--Advertisement--

शहर में नगर पालिका का तीन करोड़ रु. से अधिक बकाया कर

News - नगर पालिका का लोगों पर विभिन्न करों के रूप में 3 करोड़ से अधिक बकाया है। वित्तीय वर्ष खत्म होने को एक माह बचा है इससे...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 05:15 AM IST
शहर में नगर पालिका का तीन करोड़ रु. से अधिक बकाया कर
नगर पालिका का लोगों पर विभिन्न करों के रूप में 3 करोड़ से अधिक बकाया है। वित्तीय वर्ष खत्म होने को एक माह बचा है इससे शिविर लगाकर वसूली की जा रही है। अब बकायादारों पर सख्ती बरती जाएगी। खासकर जिन लोगों का जलकर एक माह से अधिक बकाया है उनके कनेक्शन काटे जाएंगे।

वित्तीय वर्ष 2017-18 की शुरुआत में लोगों पर विभिन्न करों के रूप में 4 करोड़ 11 लाख 57 हजार 8 रुपए बकाया था। इनमें से जनवरी माह तक 1 करोड़ 2 लाख 36 हजार 989 रुपए की वसूली हो चुकी है। इससे 3 करोड़ 9 लाख 20 हजार 19 रुपए बकाया है। नगर पालिका एक माह से शिविर लगाकर वसूली कर रही है। हालांकि इसमें लोगों का रुझान कम दिख रहा है।

नगर पालिका से प्राप्त जानकारी के अनुसार राशि के अभाव में फिलहाल कोई काम रुके हुए नहीं है। हालांकि बकाया करों की वसूली होने से नए विकास कार्य किए जा सकेंगे। इसके चलते नगर पालिका की नई परिषद इस पर जोर दे रही है। नपा में 19 फरवरी को राजस्व शाखा की बैठक हुई थी। इसमें अध्यक्ष बसंतीबाई यादव ने राजस्व शाखा के कर्मचारियों को मासिक वेतन से 4 गुना अधिक वसूली के निर्देश दिए थे। जलकर के मामले में सख्त कदम उठाने की बात करते हुए कहा था जिन लोगों पर 1 माह से अधिक बकाया है, उनसे पेनल्टी के साथ वसूली की जाएगी। नहीं देने पर कनेक्शन तुरंत काट दिए जाएं।

नगर पालिका वार्डों में शिविर लगाकर बकाया करों की वसूली कर रही है।

ऐसे जानें स्थिति

कर कुल मांग कुल वसूली शेष राशि

संपत्तिकर 12728442 3397467 9330975

समेकित कर 4333600 944000 3389600

जलकर 17883928 4337656 13546272

भवनभूमि किराया 2912914 739434 2173480

शिक्षा उपकर 345080 56829 258551

नवि उपकर 2953044 731903 2221141

योग 41157008 10236989 30920019

...और इधर, प्याऊ किया शुरू

सेंधवा | एसडीएम कार्यालय परिसर में बना प्याऊ कई सालों से बंद पड़ा था। लोगों को पानी पीने के लिए परेशान होना पड़ता था। इस समस्या को भास्कर ने प्रमुखता से प्रकाशित कर जिम्मेदारों को इससे अवगत कराया था। नपा ने प्याऊ को सुधरवाकर नल लगवाए और प्याऊ शुरू करा दिया। चार नलों में से तीन नलों को ठीक किया गया। बुधवार को फायर फाइटर वाहन से प्याऊ में पानी भी भरवाया गया। प्याऊ शुरू होने से अब कार्यालय में आने वाले लोगों को पीने के लिए पानी मिलेगा।

वसूली के लिए करेंगे नोटिस जारी


सबसे ज्यादा जलकर बकाया

शहर में 8 हजार नल कनेक्शन हैं। प्रतिमाह 100 रुपए जलकर वसूला जाता है। जल प्रदाय पर प्रतिमाह करीब 30 लाख रुपए का खर्च होता है। वहीं वसूली मात्र 4 से 5 लाख रुपए होती है। वर्तमान में भी 1 करोड़ 35 लाख 46 हजार 272 रुपए जलकर बकाया है। जो सभी करों में सर्वाधिक है।

X
शहर में नगर पालिका का तीन करोड़ रु. से अधिक बकाया कर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..