विज्ञापन

प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ रही है, अंकुश नहीं लगा तो हालात बेकाबू हो जाएंगे

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 04:07 AM IST

Khandwa News - नाथ ने कहा - कानून व्यवस्था पूरी तरह से नियंत्रण में है, अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा भास्कर न्यूज | भोपाल ...

Omkareshwar News - mp news law system is deteriorating in the state do not curb things will become uncontrollable
  • comment
नाथ ने कहा - कानून व्यवस्था पूरी तरह से नियंत्रण में है, अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा

भास्कर न्यूज | भोपाल

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को पहली बार मंत्रालय के एनेक्सी भवन में मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात की। चौहान ने नाथ से प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर चर्चा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपहरण की घटनाएं बढ़ रही हैं। मैने मुख्यमंत्री रहते साफ कर दिया था कि मध्यप्रदेश में डाकू रहेंगे या मैं। उस दौरान कई डकैत प्रदेश से चले गए थे। उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था या वे मारे गए थे। भाजपा शासन में नियंत्रित हुई डकैत समस्या दोबारा पैदा होने की आशंका है। इधर, नाथ ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से नियंत्रण में है। जहां भी अापराधिक घटनाएं हुई हैं, अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा।

चौहान ने कमलनाथ से मुलाकात के बाद मीडिया से चर्चा में कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर सीएम से बात हुई है। अपराधियों पर अंकुश लगाने की मांग की गई है। भाजपा सरकार के कार्यकाल में कानून व्यवस्था पूरी तरह से नियंत्रण में थी, जो अब चरमरा गई है। इस समय जो माहौल बना है वह अच्छा नहीं है। दिन-दहाड़े अपहरण की घटनाएं हो रही हैं। समय रहते डकैतों पर नियंत्रण नहीं किया गया तो वे दोबारा सिर उठा लेंगे। हमने अपने शासन में उन्हें खत्म कर दिया था। उन्होंने बताया कि इसके अलावा अन्य मुद्दों पर भी बात हुई है। ओला पीड़ित किसानों तक राहत राशि नहीं पहुंच पा रही है। पीड़ित किसानों की फसल का तत्काल सर्वे कराकर उन्हें राहत प्रदान की जाए। किसान कर्जमाफी योजना की विसंगति दूर की जाए। कर्जमाफी की स्पष्ट नीति बनाने का भी अनुरोध किया गया है।

बुधनी के विकास को लेकर भी हुई चर्चा

चौहान ने बताया कि सीएम से उन्होंने बुधनी विधानसभा की बात भी की। वहां हमने कई काम स्वीकृत किए थे, जिनमें से कई बंद हो रहे हैं। उनसे मांग की है कि भाजपा सरकार में जो विकास कार्य शुरू हुए थे, उन्हें जारी रखा जाए। पूर्व मुख्यमंत्री ने बताया कि आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित करने को लेकर चर्चा हुई है। ओंकारेश्वर में अद्वैत विद वेद संस्थान का काम जारी रखने की मांग की गई है। तत्कालीन भाजपा सरकार ने संस्थान के लिए 21 करोड़ रुपए का प्रावधान किया था। संतों के अनुरोध पर आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित करने का काम शुरू किया गया था।

पहली बार शिवराज पहुंचे एनेक्सी भवन के सीएम कक्ष में

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंत्रालय के 650 करोड़ रुपए की लागत से बने नए एनेक्सी भवन स्थित सीएम कक्ष में पहली बार पहुंचे। इससे पहले वे विधानसभा चुनाव के पहले मुख्यमंत्री रहते इस भवन का निरीक्षण करने गए थे। उल्लेखनीय है कि इस भवन की आधार आधार शिला चौहान ने ही रखी थी।

X
Omkareshwar News - mp news law system is deteriorating in the state do not curb things will become uncontrollable
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन