंगे। इसके बाद प्रतिनिधि मंडल ने अनिश्चतकालीन हड़ताल स्थगित करने का निर्णय लिया है। प्रदेश अध्यक्ष सौरभसिंह, संरक्षक राहुल जैन सहित अन्य लोग मिले। फैसले की सूचना पर जिले के कर्मचारियों ने भी हड़ताल स्थगित की। साथ कर्मचारियों ने एक दूसरे के मिठाई खिलाई। जिलाध्यक्ष रूपेश गुप्ता, मनीष भद्रावले, धीरज गुप्ता, डॉ. रेवाराम कौशले ने सीएम के निर्णय की प्रशंसा की। साथ ही कहा कि महापंचायत में घोषणा में हमारी मांगें पूरी होगी।

डेढ़ माह तक हड़ताल पर बैठे रहे कर्मचारी

संविदा कर्मचारियों की हड़ताल की शुरुआत सबसे पहले 2012-13 में हुई थी। लगातार हड़ताल से स्वास्थ्य विभाग के अफसरों व मंत्रियों के आश्वासन के बाद 9 दिन में स्थगित हो गई थी। 2015-16 में 18 दिन, 2016-17 में 11 दिन और इस साल 42 दिन तक हड़ताल चली।