मांग / कर्जमाफी, भावांतर योजना को लेकर किसान फिर शुरू करेंगे आंदोलन, 200 किसान भाेपाल रवाना



Farmers will resume agitation for debt waiver, Bhavantar plan
X
Farmers will resume agitation for debt waiver, Bhavantar plan

  • भारतीय किसान यूनियन के सदस्य आज भोपाल में सीएम व कृषि मंत्री को देंगे आवेदन
     

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2019, 11:58 AM IST

बड़वानी. कर्जमाफी, भावांतर योजना को लेकर किसान फिर से आंदोलन शुरू कर सकते हैं। भावांतर योजना को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की मक्का व सोयाबीन की खरीदी पर प्रति क्विंटल 500 रुपए प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा पूरी न होने से किसानों में नाराजगी है। इसको लेकर भारतीय किसान यूनियन के सदस्य सोमवार को भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ व कृषि मंत्री सचिन यादव को आवेदन देंगे। वे भावांतर योजना की प्रोत्साहन राशि भुगतान, सभी किसानों को कर्जमाफी और समर्थन मूल्य में गेहूं खरीदी पर 200 रुपए प्रति क्विंटल बोनस देने की मांग करेंगे। इसके लिए रविवार रात को जिले 200 किसान भोपाल रवाना हुए।

 

भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष दिनेश चौहान ने बताया सोमवार को यूनियन द्वारा मुख्यमंत्री व कृषि मंत्री को आवेदन दिया जाएगा। कर्ज माफी में जो नियम-शर्तें हैं, उन्हें हटाकर 12 दिसंबर तक सभी किसानों का कर्ज माफ किया जाए। चाहे कृषि यंत्र, प्राइवेट बैंक या फिर साहूकारों से कर्ज से लिया कर्ज हो। ऐसे सभी किसानों को कर्ज माफी के दायरे में लिया जाए। गेहूं खरीदी पर किसानों को 200 रुपए प्रति क्विंटल बोनस दिया जाए।

उन्होंने बताया कुछ दिनों पहले कृषि मंत्री ने भावांतर योजना की समीक्षा करने का बयान दिया था। सरकार योजना में सुधार करें। लेकिन मंडी में समर्थन मूल्य से कम भाव पर बोली लगाने पर रोक लगाई जाए। समर्थन मूल्य से कम भाव में खरीदी करने पर व्यापारी का लाइसेंस रद्द कर कार्रवाई की जाए। उन्होंने बताया किसान आंदोलन के दौरान जिन किसानों पर केस दर्ज किए थे, सभी केस वापस लिए जाएं। उन्होंने बताया आवेदन के बाद भी मांगें पूरी नहीं होती है, तो धरना प्रदर्शन व आंदोलन करेंगे।


वचन पत्र के अनुसार 2200 रु. भाव में हो गेहूं खरीदी : भारतीय किसान संघ के सदस्य कर्ज माफी, वचन पत्र के वादों को पूरा करने की मांग को लेकर 18 फरवरी को जिला मुख्यालय पर एकजुट होंगे।  संघ के अध्यक्ष मंशाराम पंचोले ने बताया सरकार से सभी किसानों को कर्ज माफी के दायरे में लाकर सभी बैंकों का कर्ज माफ करने की मांग करेंगे। कांग्रेस ने वचन पत्र में 2200 रुपए क्विंटल गेहूं खरीदी, गन्ना उत्पादक किसानों को 300 रुपए टन प्रोत्साहन राशि, दूध के भाव 5 रुपए प्रति लीटर बढ़ाने का वादा किया था। भावांतर योजना की राशि का भुगतान सहित अन्य मांगों को लेकर आवेदन देंगे।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना