खरगोन

--Advertisement--

जोधपुर में होगा तीन वर्षीय हैंडलूम का डिप्लोमा, हाईस्कूल की योग्यता जरूरी

भारतीय हाथकरघा प्रौद्योगिक संस्थान जोधपुर राजस्थान में शुरू होने वाले हैंडलूम टेक्नालॉजी के त्रिवर्षीय...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 05:05 AM IST
भारतीय हाथकरघा प्रौद्योगिक संस्थान जोधपुर राजस्थान में शुरू होने वाले हैंडलूम टेक्नालॉजी के त्रिवर्षीय डिप्लोमा कोर्स के लिए मप्र के लिए 10 स्थानों से आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं। जिला हथकरघा कार्यालय एवं प्रशिक्षण केंद्र के सहायक संचालक आरके सराफ ने बताया कोर्स के लिए आवेदक कक्षा 10वीं उत्तीर्ण, अंग्रेजी विषय जरूरी हो।

सामान्य वर्ग के लिए आयु 15 से 23 वर्ष व अजा व अजजा वर्ग के लिए 15 से 25 वर्ष होना अनिवार्य है। आवेदन पत्र आयुक्त हथकरघा एवं हस्तशिल्प मप्र भोपाल को 11 जून तक प्रस्तुत कर सकते हैं। विस्तृत जानकारी के लिए जिला हथकरघा कार्यालय एवं प्रशिक्षण केंद्र महेश्वर से संपर्क कर सकते हैं। आवेदन पत्र वेबसाइट www.mpgramodhyogglobl.gov.in/dep201/default.aspk से डाउनलोड कर सकते हैं।

बुनकरों को प्रोत्साहित करने के लिए होगा सम्मान- प्रदेश के हथकरघा क्षेत्र में उत्कृष्ट एवं परंपरागत संस्कृति का संरक्षण करने वाले बुनकरों को प्रोत्साहित करने के लिए मप्र शासन एवं कुटीर व ग्रामोद्योग मंत्रालय हथकरघा संचालनालय ने कबीर बुनकर प्रोत्साहन पुरस्कार देने का निर्णय लिया है। जिला हथकरघा कार्यालय एवं प्रशिक्षण केंद्र के सहायक संचालक ने बताया योजनांतर्गत प्रदेश के बुनकरों द्वारा उत्कृष्ट एवं परंपरागत आदि के चयन रंग समन्वय, रंग संयोजन, विशेष डिजाइन आदि के आधार पर सक्षम कमेटी द्वारा किया जाता है। चयनित प्रतिष्टियों को प्रथम पुरस्कार 1 लाख रुपए, द्वितीय पुरस्कार 50 हजार रुपए व तृतीय पुरस्कार 25 हजार रुपए के साथ प्रतीक चिन्ह व शाल, श्रीफल देकर सम्मानित किया जाएगा। योजना के लिए 15 जून तक जिला हथकरघा कार्यालय एवं प्रशिक्षण केंद्र महेश्वर में आवेदन कर सकते हैं।

X
Click to listen..