हड़ताल / अतिथि विद्वान अनिश्चितकालीन हड़ताल पर, परीक्षा में बाबुओं की लगाई ड्यूटी

क्लास नहीं लगने पर कॉलेज के बाहर खड़े विद्यार्थी क्लास नहीं लगने पर कॉलेज के बाहर खड़े विद्यार्थी
X
क्लास नहीं लगने पर कॉलेज के बाहर खड़े विद्यार्थीक्लास नहीं लगने पर कॉलेज के बाहर खड़े विद्यार्थी

  • कॉलेज के 28 अतिथि विद्वानों के हड़ताल पर जाने से बिगड़ी व्यवस्था, परीक्षा में प्राचार्य ने बाबुओं को सौंपा काम

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 09:16 AM IST
खंडवा. नियमितीकरण की मांग को लेकर अतिथि विद्वान मंगलवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। इससे एसएन कॉलेज पर सबसे ज्यादा असर पड़ा। क्लास नहीं लगने के कारण विद्यार्थियों को गेट से ही लौटना पड़ा। वहीं डीएविवि द्वारा संचालित स्नातक व स्नातकोत्तर कक्षाओं की परीक्षाओं में शिक्षकों की जगह बाबुओं की ड्यूटी लगानी पड़ी।

जानकारी मुताबिक एसएन कॉलेज में अतिथि विद्वानों के 32 में से 28 पद भरे हुए हैं। इसी प्रकार गर्ल्स कालेज में 8, मूंदी में 4, हरसूद में 12, पंधाना में 6 अतिथि विद्वान हैं। एसएन कॉलेज में सुबह 9 बजे क्लास के लिए पहुंचे विद्यार्थी रोहित शर्मा, अश्विनी गुप्ता, विकास अंजने ने बताया गेट पर ही शिक्षक नहीं होने की जानकारी स्टाफ ने दी। हमें तो अंदर भी नहीं आने दिया। इधर, अतिथि विद्वानों का कहना है अनिश्चितकालीन हड़ताल की जानकारी प्रभारी प्राचार्य डॉ. मुकेश जैन को एक दिन पहले ज्ञापन के माध्यम से दी थी। प्राचार्य ने कहा कक्षाएं नियमित लगे, इसके लिए नए सिरे से व्यवस्था की जाएगी।

अतिथियों को मुख्यमंत्री आवास से 13 किमी पहले रोका
इधर, कांग्रेस सरकार के वचन पत्र में शामिल नियमितीकरण का वादा याद दिलाने अतिथि विद्वान मुख्यमंत्री से मिलने छिंदवाड़ा पहुंचे। अतिथि विद्वान संघ के सह-सचिव राजेंद्र सेन ने बताया प्रदर्शन करने जा रहे विद्वानों को मुख्यमंत्री आवास से 13 किमी पहले पुलिस ने पकड़ कर वैन में बैठा दिया। जबकि हमारे पास धरना-प्रदर्शन एवं भूख-हड़ताल की अनुमति है। पुलिस शहर से 40 किमी दूर हमें वैन से ले गई। उन्होंने कहा जब तक हमारी मांग पूरी नहीं होती है तब तक हम हड़ताल समाप्त नहीं करेंगे। छिंदवाड़ा में हड़ताल करने वालों में खंडवा से महिमा वाजपेयी, डॉ.एससी अवस्थी, डॉ.अशोक कोचले, डॉ.जनेश्वर यादव, ज्योति चौधरी, गोपालदास नायक, श्रवण तिवारी, पार्वती भावरे सहित अनेक पदाधिकारी शामिल हैं।

विवि की परीक्षा में बाबू की लगाई ड्यूटी
अतिथि विद्वानों के हड़ताल पर जाने के कारण शिक्षण व्यवस्था पर असर पड़ा। विवि की परीक्षाओं में कॉलेज के बाबुओं की भी ड्यूटी लगानी पड़ी।
डॉ.मुकेश जैन, प्रभारी प्राचार्य, एसएन कॉलेज

 
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना