Hindi News »Madhya Pradesh »Khandwa »Khargon» वाट्सएप पर हाईकोर्ट का स्टे आर्डर एसडीएम नहीं माने, प्रमाणित दस्तावेज लाने में 40 मिनट लगे तब तक आधा ढहा दिया

वाट्सएप पर हाईकोर्ट का स्टे आर्डर एसडीएम नहीं माने, प्रमाणित दस्तावेज लाने में 40 मिनट लगे तब तक आधा ढहा दिया

नवग्रह मेले के पिछले हिस्से में भंडारी सर्विस सेंटर को 40 मिनट की कार्रवाई में आधा ढहा दिया। एसडीएम अभिषेक गेहलोत...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:25 AM IST

  • वाट्सएप पर हाईकोर्ट का स्टे आर्डर एसडीएम नहीं माने, प्रमाणित दस्तावेज लाने में 40 मिनट लगे तब तक आधा ढहा दिया
    +1और स्लाइड देखें
    नवग्रह मेले के पिछले हिस्से में भंडारी सर्विस सेंटर को 40 मिनट की कार्रवाई में आधा ढहा दिया। एसडीएम अभिषेक गेहलोत ने निर्माण में टीएंडसीपी प्रावधानों का पालन न करने पर भारी भरकम अमले के साथ कार्रवाई की। भंडारी सर्विस सेंटर के संचालक मोहनलाल पिता बाबूलाल भंडारी है। उनके बेटे वल्लभ भंंडारी ने वाट्सएसप पर हाई कोर्ट का स्टे ऑर्डर दिखाया। उनकी एक न चली। प्रमाणित दस्तावेज लाने तक दो जेसीबी से आधा सर्विस सेंटर ढहा दिया। भंडारी ने सोमवार दोपहर ही वकील से इंदौर से बस पर आर्डर की प्रमाणित कापी बुलवाई। इंदौर बस से आ रही सर्टिफाइड कॉपी को जल्दी लेने के लिए भंडारी ने बाइक से एक युवक को भेजा। 15 किमी दूर लोहारी के पास बस को रुकवाकर जल्दी से स्टे आर्डर की कॉपी लेकर पहुंचा तब कार्रवाई रोकी।

    15 मिनट का दिया समय, नहीं तो ढहा देते

    वल्लभ भंडारी ने 4.15 बजे एसडीएम से कहा मेरे वाट्सएप पर स्टे आर्डर है। प्रमाणित कापी इंदौर से आ रही है। 15-20 मिनट में पहुंच जाएगी। एसडीएम ने 15 मिनट कार्रवाई रोक दी। कर्मचारी सेंटर से सामान निकालने लगे। 4.30 तक कापी नहीं आई। एसडीएम ने कार्रवाई के आदेश दे दिए। दो जेसीबी तोड़ने में लगी।

    दो जेसीबी ने सर्विस सेंटर की छत को ढहाया।

    दो जेसीबी, 45 पुलिसकर्मी, 4 अफसर और 10 पटवारी व कोटवार लगाए गए थे कार्रवाई में

    एसडीएम गहलोद, तहसीलदार नरेंद्र यादव, नायब तहसीलदार प्रज्ञा गीते, एक एसडीओपी और दो टीआई थे कार्रवाई में

    2 जेसीबी, 45 पुलिसकर्मी, 10 पटवारी-कोटवार, 15 राजस्व के कर्मचारी शामिल थे कार्रवाई

    कार्रवाई के दौरान भंडारी ने एसडीएम से मंत्री से बात करानी चाही, लेकिन एसडीएम ने बात नहीं की

    4 बजे शाम को कार्रवाई शुरू की, 4.15 बजे रोकी, 4.30 पर फिर से कार्रवाई, 4.40 स्टे कॉपी देखने के बाद लौटे अफसर

    कार्रवाई का खर्च करीब 15 हजार रुपए भी प्रशासन भंडारी बंधुओं से वसूलेगा

    सात दिन का नोटिस, 28 को मिला स्टे आर्डर

    एसडीएम के मुताबिक औरंगपुरा क्षेत्र की पटवारी हल्का नंबर 42 के खसरा नंबर 18/3 की दो एकड़ जमीन मोहनलाल पिता बाबूलाल भंडारी की है। वे यहां वाहनों की सर्विसिंग करते हैं। इसका डायवर्शन तो कराया है, लेकिन टाउन एंड कंट्री प्लानिंग की शर्तों का उल्लंघन किया है। 7 दिन पहले नोटिस दिया था। सेंटर से सामान हटा लेने के निर्देश थे। इसके विरुद्ध वे हाईकोर्ट चले गए। स्टे आर्डर 28 अप्रैल को मिला। प्रमाणित कॉपी में समय लगा।

    दुर्भावनावश कार्रवाई

    कार्रवाई दुर्भावना से प्रेरित है। स्टे आर्डर 28 अप्रैल को मिल गया। वकील के माध्यम से तहसीलदार को जानकारी देने के बावजूद कार्रवाई की। हम कोर्ट की कॉपी दिखा रहे हैं, लेकिन प्रशासन ने नहीं माना। - वल्लभ भंडारी, संचालक भंडारी सर्विस सेंटर

    टीएंडसी प्लानिंग के नियमों के विपरीत निर्माण था। 7 दिन पहले ही नोटिस दिया गया था। हाईकोर्ट के स्टे की सर्टिफाइड कॉपी दिखाने के बाद ही शाम 4.40 बजे पर कार्रवाई बंद कर दी गई। - अभिषेक गेहलाेत, एसडीएम

    इधर...नवग्रह मेला मैदान पर तीन दिन में 10 फीट ऊंची हो गई बाउंड्रीवाल

    नवग्रह मेला मैदान पर नए कलेक्टोरेट की पार्किंग के लिए 126 साल पुराने धार्मिक व सामाजिक समरसता के नवग्रह मेले की जमीन पर दीवार बनाने का विरोध उठा है। इससे मेला क्षेत्र की करीब तीन एकड़ भूमि प्रभावित हो रही है। विधायक व श्रम राज्य मंत्री के हस्तक्षेप के बाद भी निर्माण नहीं रोका गया। सकल हिंदू समाज प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर दोषियों पर कार्रवाई की मांग करते आंदोलन की चेतावनी दी है। पदाधिकारियों का कहना है तीन दिन में 10 फीट ऊंची दीवार बना दी गई है। सुबह तेज गति से काम चलता है। विहिप जिलाध्यक्ष दीप जोशी ने कहा 1962 में करीब 39 एकड़ जमीन श्री नवग्रह मेला के लिए अधिग्रहित की गई थी। कलेक्टोरेट पार्किंग के लिए तीन एकड़ जमीन हथियाकर मेले के अस्तित्व को समाप्त करने का षडयंत्र किया जा रहा है। आज कलेक्टोरेट के लिए जमीन ले रहे हैं। आगे उद्योग-धंधे व शराब दुकानें खुलवाने की कार्रवाई करेंगे।

    रघुवंशी परिवारों ने सौंपी थी जमीन-मामले से आरएसएस मालवा प्रांत प्रचारक बलराम पटेल, विहिप मालवा प्रांत संगठन मंत्री ब्रजकिशोर भार्गव, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह भोपाल व प्रदेश भाजपा संगठन महामंत्री सुहास को भी अवगत कराया है। पत्र के मुताबिक कई साल पहले नत्थूसिंह गोकुलसिंह रघुवंशी, गोकुलसिंह शंकरसिंह रघुवंशी खरगोन सहित अन्य कृषक परिवारों ने मेले के लिए करीब 39 एकड़ भूमि शासन को सौंपी थी। इसके पास डाक बंगला स्थल पर लोक निर्माण विभाग परियोजना क्रियान्वयन इकाई खरगोन द्वारा 13 करोड़ 71 लाख रुपए की लागत से नए कलेक्टोरेट भवन का निर्माण हो रहा है। इसके पास श्री नवग्रह मेला की करीब तीन एकड़ भूमि पर शासन-प्रशासन ने कब्जा जमा लिया।

    सुबह तेज गति से चलता के निर्माण।

    20 से ज्यादा समाजों के प्रतिनिधि विरोध में उतरे

    विहिप मालवा प्रांत प्रचार प्रसार प्रमुख दीपक कानूनगो ने बताया सकल हिंदू समाज ने मेला मैदान की जमीन से बाउंड्रीवाल हटाने की मांग की है। हिंदू जागरण मंच के विभाग संयोजक डालूराम पाटीदार ने कहा जरूरत हुई तो जनआंदोलन करेंगे। भावसार क्षत्रिय समाज के प्रांतीय अध्यक्ष सुरेश भावसार, रघुवंशी समाज खरगोन के अध्यक्ष बाबूलाल रघुवंशी, श्री बीसा नीमा महाजन समाज खरगोन अध्यक्ष वृंदावन बजाज, सर्व ब्राह्मण समाज खरगोन अध्यक्ष सुनील शर्मा, शिवडोला समिति अध्यक्ष नवनीत भंडारी, धर्म जागरण नगर संयोजक सचिन तोमर, राष्ट्रवादी अांबेडकर विचार मंच के चंद्रशेखर भालसे, पूर्व संगठन मंत्री पवन सेन, श्री पूर्णानंद सेवा संस्थान के अजय भट्ट, कुमावत मारू समाज के हीरालाल चांदौरे, कहार-मांझी समाज के रितेश वर्मा, मेला व्यापारी संघ के बिहारी काका वर्मा, प्रदीप कोठे, राजू सोनी, विवेक निगम, भाजपा जिला महामंत्री मयाराम पाटीदार, शिवसेवा जिलाध्यक्ष राजू शर्मा, सहित अनेक समाज व संस्था प्रमुखों ने तत्काल रोकने को कहा।

  • वाट्सएप पर हाईकोर्ट का स्टे आर्डर एसडीएम नहीं माने, प्रमाणित दस्तावेज लाने में 40 मिनट लगे तब तक आधा ढहा दिया
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Khargon

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×