--Advertisement--

आंधी से बढ़ी मुसीबत, आवक बढ़ी

बुधवार दोपहर से बदलते मौसम ने समर्थन मूल्य खरीदी में किसानों व समितियों के साथ प्रशासन को मुसीबत में डाल दिया है।...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:30 AM IST
बुधवार दोपहर से बदलते मौसम ने समर्थन मूल्य खरीदी में किसानों व समितियों के साथ प्रशासन को मुसीबत में डाल दिया है। हवा-आंधी गुरुवार दोपहर 3 बजे तक भी जारी रही। मौसम को देखते हुए मंडी परिसर में ट्रैक्टर-ट्रॉलियों के प्रवेश को लेकर किसानों में आपस में ही विवाद होने लगा। स्थिति इतनी गंभीर हो गई कि एसडीएम जगदीश मेहरा, तहसीलदार एसआर यादव व एसडीओपी शशिकांत सरयाम को मोर्चा संभालना पड़ा।

एक किमी लंबी कतार

मंडी में समर्थन मूल्य खरीदी केंद्रों पर मिली सूचना के आधार पर गुरुवार को 200 ट्रॉली, 50 पिकअप और अन्य वाहनों के पहुंचने से मंडी गेट से लेकर सती माता मंदिर तक करीब एक किमी वाहनों की कतार लग गई। परिणाम स्वरूप मंडी परिसर में वाहनों की आवाजाही पूरी तरह थम गई। दोपहर 1 बजे अव्यवस्था के चलते परिसर में प्रवेश को लेकर किसानों के बीच विवाद की स्थिति बन गई। मंडी सचिव केएस खनूजा भी किसानों के आक्रोश का शिकार हुए। हालात यह बने कि पहले डायल 100 और उसके बाद मुख्यालय के आला अधिकारियों को मोर्चा संभालना पड़ा। मंडी सचिव केएस खनूजा ने बताया स्टाक परिवहन न होने के कारण परिसर में स्थान का अभाव हो गया है। नंबरिंग के पश्चात ही वाहनों को परिसर में प्रवेश दिया जा रहा है। अब स्थिति सामान्य है।

हरसूद मंडी परिसर के बाहर एक किमी तक ट्रैक्टर-ट्रालियों की कतार लग गई।