सरकारी जमीन पर किया अतिक्रमण, अफसर समझाने गए तो की कहासुनी

Khargon News - तहसीलदार बोले- पहले नोटिस व समझाइश दी भास्कर संवाददाता | कसरावद छोटी कसरावद से करीब 1 किलोमीटर दूर नए पंचायत...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:35 AM IST
Badwah News - mp news encroachment on government land the officer went to convince if he heard
तहसीलदार बोले- पहले नोटिस व समझाइश दी

भास्कर संवाददाता | कसरावद

छोटी कसरावद से करीब 1 किलोमीटर दूर नए पंचायत भवन के पास सरकारी जमीन पर 4 लोगों ने अतिक्रमण कर मकान निर्माण शुरू किया। राजस्व विभाग ने नोटिस जारी किए लेकिन संबंधित लोग नहीं माने। अफसर समझाइश देने पहुंचे तो उनसे भी कहासुनी की। इसके बाद प्रशासन ने अतिक्रमण करने व शांति भंग करने के मामले में शुक्रवार को 4 लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवाया और आरोपियों को जेल भेज दिया। इस कार्रवाई के बाद शनिवार को भी राजस्व अमला पहुंचा। कुछ लोगों ने स्वेच्छा से अतिक्रमण हटा लिया। वहीं कुछ लोगों ने जल्द अतिक्रमण हटाने की बात कही तो अमला वापस लौट आया।

छोटी कसरावद में एनवीडीए विभाग को आवंटित और अन्य सरकारी जमीन पर अतिक्रमण बढ़ रहा है। छोटी कसरावद में हाईवे निर्माण की खबर के बाद पिछले एक सप्ताह से इसमें तेजी आई है। ग्रामीणों के अनुसार हाईवे निर्माण की खबर से अतिक्रमण करने वालों का नए स्थानों की ओर रुझान बढ़ा है। सड़क किनारे की जमीन बेचने पर अच्छे दाम मिलने की उम्मीद में अतिक्रमण किया जा रहा है। यहां गुमटियां व मकान बनाए जा रहे हैं।

कसरावद में भी सरकारी जमीन की चल रही खरीदी-ब्रिकी

नगर में भी सरकारी जमीन पर अतिक्रमण दिन-प्रतिदिन पैर पसार रहा है। बढ़ते अतिक्रमण को रोकने के लिए नप कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। कुछ लोग अतिक्रमण करने के बाद जमीन को बेच देते हैं और फिर दूसरे स्थान पर अतिक्रमण कर रहे हैं। कई बार अतिक्रमण को लेकर विवाद की स्थिति भी बन रही है। नगर के दोगावां-पीपलगोन रोड और खरगोन रोड पर बढ़ते अतिक्रमण से मार्ग संकरा होता जा रहा है। मंडलेश्वर रोड पर दुकानदारों के बाहर तक सामान रखने से आवागमन में दिक्कतें हो रही है। शांति समिति की बैठक में यह मुद्दा कई बार उठ चुका है लेकिन कार्रवाई नहीं हो रही है। लोगों ने कहा- नप, पुलिस व राजस्व विभाग को संयुक्त रूप से अतिक्रमण को लेकर कार्रवाई करना चाहिए।

...और इधर, हत्या के विरोध में सौंपा ज्ञापन, कार्रवाई की मांग

बड़वाह | मंदसौर में विश्व हिंदू परिषद के विभाग सहमंत्री युवराजसिंह की गोली मारकर हत्या करने के विरोध में शनिवार को विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, आरएसएस के कार्यकर्ताओं ने रैली निकाल कर राज्यपाल के नाम एसडीएम मिलिंद ढोके को ज्ञापन दिया। रैली में युवराज के हत्यारों को फांसी दो फांसी दो के नारे लगाते हुए कार्यकर्ता चल रहे थे। ज्ञापन के माध्यम से जिला कार्यवाहक विवेक भटोरे ने कहा मंदसौर में विश्व हिंदू परिषद के युवराज सिंह की गोली मारकर जो निर्मम हत्या हुई है यह एक सुनियोचित षड्यंत्र व सोची साजिश के तहत हुई है। अपराधी सरेआम हमला कर देश का कानून तोड़ रहे हैं। मप्र में पिछले 9 माह से जंगलराज शुरू हो चुका है। हिंदू संगठनों से जुड़े कार्यकर्ताओं की हत्या हो रही है। पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है। कमलनाथ सरकार पूरी तरह से अपराधियों का संरक्षण का कार्य कर रही है। जल्द से जल्द प्रशासन ने अपराधियों व सक्रिय गिरोह के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो विश्व हिंदू परिषद द्वारा चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा। जिसकी जवाबदारी शासन प्रशासन की रहेगी। दिलीप सकरोदिया, रितेश कौशल, निशांत सोनी, सन्नी कुवादे मौजूद थे।

समझाइश पर भी नहीं माने तो करवाया केस

राजस्व विभाग के अनुसार पहले अतिक्रमण करने वाले 4 लोगों को नोटिस से अल्टीमेटम दिया। इनके अलावा अन्य लोगों ने भी अतिक्रमण का प्रयास किया तो काम रुकवाया गया लेकिन 4 लोगों ने अतिक्रमण न हटाते हुए राजस्व अमले से ही कहासुनी की। मामला थाने तक पहुंचा। पुलिस ने शकील पिता सफी खान (30), वसीम पिता यूनुस खान व परसराम पिता मंशाराम (35) निवासी छोटी कसरावद और फारुख पिता वसीम अंसारी (30) निवासी महेश्वर के खिलाफ शांति भंग करने व सरकारी जमीन पर अतिक्रमण करने को लेकर धारा 151, 107, 116 में केस दर्ज किया। आरोपियों को जेल भेजा गया। शनिवार शाम तक भी इनकी जमानत नहीं हो पाई।

राजस्व की जमीन पर किया अतिक्रमण


Badwah News - mp news encroachment on government land the officer went to convince if he heard
X
Badwah News - mp news encroachment on government land the officer went to convince if he heard
Badwah News - mp news encroachment on government land the officer went to convince if he heard
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना