दादा दरबार की टिक्कड़ और ओंकारेश्वर प्रसादालय का भोजन फूड सेफ जोन घोषित होगा

Khandwa News - संयुक्त कंट्रोलर खाद्य एवं औषधीय प्रशासन विभाग भोपाल ने दिए सर्वे के निर्देश भास्कर संवाददाता| खंडवा ...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:10 AM IST
Khandwa News - mp news tikkad of dada darbar and omkareshwar prasadalaya39s food will be declared food safe zone
संयुक्त कंट्रोलर खाद्य एवं औषधीय प्रशासन विभाग भोपाल ने दिए सर्वे के निर्देश

भास्कर संवाददाता| खंडवा

तमिलनाडु के मीनाक्षी, गुजरात के सोमनाथ मंदिर और इंदौर के खजराना गणेश मंदिर की तर्ज पर श्री दादाजी दरबार का टिक्कड़ व ओंकारेश्वर के प्रसादालय का भोजन शुद्धता के मानदंडों पर खरा होगा। प्रशासन ने शुद्ध प्रसादी स्थान मानक का सर्टिफिकेट दिलाने की कवायद शुरू कर दी है। इसके लिए खाद्य एवं औषधीय प्रशासन दरबार व मंदिर का निरीक्षण कर एफएसएसएआई को प्रस्ताव भेजेगा। स्वीकार करने के बाद टीम मानकों के आधार पर दरबार व मंदिर प्रसादालय का निरीक्षण करेंगी। फिर सर्टिफिकेट जारी होगा।

डीके नागेंद्र, संयुक्त कंट्रोलर खाद्य एवं औषधीय प्रशासन विभाग भोपाल शनिवार को खंडवा पहुंचे। उन्होंने खाद्य सुरक्षा अधिकारी आशुतोष मिश्रा की बैठक ली। उन्होंने श्री दादाजी दरबार में भक्तों को बांटी जाने वाली प्रसादी व ओंकारेश्वर प्रसादालय के भोजन का सर्वे कर रिपोर्ट बनाने के निर्देश दिए। खाद्य सुरक्षा अधिकारी मिश्रा ने बताया निरीक्षण के बाद प्रस्ताव बनाकर भोपाल कार्यालय भेजेंगे। जहां से रिपोर्ट एफएसएसएआई नई दिल्ली भेजा जाएगा। एफएसएसएआई द्वारा फूड सेफ जोन की आगे की कार्रवाई बताने पर उसे पूरा कर क्लोजर रिपोर्ट दिल्ली भेजेंगे। इसके बाद एफएसएसएआई की टीम अंकों के आधार पर मौके का निरीक्षण करेंगी। इस पूरी प्रक्रिया में दो से ढाई महीने लग सकते हैं।

रोज 500 श्रद्धालु ग्रहण करते हैं टिक्कड़ प्रसाद

श्री दादाजी दरबार में प्रति दिन श्रद्धालुओं को टिक्कड़, दाल व खिचड़ी की प्रसादी का वितरित की जाती है। सप्ताह में एक दिन खिचड़ी व आचार का प्रसाद बांटा जाता है। हर दिन 350 से 500 श्रद्धालु प्रसादी ग्रहण करते हैं।

ओंकारेश्वर : रोज 400 भक्त पाते हैं प्रसादी

ओंकारेश्वर मंदिर ट्रस्ट द्वारा संचालित प्रसादालय में प्रतिदिन 300 से 400 भक्त भोजन प्रसादी ग्रहण करते हैं। दोपहर 12 से 3 बजे तक भोजन व शाम 7 से रात 10 बजे तक खिचड़ी का प्रसाद वितरण किया जाता है।

सुरक्षा व गुणवत्ता की समय पर होगी जांच

फूड सेफ्टी जोन में खानपान की गुणवत्ता व सुरक्षा पर ध्यान दिया जाता है। जोन में खाद्य पदार्थ का निर्माण करने वाले लोगों को हाइजीन मेंटेन करने के तरीके बताए जाएंगे। एफएसएसएआई द्वारा समय-समय पर जोन में मिल रहे प्रसाद व भोजन की जांच की जाएगी।

टिक्कड़ घोषित होगा फूड सेफ जोन


X
Khandwa News - mp news tikkad of dada darbar and omkareshwar prasadalaya39s food will be declared food safe zone
COMMENT