निवाली ब्लॉक में 1 हजार 725 हैंडपंप में से 557 बंद, जो चालू उनमें भी पानी कम

Badwani News - हैंडपंप भारी चलने से लोग मिलकर चला रहे है। 45 मीटर तक से हैंडपंप खींचते हैं पानी जानकारी के अनुसार एक हैंडपंप...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 09:21 AM IST
Thikari News - mp news 557 closed out of 1 thousand 725 handpumps in the niwali block which turned them down
हैंडपंप भारी चलने से लोग मिलकर चला रहे है।

45 मीटर तक से हैंडपंप खींचते हैं पानी

जानकारी के अनुसार एक हैंडपंप सामान्यतः 45 मीटर तक गहराई से पानी खींच लेता है, लेकिन जोगवाड़ा, घोडल्या पानी, बड़गांव, पिछोडी सहित अन्य गांवों में जल स्तर अधिक नीचे गिरने से एक्स्ट्रा डीप वेल पंप लगाए गए हैं। जो 60 मीटर गहराई से भी पानी खींच लेते हैं। इन हैंडपंपों में पार्ट्स काफी हेवी होने से भारी चलते हैं। इनका विशेष परिस्थिति में ही उपयोग किया जाता है। क्योंकि अधिक पाइप डलने के कारण बारिश में भी भारी चलते हैं।

25.80 मीटर, बड़वानी

18.86 मीटर, ठीकरी

24.80 मीटर, राजपुर

निजी बोर व कुओं से लोग ले रहे पानी

ब्लॉक के जिन गांवों में भी हैंडपंप बंद हुए हैं। वहां निजी बोर से लोगों को पानी दिया जा रहा है। साथ ही जहां संभव हो वहां सिंगल फेस की मोटर डालकर पानी की व्यवस्था की जा रही है। वहीं कुछ लोग अपने खेतों पर कुओं व ट्यूबवेल से पानी लाकर काम चला रहे हैं। सुबह से लोग पानी की जुगड़ा में लग जाते हैं। इससे लोगों को मजदूरी का भी नुकसान हो रहा है। महिलाओं व बच्चों को कड़ी धूप में भी पानी के लिए खेतों तक पहुंचना पड़ रहा है।

26.45 मीटर, पाटी

38.97 मीटर, सेंधवा

45.10 मीटर तक गिरा जल स्तर

पीएचई उपयंत्री प्रीतम डावर ने बताया पिछले साल बारिश कम होने से भू-जल स्तर 45.10 मीटर तक गिर गया है। जबकि 2018 में इन दिनों में निवाली ब्लॉक का भू-जल स्तर 43.18 मीटर पर था। इस बार दो मीटर अधिक गहराई में पहुंच जाने से कई ऐसे हैंडपंपों ने भी पानी छोड़ दिया है बीते साल चल रहे थे।

45.10 मीटर, निवाली

बारिश का पानी रोकने के लिए नहीं है तालाब

घोड़लिया पानी के बटनसिंह व कुश्मिया के अमित ब्रह्मणे ने बताया शासन केवल नए कूप खनन कर पानी हासिल करने की कोशिश करता है। जबकि क्षेत्र में बारिश का पानी रोकने के लिए तालाबों का अभाव बना हुआ है। यदि बरसाती नालों पर तालाब व छोटे-छोटे स्टाफ डेम बनाए जाएं तो कुछ हद तक भू-जल स्तर को ऊपर किया जा सकता है। अभी तालाब व स्टाफ डेम नहीं होने से जमीन के अंदर पानी की कमी हो गई है। लोगों ने तालाबों का निर्माण कर पानी की समस्या का स्थाई समाधान करने की मांग की।

हैंडपंपों में पाइप बढ़ाकर कर रहे हैं व्यवस्था


35.78 मीटर, पानसेमल

X
Thikari News - mp news 557 closed out of 1 thousand 725 handpumps in the niwali block which turned them down
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना