• Hindi News
  • National
  • Sendhwa News Mp News The Mla Has Yantri Said On The Phone Shut Me In The Room Start The Electricity Soon

विधायक ने सहा. यंत्री को फोन पर कहा- मुझे कमरे में बंद कर दिया है, बिजली जल्द चालू करें

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
विधायक शनिवार को शासकीय पीजी कॉलेज परिसर स्थित प्रियदर्शिनी पोस्टमैट्रिक छात्रावास की समस्याएं देखने गए। विद्यार्थियों ने दरवाजे और खिड़कियां टूटी होने, गलियारे में बिजली गुल रहने, पानी और जर्जर भवन की समस्याएं बताई। विधायक ने अफसरों को सुधार के निर्देश दिए। निरीक्षण के समय फाल्ट होने से छात्रावास की बिजली गुल हो गई। अंधेरे में ही निरीक्षण किया। इस पर विधायक ने सहायक यंत्री को फोन लगाकर कहा मुझे बच्चों ने कमरे में बंद कर दिया है, जल्दी बिजली चालू कराएं।

विधायक ग्यारसीलाल रावत सुबह 11.30 बजे छात्रावास पहुंचे। छात्रावास में खंडहर हो चुके कमरों का निरीक्षण किया। विद्यार्थियों ने कहा टंकी में लीकेज होने से पानी बह जाता है। उसी के पास नई टंकी का निर्माण किया गया है लेकिन उससे कनेक्शन नहीं जोड़ा गया। छात्रावास के अंदर गलियारे में लगे बल्ब खराब होने से छात्रावास में अंधेरा था। विधायक ने छात्रों के कमरों में जाकर देखा तो छत का प्लास्टर नीचे गिर रहा था। वहीं 50 छात्रों के लिए पलंग पर सिर्फ 25 गद्दे ही थे। शौचालय की सफाई लंबे समय से नहीं हो रही है। शौचालय का सेप्टिक टैंक भी फूटा हुआ था। विधायक ने जिम्मेदार अधिकारियों को फोन लगाकर बुलाया। मंडल संयोजक विनोद पाटीदार और छात्रावास अधीक्षक ताराचंद मंसारे छात्रावास में आए। विधायक रावत ने छात्रावास के कमरों के दरवाजे खिड़कियां देखी सभी टूटी-फूटी थी। छात्रावास परिसर में लगे लाइट भी बंद थे। भवन की लंबे समय से पुताई भी नहीं हुई थी। विद्यार्थियों ने कहा एक साल से ज्ञापन देकर शिकायत कर रहे हैं लेकिन समस्याओं का निराकरण नहीं हो पाया है। विधायक रावत ने अधिकारियों को पूरी मरम्मत करने की रिपोर्ट बनाकर सहायक आयुक्त को देने के निर्देश दिए। अधिकारियों को 15 दिन में निराकरण नहीं होने पर कार्रवाई करने की चेतावनी दी।

एक साल से समस्या बता रहे छात्र लेकिन कुछ नहीं हुआ, 50 सीटर छात्रावास में रहते हैं कॉलेज के छात्र
विधायक ने देखा कमरों की छत से प्लास्टर गिर रहा है।

भास्कर संवाददाता | सेंधवा

विधायक शनिवार को शासकीय पीजी कॉलेज परिसर स्थित प्रियदर्शिनी पोस्टमैट्रिक छात्रावास की समस्याएं देखने गए। विद्यार्थियों ने दरवाजे और खिड़कियां टूटी होने, गलियारे में बिजली गुल रहने, पानी और जर्जर भवन की समस्याएं बताई। विधायक ने अफसरों को सुधार के निर्देश दिए। निरीक्षण के समय फाल्ट होने से छात्रावास की बिजली गुल हो गई। अंधेरे में ही निरीक्षण किया। इस पर विधायक ने सहायक यंत्री को फोन लगाकर कहा मुझे बच्चों ने कमरे में बंद कर दिया है, जल्दी बिजली चालू कराएं।

विधायक ग्यारसीलाल रावत सुबह 11.30 बजे छात्रावास पहुंचे। छात्रावास में खंडहर हो चुके कमरों का निरीक्षण किया। विद्यार्थियों ने कहा टंकी में लीकेज होने से पानी बह जाता है। उसी के पास नई टंकी का निर्माण किया गया है लेकिन उससे कनेक्शन नहीं जोड़ा गया। छात्रावास के अंदर गलियारे में लगे बल्ब खराब होने से छात्रावास में अंधेरा था। विधायक ने छात्रों के कमरों में जाकर देखा तो छत का प्लास्टर नीचे गिर रहा था। वहीं 50 छात्रों के लिए पलंग पर सिर्फ 25 गद्दे ही थे। शौचालय की सफाई लंबे समय से नहीं हो रही है। शौचालय का सेप्टिक टैंक भी फूटा हुआ था। विधायक ने जिम्मेदार अधिकारियों को फोन लगाकर बुलाया। मंडल संयोजक विनोद पाटीदार और छात्रावास अधीक्षक ताराचंद मंसारे छात्रावास में आए। विधायक रावत ने छात्रावास के कमरों के दरवाजे खिड़कियां देखी सभी टूटी-फूटी थी। छात्रावास परिसर में लगे लाइट भी बंद थे। भवन की लंबे समय से पुताई भी नहीं हुई थी। विद्यार्थियों ने कहा एक साल से ज्ञापन देकर शिकायत कर रहे हैं लेकिन समस्याओं का निराकरण नहीं हो पाया है। विधायक रावत ने अधिकारियों को पूरी मरम्मत करने की रिपोर्ट बनाकर सहायक आयुक्त को देने के निर्देश दिए। अधिकारियों को 15 दिन में निराकरण नहीं होने पर कार्रवाई करने की चेतावनी दी।

छात्रावास के गलियारे में अंधेरा होने पर नाराजगी जताते विधायक।

विधायक रावत ने विद्यार्थियों से कहा- समस्या हो तो मुझे बताएं

विधायक रावत ने विद्यार्थियों से कहा किसी भी प्रकार की समस्या हो तो मुझे बताएं। मैं पूरी जानकारी का प्रारूप आपको भेज रहा हूं। उसमें कितने विद्यार्थी रहते हैं उनकी पूरी जानकारी भरकर मुझे दें। समस्या का निराकरण नहीं होने पर मुझे कभी भी कॉल करें। अधिकारियों को छात्रावास में विधायक, एसडीएम और तहसीलदार सहित अन्य विभागों के नंबर लिखवाने के निर्देश दिए, ताकि छात्रों को कोई भी परेशानी हो तो वह उन्हें बता सकें।

विधायक के जाने के बाद शुरू हुई सप्लाई

विधायक के निरीक्षण के दौरान खलवाड़ी मोहल्ले में फाल्ट होने से छात्रावास की बिजली बंद हो गई। विधायक रावत ने बिजली कंपनी के सहायक यंत्री शहर एसके नामदेव को कॉल करके कहा, छात्रावास की बिजली बंद है, मुझे बच्चों ने कमरे में बंद कर दिया है। मैं इनके बहकावे में छात्रावास आ गया। बिजली जल्दी चालू कराएं। छात्रावास परिसर में बंद पड़े बिजली के बल्ब को ठीक करने के लिए लाइनमैन भेजें। भविष्य में ऐसी शिकायत मिलना नहीं चाहिए। 15 मिनट में लाइनमैन अजय बिलवान ने आकर फाल्ट सही कर बिजली शुरू कराई। हालांकि तब तक विधायक निरीक्षण करके चले गए थे।

खबरें और भी हैं...