ब्रह्माकुमारी... भक्ति योग, राजयोग से ही परम शांति प्राप्त कर सकते हैं- गोपाल

Khandwa News - खंडवा | प्रत्येक संकल्पों में रचनात्मक शक्ति होती है। आप चाहे तो शुद्ध सकारात्मक पवित्र संकल्प करके सुख, शांति,...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:10 AM IST
Khandwa News - mp news brahmakumari bhakti yoga can get absolute peace from rajyog only gopal
खंडवा | प्रत्येक संकल्पों में रचनात्मक शक्ति होती है। आप चाहे तो शुद्ध सकारात्मक पवित्र संकल्प करके सुख, शांति, आनंद, शक्ति की अनुभूति कर सकते हैं। आप अशुद्ध, नकारात्मक, अपवित्र, संकल्पों की रचना करके जीवन को दुख, अशांति, तनाव समस्याओं से भर सकते हैं। आपके प्रत्येक संकल्प, बोल, कर्म भाग्य की रेखा तय करते हैं। बोल व कर्म के साथ संकल्प में बदला लेने की भावना, क्रोध की भावना है तो जीवन कभी भी सुख शांति से परिपूर्ण नहीं बन सकता है। मानव शाश्वत सुख शांति की चाहना में बाहरी कर्मकांड तो कर रहा है लेकिन आंतरिक मन के विचार शुद्ध नहीं होने से प्रार्थना पूजा का संपूर्ण लाभ नहीं मिल पा रहा है। गंगा दशहरा पर्व की पूर्व संध्या पर ब्रह्माकुमारी द्वारा आयोजित चिंतन शिविर में मानव जीवन की सुंदरता परम शांति विषय पर धार्मिक प्रभाग के कार्यकारी सदस्य नारायण भाई ने यह बात कही। गायत्री मंदिर के आचार्य गोपाल ने बताया अभ्यास व वैराग्य से ही मन को नियत्रिंत किया जा सकता है, जो गीता में बताया गया है। वेद शास्त्रों में मन को कंट्रोल करने के लिए अलग-अलग यम, नियम, आसन, प्राणायाम आदि बताए गए हैं। जो पुरातन समय से हमारे ऋषि-मुनियों ने साधना कर मानव कल्याण के प्रति यह सूत्र बताए हैं। भक्तियोग, कर्मयोग,राजयोग द्वारा ही वायु समान मन को कंट्रोल किया जा सकता है, उसी से परम शांति अनुभव कर सकते हैं। कार्यक्रम में पंडित नीलेश ने भी अपने विचार रखे। संचालन ब्रह्माकुमारी रंजना ने किया।

X
Khandwa News - mp news brahmakumari bhakti yoga can get absolute peace from rajyog only gopal
COMMENT