• Hindi News
  • Mp
  • Khargon
  • Sanavad News mp news shops closed down in the city by the traders themselves after getting open they were advised to close

शहर में व्यापारियों ने स्वयं ही बंद रखी दुकानें, खुली मिलने पर समझाइश देकर कराई बंद

Khargon News - श्रम विभाग द्वारा शहर में बुधवार को बाजार के अवकाश को लेकर बैठक रखी गई थी। इसके बाद बुधवार को शहर के आधे से अधिक...

Jan 16, 2020, 09:11 AM IST
Sanavad News - mp news shops closed down in the city by the traders themselves after getting open they were advised to close
श्रम विभाग द्वारा शहर में बुधवार को बाजार के अवकाश को लेकर बैठक रखी गई थी। इसके बाद बुधवार को शहर के आधे से अधिक व्यापारियों ने स्वयं ही नियम का पालन करते हुए दुकान बंद रखी थी। कई स्थानों पर दुकान खुली मिलने पर विभाग के अफसरों ने निरीक्षण कर दुकानदारों को समझाइश देकर दुकानें बंद कराई। बाजार पूरी तरह से बंद होने पर दिनभर लोगों में चर्चा होती रही।

बुधवार को सुबह से सराफा सहित अन्य स्थानों की दुकानें बंद रही। व्यापारियों ने बताया कि श्रम विभाग के नियमों का पालन करते हुए दुकानें बंद रखी है। इससे हमें भी एक दिन का अवकाश मिलेगा। इससे हम अपने परिवार के साथ समय बीता पाएंगे। कुछ व्यापारियों ने दुकानें खुली रखी थी। जो समझाइश के बाद बंद कर दी गई। श्रम विभाग के लेबर इंस्पेक्टर सनावद सपन गौरे ने बताया कि बैठक में सर्वसम्मति से जो नियम बनाए गए थे। उसका पालन करने के लिए सुबह शहर में निरीक्षण किया गया। इसमें अधिकतम दुकान बंद थी। कुछ व्यापारियों ने दुकानें खोल रखी थी। जिसे बंद कराकर नियमों का पालन करने की बात कही। इस बार सभी दुकानदारों को समझाइश दी गई है। आगामी सप्ताह से नियम का कड़ा पालन करते हुए संबंधित पर कार्रवाई भी की जाएगी।

नियम का पालन
लेबर इंस्पेक्टर गौरे ने कहा- बैठक में सर्वसम्मति से जो नियम बनाए थे उसका पालन करने के लिए निरीक्षण किया

पूरी तरह बंद रहा शहर का सराफा बाजार।

सराफा को छोड़ अन्य दुकानों का नहीं है संगठन

शहर में संचालित हो रही विभिन्न दुकान के व्यापारियों का संगठन नहीं है। शहर में मात्र सराफा व्यापारियों का ही संगठन है। ऐसे में बाजार को लेकर कोई भी चर्चा या नियमों का पालन कराने में कठिनाई होती है। व्यापारी महासंघ के अध्यक्ष आशीष चौधरी ने बताया संगठन बनने से दुकानदारों के हक की बात सभी लोगों के बीच में पहुंचती है। साथ ही सभी एकमत होकर किसी भी कठिनाई के खिलाफ मोर्चा खोल सकते हैं। बाजार संबंधित सूचनाओं का भी आसानी से आदान-प्रदान हो जाता है। इसके लिए सभी वर्ग के व्यापारियों का संगठन हर स्तर पर होना चाहिए।

पूरे शहर के व्यापारियों का था समर्थन

शहर में मुख्य बाजार बस स्टैंड से मोरटक्का चौराहा, सुभाष चौक, खरगोन रोड, जवाहर मार्ग सहित अन्य स्थानों पर लगता है। इसमें से सिर्फ खरगोन रोड पर दुकानदारों ने दुकानें बंद नहीं की थी। शेष सभी दुकानें बंद थी। इस नियम से बाहर होटल, मेडिकल, छोटी अन्य जरूरत की सामग्री की दुकानें बंद रखने को लेकर भी लोगों के मन में आशंका थी। सुबह यह दुकानें कुछ देर बाद दुकानदारों ने खोली।

खरगोन रोड पर दुकान बंद कराने की समझाइश देते लेबर इंस्पेक्टर गौरे।

अफसरों ने कहा- नगर में मजदूरों के हक के लिए बनाया नियम

अफसरों ने बताया कि सप्ताह में एक दुकान बंद रखने का उद्देश्य मजदूरों को उनका हक दिलाना है। पूरे सप्ताह दुकान खुले रहने से मालिक के कहने पर मजदूरों को दुकान आना पड़ता है। इससे गुमास्ता अधिनियम की अव्हेलना हो रही थी। मजदूरों को सप्ताह में एक दिन राहत दिलाने के उद्देश्य से बुधवार को दुकान बंद रखने की सहमति व्यापारी ने बनाई है। दुकानों पर काम करने के लिए बाल मजदूरों का उपयोग नहीं किया जाए। बाल मजदूरी पूरी तरह से प्रतिबंधित है। ऐसा पाया जाने पर संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में दुकानदार अपनी दुकानों पर पोस्टर लगाकर मजदूरों को भी जागरुक करें। साथ ही शासन के तय नियमों के अनुसार मजदूर का आवंटन व्यापारी करें।

Sanavad News - mp news shops closed down in the city by the traders themselves after getting open they were advised to close
X
Sanavad News - mp news shops closed down in the city by the traders themselves after getting open they were advised to close
Sanavad News - mp news shops closed down in the city by the traders themselves after getting open they were advised to close
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना