--Advertisement--

सिंगाजी परियोजना : लोड बढ़ाकर 660 मेगावाट तक पहुंचाया उत्पादन, ग्रिड को बिजली देना शुरू

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2018, 10:53 AM IST

4 अगस्त को कर दिया था फेस-2 की पहली यूनिट का लाइट-अप, 15 अगस्त के कार्यक्रम में सीएम करेंगे यूनिट का उल्लेख

Sant Singhji thermal power project update

खंडवा. बीड़ स्थित संत सिंगाजी ताप बिजली परियोजना के फेस-2 की पहली यूनिट के 4 अगस्त को लाइट-अप के बाद शनिवार से ग्रिड को बिजली देना प्रारंभ कर दिया गया है। इसके पहले शुक्रवार को पांच से छह बार टरबाइन ट्रिप करने से बिजली उत्पादन में बाधा पहुंची। बाधा को देखते हुए एलएंडटी पॉवर तथा एमपीपीजीसीएल के अफसर सिंगाजी की शरण में पहुंचे। समाधि पर मत्था टेका और हलुवा प्रसादी का भोग लगाकर बाधा दूर करने की कामना की। इसके बाद परियोजना पहुंचकर पुन: टरबाइन प्रारंभ की। इसके बाद दिनभर में 190 से 230 मेगावाट तक बिजली उत्पादन किया गया। देर रात लोड बढ़ाकर उत्पादन 660 मेगावाट तक ले जाने की बात कही गई। एमपीपीजीसीएल पीआरओ आरके मल्होत्रा ने बताया पिछले शनिवार को ही फेस-2 की पहली यूनिट का लाइट-अप कर दिया था, लेकिन बार-बार टरबाइन ट्रिप मार रही थी। शट-डाउन करना पड़ रहा था। कुछ अन्य फाल्ट भी आए, लेकिन शुक्रवार को सिंगाजी महाराज की कृपा से व्यवस्थित बिजली उत्पादन शुरू हो गया है।


15 अगस्त के कार्यक्रम में सीएम करेंगे उल्लेख : सिंगाजी परियोजना के फेस-2 से 660 मेगावाट बिजली उत्पादन 15 अगस्त से पहले हर हाल में करने का सरकार की ओर से दबाव था। क्योंकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वतंत्रता दिवस पर भोपाल के लाल परेड मैदान पर सरकार की उपलब्धियों में सिंगाजी परियोजना से बिजली उत्पादन को भी शामिल करने वाले हैं। इस कारण एमपीपीजीसीएल तथा एलएंडटी पॉवर को ताबड़तोड़ टरबाइन चालू कर बिजली उत्पादन करना पड़ा।


एक माह तक चलेगी टेस्टिंग : फेस-2 की पहली यूनिट से एक माह तक बिजली उत्पादन की टेस्टिंग की जाएगी। इस दौरान उत्पादित बिजली ग्रिड को दी जाएगी, लेकिन राशि आधी ही मिलेगी। 11 सितंबर से व्यावसायिक उत्पादन शुरू किया जाएगा।

X
Sant Singhji thermal power project update
Astrology

Recommended

Click to listen..