--Advertisement--

चूल्हा जब्त करने पर होटल मालिक व अफसरों में छीनाझपटी, चले लात-घूंसे

नागरिक आपूर्ति अफसरों द्वारा अवैध गैस सिलेंडर की जांच के दौरान हुआ विवाद

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 12:52 PM IST
Controversy over hotel owners and officers on seizing stove

पुलिस ने होटल मालिक को लिया हिरासत में, भोजनालय भी बंद कराया, केस दर्ज किया


बुरहानपुर. अवैध घरेलू गैस सिलेंडर जब्त करने के बाद भोजनालय का चूल्हा निकालने पर भड़के होटल मालिक और नागरिक आपूर्ति अफसर में अभद्रता पर लात-घूसे चले। ये देख मौके पर राहगीरों की भीड़ जुट गई। मौका देख अफसर भी निकल गए।


मंगलवार सुबह 11.30 बजे से नागरिक आपूर्ति विभाग के दो दल शहरभर की होटल, केंटीन, भोजनालय पर अवैध घरेलू गैस सिलेंडर की जांच करने निकले। दोपहर लगभग 3.30 बजे एक दल पुष्पक बस स्टैंड स्थित सांईकृपा भोजनालय पहुंचा। जहां से नागरिक आपूर्ति अफसर डीआर चौहान, कनिष्ठ अफसर चेतन वर्मा ने घरेलू गैस सिलेंडर जब्त किया।


मौके पर पंचनामा बनाकर होटल से चूल्हा भी साथ ले जाने लगे। होटल मालिक गजेंद्र आरोरा ने कहा- ये तो छोड़ दो सर, सिलेंडर लेकर जाओ लेकिन अफसर नहीं माने तो छीनाझपटी शुरू हो गई। इस बीच दोनों में तीखी बहस भी हुई। मामला गालीगलौज तक पहुंचा। पहले धक्का-मुक्की की फिर दोनों में हाथापाई शुरू हो गई।


करीब 3 मिनट उनमें मारपीट चली। अफसर खुद का बीचबचाव कर निकले, संपर्क कर अन्य दल के अफसर बुलाए। शिकायत पर कोतवाली पुलिस भोजनालय पहुंची। जहां से होटल मालिक को हिरासत में लिया। भोजनालय को ताला लगा दिया गया। दोनों पक्षों को कोतवाली ले जा गया। सूचना पर एसडीएम प्रगति वर्मा, नागरिक आपूर्ति अफसर अर्चना नागपुरे पहुंची। चेतन वर्मा की शिकायत पर गजेंद्र अरोरा के खिलाफ मारपीट, गालीगलौज और शासकीय कार्य में बाधा का केस दर्ज किया।

होटल मालिक पर लगाएंगे जुर्माना
नागरिक आपूर्ति अधिकारी अर्चना नागपुरे ने बताया मंगलवार को दिनभर में आधा दर्जन से ज्यादा होटलों से 15 घरेलू गैस सिलेंडर जब्त कर लिए हैं। अधिकांश चाय-नाश्ते की होटलों पर घरेलू गैस सिलेंडर का अवैध उपयोग करते मिले हैं। उनका पंचनामा बनाकर सिलेंडर एजेंसी के सुपुर्द कर दिया है। जांच के बाद संबंधित होटल संचालकों पर जुर्माना लगाया जाएगा। अफसरों से मारपीट वाले मामले पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आगे से ऐसी स्थिति न बने उसके लिए हम सुरक्षा मांगेंगे, ताकि आगे से ऐसी हरकत न हो।


उबले चावल को एसडीएम ने कच्चा बताया था, बहस भी कर गए
होटल मालिक गजेंद्र अरोरा ने कहा- 15 दिन पहले एसडीएम गुरुकृपा स्थित मेरी होटल आए थे। जहां उन्होंने उबले चावल को कच्चा बताकर बहस की और ये बोलकर गए थे कि ठीक है तुम दुकानदारी कर लो। उस दिन का बदला उन्होंने भोजनालय बंद कर लिया।


बचाव के लिए आरोप लगा रहा होटल मालिक
मुझे नहीं पता ये उनकी होटल है। उस दिन तो होटल मालिक मुझसे बहस कर रहा था। उसके बाद मैं उस बात को भूल भी गई। हम ऐसी छोटी बातों पर ध्यान भी नहीं देते। हो सकता है वो बचाव के लिए आरोप लगा रहे हो। - प्रगति वर्मा, एसडीएम

X
Controversy over hotel owners and officers on seizing stove
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..