नाबालिग बेटे को रोजगार दिलाने के नाम पर फंसाया, दोषियों पर हो कार्रवाई

Khargon News - फर्जी लाइसेंस बनाने के मामले में युवक के पिता ने शपथ पत्र पर वरिष्ठ अफसरों से की शिकायत भास्कर संवाददाता | सनावद...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 09:00 AM IST
Sanavad News - mp news the minor son has been implicated in the name of getting employment the action of the culprits
फर्जी लाइसेंस बनाने के मामले में युवक के पिता ने शपथ पत्र पर वरिष्ठ अफसरों से की शिकायत

भास्कर संवाददाता | सनावद

पिछले दिनों नपा से जारी फर्जी एनओसी के आधार पर बड़े के मांस विक्रय की दुकान संचालित करने के मामले में एक युवक को जेल भेजा। उसके पिता ने मंगलवार को शपथ पत्र देकर अफसरों से शिकायत कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने दो अन्य लोगों के नाम लेते हुए इस पूरे मामले में खुद के बेटे को निर्दोष बताए जाने की बात कहते हुए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

शपथ पत्र के माध्यम से वाहिद पिता रशीद खान निवासी इस्लाम पुरा वार्ड नंबर 4 ने बताया मेरा बेटा नावेद (19) साल हाई स्कूल तक शिक्षित व बेरोजगार रहने के कारण परेशान रहता था। नपा के पार्षद व दो अन्य लोगों ने मिलकर मेरे बेटे नावेद की मजबूरी का फायदा उठाकर उसे रोजगार देने के बहाने फर्जी अनापत्ति प्रमाण पत्र बना कर दिया। जिसके बदले पार्षद राजेंद्र परिहार में मेरे बेटे से बड़ी राशि भेंट में लेने का वादा किया था। मेरे बेटे ने पार्षद से नपा में नौकरी दिलवाने की बात कही। जिसे वह बहाने बनाता रहा लेकिन मेरे बेटे ने पार्षद के चुनाव में कार्यकर्ता के रूप में काम किया था। इसके लिए मेरे बेटे ने पार्षद पर हक जता कर कहा। आप की जो भी सेवा होगी। मैं करूंगा मुझे रोजगार से लगा दो। तो पार्षद में नावेद से कहा नौकरी से भी अच्छा काम है।

बड़े का मटन बेचना। जो सनावद में नहीं बिकता है। बड़वाह गोगांवा पर खरगोन में इसके लाइसेंस बने हुए हैं। इसका लाइसेंस खरगोन खाद्य विभाग से बनता है। उसका अनापत्ति प्रमाण पत्र नपा से बनेगा। जिसमें खर्चा आएगा। तो नावेद ने पार्षद से कहा भैया आप वह भी बनवा दो। जो भी सेवा होगी मैं करूंगा। मेरा लाइसेंस बन गया तो मैं आपको ऐसी भेंट दूंगा कि आपका दिल खुश हो जाएगा। पार्षद के इस बात से संतुष्ट होकर नपा कार्यालय से अनापत्ति प्रमाण पत्र बनाने के लिए एक कोरे कागज पर नावेद के हस्ताक्षर करा लिए और 2 दिन बाद नावेद को पार्षद ने नपा का अनापत्ति प्रमाण पत्र दिया। जिसका पत्र क्रमांक सवा शाखा 33 ब दिनांक 4 जनवरी 2018 है। अनापत्ति प्रमाण पत्र में मांस मटन बड़ा व छोटा विक्रय की दुकान लगाई जाती है। तो हमें कोई आपत्ति नहीं।

पार्षद ने दो साथियों के साथ मिलकर फंसाया

इस अनापत्ति प्रमाण पत्र के आधार पर पार्षद ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर खरगोन के खाद्य व औषधि विभाग से 5 वर्ष की अवधि का बड़ा व पाड़ा का मांस मटन विक्रेता लाइसेंस निजामी मटन शाप के नाम से 1 मार्च 2018 को पंजीयन क्रमांक 21418890000033 जारी किया। लाइसेंस के जारी होने के बाद मेरी मां का स्वास्थ खराब होने से इलाज के लिए मैं और मेरा बेटा 6 माह तक इंदौर में रहे। स्वस्थ होने पर मटन विक्रय की दुकान संचालन करने के लिए फरवरी माह में शुरुआत की। लाइसेंस के प्रति पुलिस थाने में जमा की थी। उस समय कुछ लोगों ने नपा को शिकायत की और मुख्य नपा अधिकारी ने 15 फरवरी 19 को सूचना पत्र नावेद पिता वाहित के नाम से जारी किया। जिसमें मटन बिक्री के लाइसेंस और उसके सभी दस्तावेज अवलोकन करने के लिए नपा कार्यालय में प्रेषित करने का आदेश दिया था। दस्तावेज नपा में जमा किए गए। तब पता चला पार्षद ने जो अनापत्ति प्रमाण पत्र नपा दिया था। वह फर्जी था। इसके बाद मेरे छोटे भाई की पार्षद के मोबाइल पर चर्चा हुई। जिसमें अनापत्ति प्रमाण पत्र के संबंध में चर्चा करते हुए मामले को दबाने और लाइसेंस निरस्त करने की बात कही गई। इस वॉइस रिकॉर्डिंग से स्पष्ट है कि मेरे बेटे को रोजगार देने के नाम पर एक बड़ी राशि की भेंट लेकर पार्षद व अन्य दो लोगों ने षड्यंत्र रच के फंसाया है। जिसकी जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की जाए।

X
Sanavad News - mp news the minor son has been implicated in the name of getting employment the action of the culprits
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना