खंडवा / मिर्ची गैंग पकड़ाई, व्यापारी व बदमाशों की 5 माह पहले हुई थी दोस्ती, 70,100 रु. व बाइक जब्त



Khandwa police arrested five accused of robbery
X
Khandwa police arrested five accused of robbery

  • ट्रेनों में अवैध खाद्य सामग्री बेचने व लकड़ी चोरी करने वाले आरोपियों ने ही की थी लूट 
  • चार आरोपी गिरफ्तार, एक अब भी फरार

Dainik Bhaskar

Aug 14, 2019, 12:22 PM IST

खंडवा. आंखाें में मिर्च पावडर डालकर लूटने वाली गैंग के चार बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी ट्रेनों में अवैध रूप से खाद्य सामग्री बेचते व लकड़ी चोरी करते हैं। जबकि एक आरोपी किराना व्यवसायी है। पांचवां आरोपी फरार है। वारदात के समय आरोपी साथ में मोबाइल नहीं रखते थे। मंगलवार रात एसपी डॉ. शिवदयालसिंह व एसडीओपी घनश्याम बामनिया ने मांधाता व धनगांव के पास हुई लूट की वारदातों का खुलासा किया। 


हरबंशपुरा-बखरगांव के बीच व इनपुन पुनर्वास के पास हुई लूट हुई थी। जांच कर रही पुलिस टीम को जानकारी मिली कि ग्राम अटूटखास अनुज विश्नोई का इन दिनों रहन-सहन बदल गया है। उसकी दुकान पर भगवानपुरा का शिवा और उसके साथी आते-जाते हैं। वारदात के पहले संदिग्ध युवक कई बार अनुज से मिलने आए। घटना वाले दिन 15 जून शनिवार को भी भगवानपुरा का शिवा पिता सीताराम बंजारा देखा गया था। 
पुलिस टीम ने अनुज को पूछताछ के लिए उठाया। इस दौरान आरोपी ने अपने साथी रोहित उर्फ मिच्छू पिता सुखदेव उर्फ भूरा कोली, प्रदीप उर्फ भैय्यू पिता सरदार उर्फ भूपेंद्र भील निवासी संजय नगर खंडवा, शिवा पिता सीताराम बंजारा, चेतन पिता खलियानाथ निवासी सूरजकुंड खंडवा के साथ मिलकर लूट करना बताया। आरोपियों से अब तक लूट के 70100 रुपए व एक बाइक, मोबाइल व फालिया जब्त की है। 

 

फलिया से हमला कर लूटा 
आरोपियों ने 15 जून की रात 10.30 बजे सनावद के किराना व्यवसायी विनिश पिता मदनलाल जैन (42) निवासी कोर्ट के पास सनावद अपने ड्रायवर मनीष व हेल्पर धर्मेन्द्र के साथ सुलगांव, पुनासा, मोहना तरफ किराना सामान देकर बकाया राशि व्यापारियों से वसूल कर अपने मिनी ट्रक से वापस सनावद की ओर जा रहे थे। तभी मोहना से निकलते समय बदमाशों ने वाहन रोका बखरगांव-हरवंशपुरा के बीच वाहन रुकते ही ड्राइवर मनीष की आखों में मिर्ची डाल दी। हेल्पर धमेंद्र को फालिया मार दिया। विनिश जैन से 4.50 लाख रुपयों से भरा हुआ बैग छीन लिया। धनगांव पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 394 के तहत केस दर्ज किया। 


बीज व्यवसायी की आंखों में मिर्च डालकर लूटा

मांधाता थाना क्षेत्र के इनपुन पुनर्वास स्थल पर 20 जुलाई की रात 9.40 बजे खाद-बीज व्यवसायी प्रेमलाल गुर्जर जो कि अपनी दुकान बंद कर सनावद से अपने गांव भोगांवा जा रहे थे। इनपुन पुनर्वास स्थल पर 4 बाइक सवार बदमाश प्रेमलाल की आंखों में मिर्च डाल दी। गले में टंगा हुआ बैग जिसमें 1.5 लाख रुपए रखे थे। लूटकर ले गए। वारदात के बाद पुलिस टीम ने संदेहियों की तलाश शुरू की। इस दौरान मुखबिर ने जानकारी दी कि अनुज विश्नोई वारदात में शामिल हो सकता है। यहीं से वारदात का सुराग मिला। 


ऐसे तैयार हुई मिर्ची गैंग... 
मुख्य आरोपी शिवा बंजारा ट्रेनों में अवैध खाद्य सामग्री बेचने के साथ ही लूट और चोरी की वारदात करता है। आरोपी चेतन, रोहित और प्रदीप ट्रेनों में चने व गुटखा-पाउच बेचते हैं। पांच महीने पहले इनकी मुलाकात शिवा से हुई। चारों की दोस्ती हो गई। शिवा चोरी की लकड़ी भी बेचता है। दरवाजा-खिड़की बनाने के लिए शिवा की मुलाकात अनुज विश्नोई के भाई से हुई। शिवा का अनुज की किराना दुकान पर आना-जाना शुरू हुआ। अनुज के यहां व्यापारी विनिश जैन किराना सामान देता था। अनुज को पता था कि बाजार वाले दिन शनिवार को कौन से व्यापारी के पास कितना माल रहता है। आरोपियों ने मिलकर लूट की साजिश रची। बदमाशों ने बताया कि वह लूट के रुपयों में महंगे कपड़े, मोबाइल खरीदना व महिलाओं पर खर्च करते थे। 


पुलिस टीम को 10-10 हजार का इनाम 
मामले का खुलासा करने में एसआई साइबर सेल यशवंत बड़ोले, धनगांव थाना प्रभारी सीताराम सोलंकी, प्रधान आरक्षक राधेश्याम, अारक्षक अयाजउर्रहमान, गुणाकेश, महेश, नितिन, जितेंद्र, सुनील, महेंद्र यादव, महेंद्र वर्मा, राजू का कार्य सराहनीय रहा है। एसपी ने दोनों टीमों को 10-10 हजार रुपए नकद राशि के ईनाम से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना