कलेक्टर ने साइकिल चलाकर मैकेनिक से पूछा- भारी क्यों चल रही है, छर्रों में ग्रिस किया या नहीं

Khargon News - शासकीय उत्कृष्ट स्कूल मैदान पर रविवार को साइकिल वितरण कार्यक्रम होगा। प्रभारी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा और...

Jul 14, 2019, 08:20 AM IST
Maheshvar News - mp news the collector asked the mechanic by bicycling why is he running grunted into pellets or not
शासकीय उत्कृष्ट स्कूल मैदान पर रविवार को साइकिल वितरण कार्यक्रम होगा। प्रभारी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा और संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ के हाथों तहसील क्षेत्र के विद्यार्थियों काे साइकिल वितरण होगा।

कार्यक्रम से पहले शनिवार दोपहर कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने स्कूल मैदान पर तैयार हो रही साइकिलों को देखा। एक साइकिल कलेक्टर ने स्वयं चलाकर भी देखी। लगभग 200 मीटर से अधिक का राउंड लगाकर कमियां भी निकाली। कलेक्टर ने साइकिल तैयार कर रहे मैकेनिक सलमान से पूछा- यह इतनी भारी क्यों चल रही है। बेरिंग-छर्रों में ग्रिस किया या नहीं। मैकेनिक ने कहा- साहब एक साइकिल तैयार करने की जो मजदूरी होती है उससे कम रुपए मिल रहे हैं। टारगेट भी पूरा करना है। कितनी साइकिलें तैयार हो रही है के जवाब में सर्व शिक्षा अभियान के अधिकारियों ने कलेक्टर को बताया कि 1100 साइकिलें बांटी जाएगी। वहीं मैकेनिक ने बताया 1361 साइकिलें बनाने का टारगेट है। मैकेनिक का जवाब सुनकर अधिकारी उसे देखने लगे।

कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने साइकिल चलाकर कमियां देखी।

तय कर लो कितनी दूर रहने वाले को साइकिल देना है

कलेक्टर ने पूछा साइकिल कितने किलोमीटर दूर रहने वाले विद्यार्थी को दी जाएगी। डीपीसी ने 2 किलोमीटर दूर रहने वाले विद्यार्थी को साइकिल देना बताया, वहीं बीआरसी ने 3 किलोमीटर दूर रहने वाले विद्यार्थी को साइकिल देने की बात कही। इस पर कलेक्टर ने कहा पहले आप दोनों तय कर लो कि कितने किलोमीटर दूर रहने वाले विद्यार्थी को साइकिल दी जाएगी। डीपीसी से यह भी पूछा कि साइकिल की इंट्री पोर्टल पर अब तक क्यों नहीं हुई। 15 जुलाई तक सभी साइकिलों का वितरण किया जाना है।

मंच स्थल व कक्षाएं भी देखी

कार्यक्रम को लेकर कलेक्टर ने मंच देखा। फिर स्कूल में लग रही आईआईटी, जेईई व एनआईटी कक्षाएं देखी। छत पर बने सौरमंडल को देखकर खुशी जाहिर की। कलेक्टर ने प्रभारी प्राचार्य आलोक श्रीवास्तव व व्याख्याता आरके शर्मा से कहा विद्यार्थियों को और क्या सुविधा दी जा सकती है इसकी जानकारी तैयार रखे ताकि बच्चों को और अच्छी शिक्षा की सुविधा दी जा सके। एसडीएम आनंदसिंह राजावत, व्याख्याता राकेश अत्रि, दीनानाथ यादव, जनशिक्षक तबरेज खेशगी, छात्रावास अधीक्षक कड़वा सावले, मनोज गोले मौजूद थे।

...और इधर, विद्यार्थियों को एक दिन बाद बांटना है, 1300 साइकिलें अभी तैयार ही नहीं हुई

विकासखंड के 12 संकुल में 1990 साइकिलों का वितरण होना था

कसरावद | कक्षा 6 से 12 तक बाहर से पढ़ने वाले विद्यार्थियों को सोमवार को साइकिल वितरण होना है। इस विकासखंड में भी 12 संकुल में 1990 साइकिलों का वितरण किया जाना था। लेकिन अब तक 1300 साइकिलें तैयार ही नहीं हो पाई है। अधिकारी अब जल्द साइकिलें तैयार करवाने की बात कह रहे हैं।

सरकारी अस्पताल के सामने मावि परिसर में एक माह से अधिक समय से हरियाणा की कंपनी साइकिलें तैयार कर रही है। अब तक 600 साइकिलें तैयार हो पाई है। असेंबल साइकिलें भी परिसर में पड़ी होने से टॉयर-ट्यूब खराब हो रहे हैं। शनिवार शाम 5 बजे हुई बारिश के दौरान भी साइकिलें व पार्टस खुले में ही पड़े थे।

स्कूल परिसर में रखे साइकिलों के पार्टस खोले भी नहीं गए है।

बैठकों में निर्देश- धरातल पर काम नहीं

15 जुलाई को साइकिलें वितरण को लेकर विभागीय अधिकारी बैठकें ले रहे हैं। लेकिन साइकिलें स्कूलों में ही नहीं पहुंचने से वितरण में देरी की आशंका है। बीईओ अनिल शर्मा ने बताया कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों को 1300 साइकिलें बांटी जाना है। अब तक 600 साइकिलें बांटी जा चुकी है। बीआरसी विभाग के माध्यम से कक्षा 6 से 8 तक 638 विद्यार्थियों को साइकिल दी जाना है। यह साइकिल 18 इंच की होगी। लेकिन कंपनी कर्मचारी पहले हायर सेकंडरी के विद्यार्थियों के लिए 20 इंच की साइकिलें तैयार कर रहे है। इसके बाद मावि के विद्यार्थियों की साइकिलें तैयार हो सकेगी। बीईओ का कहना है जल्द साइकिलें तैयार करवाकर स्कूलों तक भेजी जाएगी।

Maheshvar News - mp news the collector asked the mechanic by bicycling why is he running grunted into pellets or not
X
Maheshvar News - mp news the collector asked the mechanic by bicycling why is he running grunted into pellets or not
Maheshvar News - mp news the collector asked the mechanic by bicycling why is he running grunted into pellets or not
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना