--Advertisement--

राशि जमा करने के बाद भी नहीं मिले सोलर पंप

मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के तहत विकासखंड के भी 25 से अधिक किसानों को अंशदान राशि जमा करने के चार से पांच माह बाद भी...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 03:55 AM IST
मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के तहत विकासखंड के भी 25 से अधिक किसानों को अंशदान राशि जमा करने के चार से पांच माह बाद भी सोलर पंप नहीं मिल पाए हैं। किसानों ने जल्द ही पंप देने की मांग की है।

प्रदेश में भारत शासन, राज्य शासन व विद्युत वितरण कंपनियों द्वारा ऊर्जा क्षेत्र में अत्याधिक निवेश के बाद भी प्रदेश में कई क्षेत्र ऐसे है जहां डीजल पंपों के माध्यम से सिंचाई की जाती है। दूर-दराज के क्षेत्रों में डीजल उपलब्धता में परेशानी आती है व डीजल पंप के द्वारा सिंचाई में किसान का काफी खर्च होता है। असिंचित क्षेत्रों में व डीजल पंपों के स्थान पर सोलर पंपों के उपयोग से प्रदेश में सिंचित भूमि का क्षेत्रफल बढ़ेगा, कृषि उत्पादन में वृद्धि होगी, किसान व्यवसायिक व अन्य फायदे की फसल उगा सकेंगें व किसानों के लिए कृषि लाभ का व्यवसाय हो सकेगा। इसे देखते हुए ‘मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना’ तैयार की गई। इसमें किसान एक से 10 एचपी तक के सोलर पंप के लिए आवेदन कर सकता है। नियमानुसार अंशदान राशि जमा करना होगी। इसमें क्षेत्र के किसानों ने भी आवेदन दिया। किसान रमेश राठौड़, मनोज शंकरलाल, राधेश्यामभाई आदि ने भी अंशदान राशि अगस्त माह में जमा की। अभी तक पंप मिलने का इंतजार कर रहे हैं। किसानों ने कहा कि जल्द ही पंप दिलाए जाएं।

ये है योजना के उद्देश्य

उत्पादकता बढ़ाने के लिए राज्य में सिंचिंत क्षेत्र बढ़ाना। जिन क्षेत्रों में बिजली की उपलब्धता नहीं है, वहां सिंचाई की व्यवस्था कराना, डीजल से सिंचाई करने में किसानों पर आने वाले वित्तीय भार से उन्हें बचाना, सिंचाई के लिए विद्युत वितरण कंपनियों द्वारा दिए जाने वाले अस्थाई विद्युत कनेक्शनों में कमी लाना, किसानों को सक्षम बनाने के लिए, उच्च मूल्य बागवानी की फसलों को बढ़ावा देना, कुशल सिंचाई विधियों के माध्यम से भूजल का संरक्षण और डीजल पंप से होने वाले प्रदूषण को कम करना है।

कर सकते हैं अन्य उपयोग

सोलर पंपों का सिंचाई के लिए उपयोग न होने पर और उसके साथ भी सोलर पेनलों का उपयोग विभिन्न वैकल्पिक उपयोगों जैसे लाइटिंग, बैटरी चार्जिंग, सूक्ष्म ग्रिड, घर में रोशनी करने आदि के लिए किया जा सकता है।

माह के अंत तक मिलेंगे सोलर पंप