शकरगांव सोसायटी के तीन साल के काम की होगी जांच

Khargon News - 535 किसानों का फसल बीमा नहीं किया था, खुलासे के बाद काटी थी प्रीमियम भास्कर संवाददाता | भीकनगांव/खरगोन भीकनगांव...

Nov 11, 2019, 06:41 AM IST
535 किसानों का फसल बीमा नहीं किया था, खुलासे के बाद काटी थी प्रीमियम

भास्कर संवाददाता | भीकनगांव/खरगोन

भीकनगांव तहसील की आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था शकरगांव के तीन साल के कामकाज की जांच होगी। इसके लिए जिला सहकारी केंद्रीय बैंक ने जांच अधिकारी नियुक्त किया है। जांच की प्रक्रिया सोमवार से शुरू होगी। संस्था ने इस साल 535 किसानों का प्रधानमंत्री फसल बीमा नहीं किया। दैनिक भास्कर ने इस मामले को प्रमुखता से उठाया। बैंक ने इसे गंभीरता से लिया। इसके बाद किसानों की प्रीमियम काटी गई।

साथ ही जांच के लिए स्थापना प्रबंधक अनिल कानूनगो को नियुक्त किया गया है। कानूनगो ने बताया सोमवार से शुरू होने वाली जांच में संस्था के पिछले तीन साल के कामकाज को देखा जाएगा। किसान सदस्यों को अपने ऋण खाते आदि की जांच करवाने के लिए सूचना पत्र और मुनादी के माध्यम से जानकारी दी जा चुकी है। जांच करीब एक माह तक चल सकती है।

बैंक और सोसायटी प्रबंधक हुए थे निलंबित

17 सितंबर को संस्था की साधारण सभा की बैठक हुई थी। प्रबंधक बलीराम यादव ने 1514 किसानों को ऋण देने, 979 किसानों की प्रीमियम जिला सहकारी केंद्रीय बैंक में जमा करवाने और 535 सदस्यों की 12 लाख रुपए प्रीमियम जमा नहीं होने की बात कही थी। इस पर संस्था से जुड़े किसानों ने हंगामा किया था। प्रबंधक से सवाल-जवाब करते हुए संस्था कार्यालय पर ताला लगा दिया था। उस समय जांच के लिए पहुंचे अफसरों ने ताला खुलवाने के साथ फसल बीमा नहीं होने को लेकर प्रबंधक के जिम्मेदार होने की बात लिखित में दी थी। इसके साथ भीकनगांव जिला सहकारी केंद्रीय बैंक प्रबंधक जगदीश पाटीदार, सोसायटी प्रबंधक बलीराम यादव व सुपरवाइजर देवराम राठौड़ को निलंबित किया गया था।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना