--Advertisement--

​जिस मुख्यमंत्री के पैर 14 साल से जमीन पर नहीं उतरे आजकल वह बस में सवार है : सिंधिया

बुरहानपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री पर साधा निशाना

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 08:31 PM IST

बुरहानपुर. जिस मुख्यमंत्री के पैर 14 साल से जमीन पर नहीं उतरे, जो उड़न खटोले और प्लेन में सवार होकर निकलते थे, वो आज-कल जन आशीर्वाद यात्रा के लिए बस में सवार है, ये बस भी मप्र परिवहन की बस नहीं है, ये गुजरात से पांच करोड़ की खरीदी बस है। बुधवार को बुरहानपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कही। उन्होंने कहा कि शिवराज की बस के अंदर मखमल का अालीशान सोफा है, शौचाालय है, टेलीविजन लगा है ताकि मुख्यमंत्री का मनोरंजन हो सकें, उसके अंदर एक बटन दबाया जाता है तो अंदर से आवाज के साथ ऊपर लिफ्ट निकलती है,जिसमें मुख्यमंत्री भगवान के रुप में प्रकट हो जाते है। मुझे समझ में नहीं आता ये जनता से आशीर्वाद लेने आए है या जनता को आशीर्वाद देने आए है।


बेमिसाल 14 साल में मप्र हो चुका है बेहाल
सिंधिया ने कहा कि भाजपा का नारा था 14 साल बेमिसाल, लेकिन मेरा मप्र बेहाल हो चुका है। वर्तमान में गरीब को खाना नहीं, किसान को पैसा नहीं, महिला को सुरक्षा नहीं, शिवराज जी को चिंता नहीं। किसानों को उनकी फसलों का उचित दाम नहीं मिलता, सोया, चना, कपास का दाम देख लो, जो पांच हजार रुपए कांग्रेस के जमाने में मिलते थे, आज 2 हजार रुपए भी नसीब नहीं होते। मंडी में मैसेज आता है तभी बुलाया जाता है। कतार लग जाती है। मंडी में हम्माल नहीं, तुलावटी नहीं। ये नकद राशि भी नहीं देते, सात दिन मंडी के चक्कर लगाने के बाद बैंक के चक्कर भी लगाना पड़ते है, हमने निर्णय लिया है कि कांग्रेस की सरकार बनेगी तो हर मंडी में नकद राशि से पैमेंट होगा।


यह भी कहा...

  1. फसल बीमा योजना, आपकी अनुमति के बिना, आपके खाते से पैसा काटा जाता है, 2 हजार 800 करोड़ रुपए निजी कंपनियों के हाथों में डाल दिया, लेकिन आज तक एक रुपया भी बीमा की राशि बुरहानपुर के किसानों के हाथों में नहीं आई, ऐसे धोखाधड़ी जो करते है, उनको सख्त से सख्त सजा देना चाहिए।
  2. रुपया तो हर दिन गिर रहा है, चार साल पहले जब रुपया डॉलर के मुकाबले 66 रुपए पर था तब नरेन्द्र मोदी कहते थे कि रुपया आईसीयू में है। मोदी जी अगर 66 रुपए के स्तर पर रुपया आईयूसी में है, तो अब 72 रुपए प्रति डॉलर पर तो यह कोमा में है।
  3. पावरलूम को जो 65 पैसे पर बिजली मिलती थी, आज शिवराज के जमाने में 8 रुपए केजी से ज्यादा मिल रही। जहां तक किसान की बात करें, मैं आया था बुरहानपुर, 65 करोड़ की राजीव गांधी ग्रामीण विद्युत योजना मैने दिलवाई थी।
  4. चंबल, नर्मदा, ताप्ती खोद दी, नर्मदा में तो सड़क बना दी। मै तो कहता हूं, जितना प्यार मप्र में किसान को खेत से है उतना ही प्यार भाजपा के नेताओं को रेत से है।
  5. नर्मदा सेवा यात्रा नहीं नर्मदा सर्वे यात्रा, क्योंकि दिन में होता था भ्रमण, रात को होता था अवैध खनन। इसलिए सचेत हो जाओ, अभी भी नहीं चेते तो वो दिन भी दूर नहीं आएगा, जब भाजपा के शासन में रेत भी राशन दुकान से मिलेगी।
  6. मैंने तो सोचा मुन्ना भाई केवल मुंबई बाॅलीवुड में होता है,लेकिन शिवराजसिंंह ने हमकों भी बता दिया कि ऐसे मुन्ना भाई मप्र में भी पैदा होते है।