• Hindi News
  • Mp
  • Khargon
  • Khargon News mp news nimari chilli is sold in the name of tejas of guntur in delhi mumbai

दिल्ली-मुंबई में गुंटुर की तेजा के नाम से बिकती है निमाड़ी मिर्च

Khargon News - झिरन्या में खेती व ग्रेडिंग कर भेजते हैं, उपसंचालक बोले- महोत्सव में उपज की ब्रांडिंग दिलाएंगे एशिया में...

Feb 27, 2020, 08:20 AM IST
Khargon News - mp news nimari chilli is sold in the name of tejas of guntur in delhi mumbai

झिरन्या में खेती व ग्रेडिंग कर भेजते हैं, उपसंचालक बोले- महोत्सव में उपज की ब्रांडिंग दिलाएंगे

एशिया में आंध्रप्रदेश के गुंटुर की नंबर-1 मिर्च मंडी में हमारी निमाड़ी मिर्च तेजा के नाम से पहचानी जाती है। यह बेड़िया, झिरन्या, कसरावद व खरगोन क्षेत्र की चटख मिर्च है। यहां की बेड़िया मंडी में ऊंचे दाम न मिलने की बात बाहरी कारोबारी जानते हैं। पिछले पांच सालों से गुंटुर व महाराष्ट्र के मिर्च व्यापारी आदिवासी बहुल्य क्षेत्र झिरन्या के पिछोड़िया, मारूगढ़, आमड़ी और मुंडिया गांव में किसानों की खाली खेती की जमीन किराए पर लेकर खेती कराते हैं।

बाद में मिर्च की ग्रेडिंग व उसके डंठल निकालकर साफ-सफाई व पैकिंग कर दिल्ली व मुंबई भेजी जाती है। वे यहां के खेतों में स्थानीय किसानों की मदद से उपज तैयार कराते हैं। उसके बाद उसकी ग्रेडिंग व पैकिंग कर बाहरी बाजार में पहुंचा देते हैं। यह मिर्च आंध्रप्रदेश की तेजा प्रजाति की पहचान के नाम से बेची जाती है। विभाग भी मानता है कि हमारी मिर्च बाहर दूसरे ब्रांड के नाम से बेची जा रही है। लेकिन इस मिर्च महोत्सव से नई पहचान मिलेगी।

2 दिन शेष...

फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाने के देंगे अवसर

फेस्टिवल में विभिन्न कंपनियों को यहां मिर्च की उत्पादकता व उपलब्धता बताई जाएगी। साथ ही फूड प्रोसेसिंग इकाइयां स्थापित करने के लिए कंपनियों को आमंत्रित भी किया जाएगा।

झिरन्या में फसल ऋ ण मुक्ति कार्यक्रम कल

चिकित्सा शिक्षा, आयुष एवं संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ शुक्रवार को सुबह 11 बजे झिरन्या के कृषि उपज मंडी में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम में शामिल होंगी। मंत्री गुरुवार सुबह 11 बजे मंडलेश्वर कॉलेज के स्नेह सम्मेलन में शामिल होंगी। दोपहर 1 बजे आशापुर व शाम 5 बजे पिपलिया व शाम 6.30 बजे माल्याखेड़ी के बंडेरा के कार्यक्रमों में शामिल होंगी।

निमाड़ी मिर्च को मिलेगा नाम : उद्यानिकी विभाग

उद्यानिकी उप संचालक केके गिरवाल ने बताया किसान कई प्रजाति की फसल लगाकर अच्छी उपज भी लेते हैं, लेकिन हमारे निमाड़ी मिर्ची को वह नाम नहीं मिल पाता है, जो मिलना चाहिए। चिली फेस्टिवल-2020 से पहचान के साथ ब्रांडिंग मिलेगी। फेस्टिवल में बाजार व्यवस्था, नवीन तकनीक व मिर्च की बीमारियों के बारे में भी वैज्ञानिक बताएंगे।

आदिवासी झिरन्या क्षेत्र में ग्रेडिंग के बाद बाहर भेजते हैं मिर्च।

महोत्सव**

X
Khargon News - mp news nimari chilli is sold in the name of tejas of guntur in delhi mumbai

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना