--Advertisement--

विवाद / चूल्हा जब्त करने पर होटल मालिक व अफसरों में छीनाझपटी, चले लात-घूंसे



  • नागरिक आपूर्ति अफसरों द्वारा अवैध गैस सिलेंडर की जांच के दौरान हुआ विवाद
Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 01:12 PM IST

बुरहानपुर. अवैध घरेलू गैस सिलेंडर जब्त करने के बाद भोजनालय का चूल्हा निकालने पर भड़के होटल मालिक और नागरिक आपूर्ति अफसर में अभद्रता पर लात-घूसे चले। ये देख मौके पर राहगीरों की भीड़ जुट गई। मौका देख अफसर भी निकल गए। 

 

  • मंगलवार सुबह 11.30 बजे से नागरिक आपूर्ति विभाग के दो दल शहरभर की होटल, केंटीन, भोजनालय पर अवैध घरेलू गैस सिलेंडर की जांच करने निकले। दोपहर लगभग 3.30 बजे एक दल पुष्पक बस स्टैंड स्थित सांईकृपा भोजनालय पहुंचा। जहां से नागरिक आपूर्ति अफसर डीआर चौहान, कनिष्ठ अफसर चेतन वर्मा ने घरेलू गैस सिलेंडर जब्त किया। 

 

  • मौके पर पंचनामा बनाकर होटल से चूल्हा भी साथ ले जाने लगे। होटल मालिक गजेंद्र आरोरा ने कहा- ये तो छोड़ दो सर, सिलेंडर लेकर जाओ लेकिन अफसर नहीं माने तो छीनाझपटी शुरू हो गई। इस बीच दोनों में तीखी बहस भी हुई। मामला गालीगलौज तक पहुंचा। पहले धक्का-मुक्की की फिर दोनों में हाथापाई शुरू हो गई।

 

  • करीब 3 मिनट उनमें मारपीट चली। अफसर खुद का बीचबचाव कर निकले, संपर्क कर अन्य दल के अफसर बुलाए। शिकायत पर कोतवाली पुलिस भोजनालय पहुंची। जहां से होटल मालिक को हिरासत में लिया। भोजनालय को ताला लगा दिया गया। दोनों पक्षों को कोतवाली ले जा गया। चेतन वर्मा की शिकायत पर गजेंद्र अरोरा के खिलाफ मारपीट, गालीगलौज और शासकीय कार्य में बाधा का केस दर्ज किया। 

 

 

मुझे नहीं पता ये उनकी होटल है। उस दिन तो होटल मालिक मुझसे बहस कर रहा था। उसके बाद मैं उस बात को भूल भी गई। हम ऐसी छोटी बातों पर ध्यान भी नहीं देते। हो सकता है वो बचाव के लिए आरोप लगा रहे हो।

प्रगति वर्मा, एसडीएम

 

होटल मालिक पर लगाएंगे जुर्माना 

  1. उबले चावल को बताया था कच्चा

    होटल मालिक गजेंद्र अरोरा ने कहा- 15 दिन पहले एसडीएम गुरुकृपा स्थित मेरी होटल आए थे। जहां उन्होंने उबले चावल को कच्चा बताकर बहस की और ये बोलकर गए थे कि ठीक है तुम दुकानदारी कर लो। उस दिन का बदला उन्होंने भोजनालय बंद कर लिया।