गोदाम भेजने में देरी से 68 में से 41 खरीदी केंद्रों के खरीदे गेहूं का घट गया वजन

Khargon News - समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के बाद उपज का परिवहन चल रहा है। जिले के 41 खरीदी केंद्रों में तय मानक प्रति क्विंटल 0.25...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:15 AM IST
Khargon News - mp news the delay in sending the warehouse to 41 out of 68 purchase of wheat
समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के बाद उपज का परिवहन चल रहा है। जिले के 41 खरीदी केंद्रों में तय मानक प्रति क्विंटल 0.25 प्रतिशत या 250 ग्राम से ज्यादा मात्रा में गेहूं घटत के साथ पहुंच रहा है। शासन ने कुल खरीदी का 0.25 प्रतिशत या इससे ज्यादा घटत पर प्रबंधक से वसूली करने व केंद्र को अगले साल बंद कराने के निर्देश किए हैं।

जिले मंे सबसे ज्यादा गेहूं की घटत सेवा सहकारी संस्था चिरिया में 4.60 प्रतिशत रही। इससे इस केंद्र को बंद करा दिया है। जबकि 10 केंद्रांे मंे 0.33 प्रतिशत तक घटत होने से इनसे गेहूं की रािश जमा कराकर चालू करा दिया है। ऐसे ही बमनाला केंद्र में 350 क्विंटल उपज खरीदी हुई। परिवहन बाद गोदाम में तुलाई पर खरीदी का 3.5 क्विंटल गेहूं कम निकला। प्रबंधक देरी से परिवहन के कारण गिना रहे हैं। उनका कहना है पोर्टल पर ही खरीदी की जानकारी नहीं दिखने से गेहूं केंद्राें तक नहीं भेज पाए। निविदा देरी से होने से ट्रांसपोर्टरों ने देरी से गेहूं का परिवहन किया इसलिए केंद्रों पर ही गेहूं सूख गया।

सूखे से जूझने के बाद अब उपज गीला होने का खतरा

देरी के गिनाए ये कारण

उमरखली समिति के खरीदी केंद्र में 6 काउंटर पर गेहूं की तुलाई होती है।

दो दिनांे से मौसम में नमी व बूंदा-बांदी से गेहूं खुले में पड़े गेहूं के गीला होने का खतरा बन गया। इसको लेकर विपणन संघ के अफसरांे ने मंगलवार को खरीदी केंद्र का दौरा किया। विपणन संघ के अफसरांे ने किसानांे के खातांे मंे गेहूं खरीदी की डाली गई रािश की जानकारी सहकारी बैंकांे से मंगाई है। समर्थन मूल्य मंे गेहूं बेच चुके करीब 50 प्रतशित किसानांे के खातांे मंे रािश पहुंच गई है।

पहला - पोर्टल पर खरीदी शो नहीं होने से देरी से परिवहन

दूसरा - परिवहन ठेके में देरी से गर्मी में उपज सिकुड़ी

27 केंद्रों में गोदाम, 68 में चल रही खरीदी

जिले में समर्थन मूल्य में गेहूं की खरीदी के लिए बनाए 68 केंद्रांे में से 27 की खरीदी तो गोदाम में ही चल रही है। जबकि 41 खरीदी केंद्रों से परिवहन कर गेहूं गोदाम तक पहुंचाया जाता है। शुरुआती 5 दिनांे से शासन ने परिवहन के लिए ट्रांसपोर्टरांे से अनुबंध ही नहीं किया था। जब अनुबंध हुआ तो गेहूं धूप से सूखने लगा, इससे गेहूं की घट शुरू हो गई।

दावे के बावजूद 24 घंटे

में नहीं हुआ परिवहन

खरीदी केंद्र से 24 घंटे मंे परिवहन का दावा विपणन संघ व खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अफसर कर रहे हैं लेकिन खरीदी के बाद भी कई बार पोर्टल पर अपलोड नहीं होने से इसे परिवहन करना ही मुश्किल हो रहा है। 4-5 दिनांे तक खरीदी केंद्रांे मंे ही गेहूं रह जाता है। जिले मंे ज्यादातर केंद्रांे मंे यही परेशानी आ रही है।

संस्थाआंे में प्रति क्विंटल कम निकला गेहूं

बेड़िया 260 ग्राम

काटकूट 280 ग्राम

बागोद 360 ग्राम

बलवाड़ा 320 ग्राम

बडूद 330 ग्राम

कानापुर 290 ग्राम

जेठवाय 270 ग्राम

पीपलझोपा 320 ग्राम

चिरिया 4600 ग्राम

मार्केटिंग सोसायटी 130 ग्राम सनावद-बड़वाह

मार्केटिंग सोसायटी 310 ग्राम सनावद

राशि वसूली के आदेश जारी हुए हैं


X
Khargon News - mp news the delay in sending the warehouse to 41 out of 68 purchase of wheat
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना